दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने एकेडमिक ईयर 2018-19 में यूजी कोर्सेज में दाखिले के लिए पहली कटऑफ लिस्ट जारी हो गई है। यूनीवर्सिटी ने अपनी यह लिस्ट ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी की है। इस बार पिछले साल की तुलना में जरूरी न्यूनतम अंकों में गिरावट आई है। डीयू ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर यह लिस्ट जारी की है। वहीं नॉर्थ कैंपस के कॉलेजों की कट-ऑफ पिछले साल की तरह अन्य कॉलेजों की तुलना में अधिक रही।

लेडी श्री राम कॉलेज में बीए (प्रोग्राम) के लिए इस साल सर्वाधिक कट ऑफ 98.75 प्रतिशत गई है। दिल्ली कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स में पत्रकारिता में बीए (ऑनर्स) के लिए कट ऑफ 98.50 प्रतिशत जबकि एलएसआर कॉलेज में मनोविज्ञान में बीए (प्रतिष्ठा) के लिए कट ऑफ 98.25 प्रतिशत गई है। पिछले साल एसजीटीबी खालसा कॉलेज में इलेक्ट्रॉनिक्स में बीएससी (ऑनर्स) के लिए सबसे ज्यादा कट ऑफ 99.66 प्रतिशत गई थी।

इस साल, विज्ञान में सबसे ज्यादा कट ऑफ 98 प्रतिशत हिंदू कॉलेज में बीएससी (प्रतिष्ठा) के लिए रही। श्री गुरु तेग बहादुर खालसा कॉलेज में कंप्यूटर विज्ञान में बीएससी (ऑनर्स) के लिए कट-ऑफ 98 प्रतिशत रही। वहीं राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) में बीए इकनॉमिक्स (ऑनर्स) की कटऑफ में पिछले साल की तुलना में 0.25 फीसदी का इजाफा हुआ है। इस कॉलेज में इस साल सामान्य श्रेणी के स्टूडेंट्स को बीए इकनॉमिक्स (ऑनर्स) में दाखिले के लिए 98.50 फीसदी अंकों की जरूरत होगी।

पिछले साल एसआरसीसी में बीए इकनॉमिक्स (ऑनर्स) में दाखिले के लिए कटऑफ 98.25 फीसदी थी। गार्गी कॉलेज में अप्लाइड साइकॉलजी, इकनॉमिक्स और मैथमैटिक्स की कटऑफ सबसे ज्यादा (97 फीसदी) रखी गई।

किरोड़ीमल कॉलेज ने अर्थशास्त्र ऑनर्स की पहली कटऑफ 97.75 फीसदी रखी है जो बीते साल से 0.25 फीसदी अधिक है। बीकॉम ऑनर्स की कटऑफ भी पिछले साल के मुकाबले 0.25 फीसदी अधिक यानी 97.50 फीसदी है।

डीयू के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, जारी होने के बाद दाखिला पोर्टल पर कटऑफ देखी जा सकेगी। इसमें स्थान आने पर छात्र जरूरी दस्तावेज के साथ कॉलेज पहुंचकर अपना दाखिला ले सकते हैं। डीयू कुल पांच कटऑफ जारी करेगा। पहली कटऑफ में नाम आने पर छात्र दाखिला करा लें। यदि छात्र दाखिला नहीं लेते हैं तो दूसरी कटऑफ में सीट बचने पर ही ऐसे छात्रों को दाखिला दिया जाएगा।

हालांकि इससे पहले छात्रों को दाखिला पोर्टल पर ऑनलाइन इस संबंध में जानकारी लेनी होगी। साथ ही मूल दस्तावेज भी तैयार रखने होंगे। करीब करीब दस ऐसे कागजात हैं जिनकी दाखिले के समय जरूरत पड़ेगी। सबसे खास बात इन दस्तावेज की फोटो कॉपी भी छात्रों के पास होनी चाहिए।

 

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।