BREAKING NEWS

कमलेश तिवारी हत्याकांड की ATS ने 24 घंटे के भीतर सुलझायी गुत्थी, तीन षडयंत्रकर्ता गिरफ्तार◾FATF के फैसले पर बोले सेना प्रमुख- दबाव में पाकिस्तान, करनी पड़ेगी कार्रवाई◾हरियाणा विधानसभा चुनाव: भाजपा ने जवान, राफेल, अनुच्छेद 370 और वन रैंक पेंशन को क्यों बनाया मुद्दा?◾यूपी उपचुनाव: विपक्ष को कुछ सीटों पर उलटफेर की उम्मीद◾हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए आज थम जाएगा प्रचार, आखिरी दिन पर मोदी-शाह समेत कई दिग्गज मांगेंगे वोट◾INX मीडिया केस: इंद्राणी मुखर्जी का दावा- चिदंबरम और कार्ति को 50 लाख डॉलर दिए◾खट्टर बोले- प्रतिद्वंद्वियों ने पहले मुझे 'अनाड़ी' कहा, फिर 'खिलाड़ी' लेकिन मैं केवल एक सेवक हूं◾SC में बोले चिदंबरम- जेल में 43 दिन में दो बार पड़ा बीमार, पांच किलो वजन हुआ कम◾PM मोदी को श्रीकृष्ण आयोग की रिपोर्ट पर कार्रवाई करनी चाहिए : ओवैसी ◾हिन्दू समाज पार्टी के नेता की दिनदहाड़े हत्या : SIT करेगी जांच◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : राजनाथ ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा◾सपा-बसपा ने सत्ता को बनाया अराजकता और भ्रष्टाचार का पर्याय : CM योगी◾FBI के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल◾करतारपुर गलियारा : अमरिंदर सिंह ने 20 डॉलर का शुल्क न लेने की अपील की ◾प्रफुल्ल पटेल 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद ईडी कार्यालय से निकले ◾फडनवीस के नेतृत्व में फिर बनेगी गठबंधन सरकार : PM मोदी◾प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण ◾मोदी का विपक्ष पर वार : कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकारों ने केवल घोटालों की उपज काटी है◾ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी, सूरत से निकला ये कनेक्शन◾अमित शाह ने राहुल गांधी से पूछा, आदिवासियों के लिए आपके परिवार ने क्या किया ◾

Top News

केदारनाथ के बाद बद्रीनाथ पहुंचे मोदी, मंदिर के गर्भगृह में जाकर की भगवान विष्णु की आराधना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देव भूमि उत्तराखंड में मौजूद है, वही दूसरी ओर देश में लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान चल रहा है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ के बाद रविवार को बद्रीनाथ मंदिर में भगवान बदरी विशाल के दर्शन किये और पूजा अर्चना की। सुबह केदारनाथ के दर्शन करने के बाद प्रधानमंत्री बद्रीनाथ पहुंचे।

मंदिर परिसर में प्रवेश करने पर मंदिर के तीर्थ पुरोहितों ने उनका स्वागत किया। इसके बाद मोदी ने मंदिर के गर्भगृह जाकर भगवान विष्णु की आराधना की। मंदिर परिसर में बड़ी संख्या में श्रद्धालु और स्थानीय जनता मौजूद थी जिनका मोदी ने हाथ हिलाकर अभिवादन किया।

केदारनाथ मंदिर में पूजा अर्चना के बाद उन्होंने कहा, मेरा सौभाग्य रहा है की आध्यात्मिक चेतना की भूमि पर जाने का मुझे कई वर्षों से अवसर मिलता रहा है। यहां का मेरा जो डेवलपमेंट मिशन है उसमें प्रकृति, पर्यावरण और पर्यटन हैं। “मैं चाहता हूं कि हमारे देश के लोग देश को देखें। हालांकि, मुझे उनके विदेश जाने पर कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन उन्हें हमारे देश के विभिन्न स्थानों को देखने के लिए भी यात्रा करनी चाहिए।"

आगे उन्होंने कहा, "केदारनाथ के साथ मेरा विशेष संबंध रहा है। 2013 की प्राकृतिक त्रासदी के बाद, हमने केदारनाथ के पुन: विकास के लिए एक मास्टर-प्लान बनाया है।"पीएम मोदी सुबह गुफा से बाहर आने के बाद छड़ी के सहारे ऊबड़-खाबड़ पहाड़ी रास्ते पर पैदल चलते हुए मंदिर पहुंचे। इस दौरान रास्ते में उन्होंने बर्फ से ढंकी पहाड़ियों का नजारा लिया तथा कुछ क्षणों तक मंदाकिनी नदी के किनारे एक पत्थर पर भी बैठे रहे।

गौरतलब है की पीएम मोदी शनिवार को उत्तराखंड पहुंचे थे, जहां वह पारंपरिक पहाड़ी परिधान में विश्वप्रसिद्ध केदारनाथ धाम पहुंचे और उनका परिधान लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र रहा। उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र में 11755 फीट की उंचाई पर स्थित केदारनाथ में मोदी स्लेटी रंग का चोगा, पहाड़ी टोपी और कमर में केसरिया गमछे में नजर आये और हैलीपैड से केदारनाथ मंदिर तक का पैदल रास्ता उन्होंने पहाड़ी अंदाज में छड़ी लेकर तय किया।

संभवत: पहली बार पहने ऐसे लिबास में वह पूरी तरह से आध्यात्मिक रंग में रंगे नजर आये। पिछले दो साल में चौथी बार भोले के धाम केदारनाथ पहुंचे मोदी ने भगवान शिव की पूजा अर्चना और रूद्राभिषेक करने के बाद मंदिर की परिक्रमा की। इस दौरान उन्होंने बर्फ से ढंके सफेद पर्वत की चोटियों को भी निहारा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने केदारनाथ में मौजूद श्रद्धालुओं और स्थानीय जनता का प्रसन्न भाव से हाथ हिलाकर अभिवादन भी किया ।