हैदराबाद : कागिसो रबादा की अगुआई में तेज गेंदबाजों के तूफान से दिल्ली कैपिटल्स इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को यहां सनराइजर्स हैदराबाद को 39 रन से हराकर लगातार तीसरी जीत के साथ अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गया।

दिल्ली के 156 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सनराइजर्स की टीम कागिसो रबादा (22 रन पर चार विकेट), कीमो पाल (17 रन पर तीन विकेट) और क्रिस मौरिस (22 रन पर तीन विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 18 . 5 ओवर में 116 रन पर ढेर हो गई। सनराइजर्स ने अपने अंतिम आठ विकेट सिर्फ 15 रन जोड़कर गंवाए जिससे उसे लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा।

 सलामी बल्लेबाजों डेविड वार्नर (51) और जानी बेयरस्टा (41) ने उम्दा पारियां खेलने के अलावा पहले विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी भी की लेकिन इन दोनों के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज दोहरे अंक में भी नहीं पहुंच पाया।

इससे पहले दिल्ली की टीम खलील अहमद (30 रन पर तीन विकेट), भुवनेश्वर कुमार (33 रन पर दो विकेट) और राशिद खान (22 रन पर एक विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने सात विकेट पर 155 रन ही बना सकी। दिल्ली की टीम 13वें ओवर में तीन विकेट पर 110 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन अंतिम सात ओवर में 45 रन ही जोड़ सकी।

दिल्ली की ओर से कप्तान श्रेयस अय्यर ने सर्वाधिक 45 रन बनाए जबकि कोलिन मुनरो ने 40 रन का योगदान दिया। ऋषभ पंत ने भी 23 रन बनाए।


दिल्ली के इस जीत से आठ मैचों में पांच जीत से 10 अंक हो गए हैं और टीम दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। सनराइजर्स के सात मैचों में चौथी हार के बाद छह ही अंक हैं।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे सनराइजर्स को वार्नर और बेयरस्टा की जोड़ी ने सतर्क शुरुआत दिलाई। दोनों ने पावर प्ले में टीम का स्कोर बिना विकेट खोए 40 रन तक पहुंचाया। पावर प्ले में सिर्फ चार चौके और एक छक्का लगा जिसमें से वार्नर ने सिर्फ एक चौका मारा। बेयरस्टा ने कीमो पाल पर एक रन के साथ आठवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया।

रन गति में इजाफा नहीं कर पाने का असर हालांकि बल्लेबाजों पर दिखने लगा था और बेरयस्टा कीमो पाल की गेंद पर बड़ा शाट खेलने की कोशिश में कागिसो रबादा को कैच दे बैठे। उन्होंने 31 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।

चोट के बाद वापसी करते हुए सत्र में पहला मैच खेल रहे सनराइजर्स के कप्तान केन विलियमसन भी तीन रन बनाने के बाद पाल की गेंद पर मिड आफ पर रबादा के हाथों लपके गए। रिकी भुई भाग्यशाली रहे जब पांच रन के निजी स्कोर पर अमित मिश्रा की गेंद पर मुनरो ने लांग आफ पर उनका आसान कैच टपका दिया।

वार्नर ने 14वें ओवर में क्रिस मौरिस पर दो चौकों के साथ 26 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। मिश्रा भी इसके बाद अपनी ही गेंद पर वार्नर का मुश्किल कैच लपकने में नाकाम रहे। वार्नर ने इस लेग स्पिनर की गेंद पर एक रन के साथ 15वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। सनराइजर्स को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 56 रन की दरकार थी।

भुई ने 12 गेंद में सात रन बनाने के बाद पाल की गेंद पर अक्षर को कैच थमाया। वार्नर ने रबादा की गेंद पर दो रन के साथ 46 गेंद पर अर्धशतक पूरा किया लेकिन अगली गेंद पर अय्यर को कैच दे बैठे। उन्होंने 47 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और एक छक्का मारा।

रबादा ने अगली गेंद पर विजय शंकर (01) को पंत के हाथों कैच कराया जबकि मौरिस ने दीपक हुड्डा (03), राशिद खान (00) और अभिषेक शर्मा (02) को लगातार गेंदों पर पवेलियन भेजा।

सनराइजर्स को अंतिम दो ओवर में 44 रन की दरकार थी लेकिन रबादा ने लगातार गेंदों पर भुवनेश्वर कुमार (02) और खलील (00) को आउट करके दिल्ली को जीत दिला दी। इससे पहले विलियमसन ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद खलील ने दोनों सलामी बल्लेबाजों पृथ्वी साव (04) और शिखर धवन (07) को चौथे ओवर तक पवेलियन भेज दिया।

खलील ने पृथ्वी को विकेटकीपर बेयरस्टा के हाथों कैच कराया जबकि धवन ने इस तेज गेंदबाज की बाउंसर को पुल करने की कोशिश में फाइन लेग पर भुवनेश्वर को कैच थमाया।

कोलिन मुनरो ने इस बीच आक्रामक तेवर अपनाए। उन्होंने संदीप शर्मा पर दो चौके जड़ने के बाद खलील की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा। मुनरो ने खलील के अगले ओवर में भी छक्के और चौके के साथ पावर प्ले में टीम का स्कोर दो विकेट पर 51 रन तक पहुंचाया।

मुनरो ने अभिषेक शर्मा (10 रन पर एक विकेट) का स्वागत छक्के के साथ किया लेकिन बायें हाथ के इस स्पिनर के इसी ओवर में विकेटकीपर बेयरस्टा को कैच दे बैठे जिससे अय्यर के साथ उनकी 49 रन की साझेदारी का अंत हुआ। उन्होंने 24 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और तीन छक्के मारे।

अय्यर और पंत ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने लेग स्पिनर राशिद पर चौके के साथ टीम का स्कोर 10 ओवर में तीन विकेट पर 87 रन तक पहुंचाया। अय्यर ने राशिद पर चौके के साथ 12वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया।

सनराइजर्स के गेंदबाजों ने इस बीच सधी हुई गेंदबाजी की जिससे दिल्ली पर दबाव बना। कप्तान अय्यर रन गति बढ़ाने की कोशिश में भुवनेश्वर की गेंद पर विकेटकीपर बेयरस्टा को कैच दे बैठे। उन्होंने 40 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके मारे और पंत के साथ 56 रन जोड़े। पंत भी अगले ओवर में खलील की गेंद पर दीपक हुड्डा को कैच दे बैठे। उन्होंने 19 गेंद में तीन चौकों की मदद से 23 रन बनाए।

सनराइजर्स के गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लगता है कि 13वें ओवर से 19वें ओवर के बीच दिल्ली के बल्लेबाज 34 गेंद तक बाउंड्री जड़ने में नाकाम रहे। राशिद ने इस बीच क्रिस मौरिस (04) को भी बोल्ड किया।

अक्षर पटेल (नाबाद 14) ने संदीप शर्मा पर चौके के साथ बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। कीमो पाल (07) ने अंतिम ओवर में भुवनेश्वर पर छक्के के साथ टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया लेकिन अगली गेंद पर पगबाधा हो गए।