BREAKING NEWS

मोदी ने जेटली को दी श्रद्धांजलि, सत्ता में आने के बाद गरीबों का कल्याण किया : प्रधानमंत्री मोदी◾जेटली के आवास पर तीन घंटे से अधिक समय तक रुके रहे अमित शाह ◾भाजपा को हर कठिनाई से उबारने वाले शख्स थे अरुण जेटली◾राहुल और अन्य विपक्षी नेता श्रीनगर हवाईअड्डे पर रोके गये, सभी को भेजा वापिस ◾अरूण जेटली का पार्थिव शरीर उनके आवास पर लाया गया, भाजपा और विपक्षी नेताओं ने दी श्रद्धांजलि ◾वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर प्रधानमंत्री ने कहा : मैंने मूल्यवान मित्र खो दिया ◾क्रिेकेटरों ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया ◾पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली का निधन : राजनीतिक खेमे में दुख की लहर◾प्रधानमंत्री मोदी द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिए UAE पहुंचे ◾बिहार के विवादास्पद विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली की अदालत में आत्मसमर्पण किया ◾सत्य और न्याय की स्थापना के लिए हुआ श्रीकृष्ण का अवतार : योगी◾अर्थव्यवस्था की रफ्तार बढ़ाने के लिए कई उपायों की घोषणा, एफपीआई पर ऊंचा कर अधिभार वापस ◾आईएनएक्स मीडिया मामला : चिदम्बरम ने उच्चतम न्यायालय में नयी अर्जी लगायी ◾विपक्ष के 9 नेताओं के साथ राहुल गांधी कल करेंगे कश्मीर का दौरा ◾TOP 20 NEWS 23 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर निर्मला सीतारमण बोली- भारत की आर्थिक स्थिति बेहतर◾सरकार के आर्थिक सलाहकारों ने भी माना कि संकट में है अर्थव्यवस्था : राहुल गांधी◾पेरिस में PM मोदी का संबोधन, बोले-हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं◾ईडी मामले में चिदंबरम को मिली राहत, 26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी◾एफएटीएफ के एशिया प्रशांत समूह ने पाकिस्तान को काली सूची में डाला◾

Top News

कांग्रेस ने विवादित बयान देने पर अपने विधायक को भेजा नोटिस

बेंगलुरू : कर्नाटक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं विधायक रोशन बेग ने एक्जिट पोल में दिखाये जा रहे पार्टी के प्रदर्शन को आधार बना कर पार्टी के खराब प्रदर्शन का ठीकरा मंगलवार को राज्य इकाई के प्रमुख पर फोड़ा और एआईसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल को ‘मसखरा’ बताया, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें कारण बताओे नोटिस थमा दिया है। बेग ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की आलोचना करते हुये कहा कि उन्होंने हिंदू समाज को ‘‘बांटा’’ है क्योंकि उन्होंने लिंगायत समाज को अलग धर्म का दर्जा देने का प्रयास किया और वोक्कालिंगा समुदाय को अपने कार्यकाल में ‘‘अपशब्द’’ कहे।

बेग ने मुसलमानों से कहा वे ‘‘हालात से समझौता करें (भाजपा नीत संप्रग की सत्ता में) और ‘‘मवेशियों’’ की तरह न रहें जिसे वोट बैंक के लिए हांका जाता है। उनकी इन टिप्पणियों से कांग्रेस की कर्नाटक इकाई को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है और उसने बेग की टिप्पणी पर कड़ा रुख दिखाते हुये उन्हें ‘‘कारण बताओ’’ नोटिस जारी किया है। नोटिस में कहा गया है कि बेग के बयानों को पार्टी विरोधी गतिविधि के रूप में काफी गंभीरता से लिया जा रहा है। बेग से एक सप्ताह के भीतर यह बताने के लिये कहा गया है कि उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई क्यों न की जाए।

राज्य कांग्रेस के महासचिव वी वाई घोरपड़े द्वारा हस्ताक्षर किये गए नोटिस में कहा गया है, जवाब नहीं देने पर आपके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। कर्नाटक में सत्तारूढ़ जनता दल एस के अध्यक्ष ए एच विश्वनाथ ने बेग की नाराजगी का स्वागत करते हुये कहा कि उनकी टिप्पणियां ‘सत्य’ हैं और ‘वास्तविक’ हैं। उन्होंने बेग का शुक्रिया अदा करते हुये कहा कि उन्होंने जो कहा है उसमें कुछ गलत नहीं है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुये कहा कि बेग की नाराजगी से राज्य की राजनीति को नयी दिशा मिल सकती है।

EVM की सुरक्षा पर प्रणब मुखर्जी भी चिंतित, कहा- भरोसा ना टूटने दे EC

भाजपा उन सभी का स्वागत करती है जो भगवा दल की विचारधारा का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि सत्य को और वास्तविक घटनाओं को छिपाया नहीं जा सकता है। बेग ने कहा था कि वेणुगोपाल जैसे ‘‘मसखरे’’ और सिद्धारमैया जैसी मनोवृत्ति और कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव के फ्लाप शो और इसका परिणाम (लोकसभा एक्जिट पोल) यह है। बेग की नाराजगी की वजह मुसलमानों को टिकट देने की कांग्रेस की नीति को भी माना जा रहा है।

कांग्रेस ने मौजूदा लोकसभा चुनाव में केवल एक मुसलमान रिजवान अरशद को ही टिकट दिया था जबकि इस समुदाय को तीन सीटें देने की मांग की जा रही थी। कांग्रेस को छोड़ने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्होंने कोई फैसला नहीं किया है। राव ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि अभी परिणाम नहीं आये हैं पर वे बयानबाजी कर रहे हैं। बेग इससे पहले राज्य मंत्रिमंडल में कांग्रेस के कोटे के मंत्रियों में शामिल न किए जाने पर भी नाराजगी जाहिर कर चुके है।