संसद में मॉनसून सत्र में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगाया।राहुल ने भाषण खत्म करने से पहले पीएम मोदी गले लगाया और हाथ मिलाया। मगर अब इस पर अलग-अलग लोगों की प्रतिक्रिया आने लगी है। मोदी सरकार में मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाए जाने पर कहा, “यह संसद है, ‘मुन्नाभाई’ का ‘पप्पी-झप्पी एरिया’ नहीं है…’

दरअसल, राहुल के संबोधन के दौरान तीखी नोंकझोक शुरू हो गई थी तो स्पीकर को कार्यवाही थोड़ी देर के लिए स्थगित करनी पड़ी। दोबारा कांग्रेस अध्यक्ष ने बोलना शुरू किया तो उन्होंने बताया कि अभी मुझे विपक्ष के सांसदों ने बधाई दी कि बहुत अच्छा बोले मगर मैं उस समय हैरान रह गया कि जब आपके (BJP और NDA) ही मेंबर ने हाथ मिलाकर कहा कि बहुत अच्छा बोले।

इसी समय राहुल गांधी हाथ का इशारा करते हुए बोल गए कि ये अकाली दल की नेता मुस्कुरा कर मुझे देख रही थीं। इस पर सदन में हंगामा शुरू हो गया और हंसी के ठहाके भी लगने लगे। हरसिमरत कौर बादल ने राहुल के इस बयान पर कड़ा विरोध जताया तो स्पीकर सुमित्रा महाजन ने उन्हें शांत कराया।

आपको बता दे कि अकाली दल की नेता ने उनके भाषण की तारीफ की और उन्‍हें देखकर मुस्‍कुराई। राहुल गांधी के इस बयान से केद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर भड़क गईं। उन्‍होंने राहुल गांधी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गले मिलने पर भी आपत्ति जताई। उन्‍होंने कहा, यह संसद है मुन्‍नाभाई के पप्‍पी झप्‍पी का एरिया नहीं है। हालां‍कि स्पीकर सुमित्रा महाजन ने उन्‍हें बैठने के लिए कहा कि बावजूद इसके हरसिमरत कौर बोलती रहीं और कहा कि विपक्ष के नेता ने उनका नाम लिया इसलिए उन्‍हें सफाई देने का मौका मिलना चाहिए।

जब रिपोर्टर ने हरसिमरत कौर बादल से सवाल किया कि राहुल ने पीएम मोदी को गले लगाया उस पर आपका क्या कहना है तो उसके जवाब में मोदी सरकार में मंत्री हरसिमरत कौर ने कहा कि अंदर सब ड्रामा था। जब मैंने उनका सारा ड्रामा देखा, उसके बाद सदन स्थगन के बाद उनकी मम्मी और उनकी तरफ देखकर मुस्कुरा कर मैंने पूछा कि हमको और पंजाबियों को नशा करने वाले, नशेड़ी बोलते हैं, आज कौन सा करके आए हैं, मैंने ये मुस्कुरा कर पूछा कि मगर उन्हें समझ तो आई नहीं। सिर्फ मुस्कुराहत दिखी। मगर मैं एक बार गई और फिर पूछा कि राहुल जी आज कौन सा करके आए हैं? मुझे क्या पता कि यह स्क्रिप्ट लिखी हुई थी, बॉलीवुड से लिखवाई थी, सीधे जाकर प्रधानमंत्री पर टूट पड़े।

फिर रिपोर्टर ने पूछा कि क्या आप ये कहना चाहती थीं कि वह कौन सा नशा करके आए हैं? तो उसके जवाब में हरसिमरत कौर कहती हैं कि ‘हां, हां, मैं यही पूछ रही थी। आज राहुल गांधी का ड्रामा देखा आपने, आपने भी देखा है 15 साल से। हमें जो नशेड़ी बोलते हैं, उऩसे मैं पूछ रही थी कि क्या खाकर आए हैं और क्या करके आए हैं?’

राहुल गांधी के प्रधानमंत्री से संसद में गले मिलने को उन्होंने स्क्रिप्टेड बताया। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले से लिखी हुई पटकथा के अनुसार ही राहुल गांधी प्रधानमंत्री के गले लगे हैं।

केंद्रीय मंत्री से जब सवाल किया गया कि आपके कहने का मतलब यह है कि राहुल नशा करके आए हैं तो उन्होंने कहा हां।