BREAKING NEWS

कस्टोडियल डेथ केस : बर्खास्त आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट को उम्रकैद◾सरकार मजबूत, सुरक्षित और समावेशी भारत बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है : राष्ट्रपति कोविंद ◾दाऊद से पूछताछ कर चुके अधिकारी का खुलासा, 'डॉन' ने कुबूल कर लिया था अपराध ◾लखनऊ में बड़ा हादसा : 29 बारातियों से भरा वाहन नहर में गिरा, 7 बच्चे लापता◾तीन दिन बाद फिर घटे डीजल के दाम, पेट्रोल स्थिर !◾PM मोदी पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कल पहुंचेंगे रांची ◾कांग्रेस तथा कुछ अन्य विपक्षी दल नहीं हुए बैठक में शामिल◾AAP ने विधानसभा अध्यक्ष से की BJP में शामिल हुए अपने 2 विधायकों को अयोग्य ठहराने की मांग ◾एक साथ चुनाव कराने पर विचार करने के लिए समिति गठित करेंगे प्रधानमंत्री : सरकार ◾AICC ने कर्नाटक कांग्रेस की वर्तमान कमेटी को भंग करने का किया फैसला - के सी वेणुगोपाल ◾मुखर्जी नगर हमला मामला : केजरीवाल ने उच्च न्यायालय की टिप्पणी का किया स्वागत ◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ का ज्यादातर पार्टियों ने किया समर्थन, वाम दलों और ओवैसी ने किया विरोध ◾मुखर्जी नगर मामले में उच्च न्यायालय ने कहा, दिल्ली पुलिस का हमला बर्बरता का उदाहरण ◾सनी देओल का चुनावी खर्च 70 लाख रूपये की सीमा से ‘ज्यादा’, नोटिस जारी◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर समिति बनाएंगे PM मोदी : राजनाथ सिंह◾Top 20 News - 19 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बच्चों की मौत मामला , हर्षवर्धन ने बिहार में 5 चिकित्सा टीमें भेजी ◾बिहार में AES से मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़ कर 115 हुई ◾संसद भवन में 'एक देश एक चुनाव' पर सर्वदलीय बैठक शुरू◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव' पर सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होगी कांग्रेस : सूत्र ◾

Top News

कांग्रेस ने विवादित बयान देने पर अपने विधायक को भेजा नोटिस

बेंगलुरू : कर्नाटक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं विधायक रोशन बेग ने एक्जिट पोल में दिखाये जा रहे पार्टी के प्रदर्शन को आधार बना कर पार्टी के खराब प्रदर्शन का ठीकरा मंगलवार को राज्य इकाई के प्रमुख पर फोड़ा और एआईसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल को ‘मसखरा’ बताया, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें कारण बताओे नोटिस थमा दिया है। बेग ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की आलोचना करते हुये कहा कि उन्होंने हिंदू समाज को ‘‘बांटा’’ है क्योंकि उन्होंने लिंगायत समाज को अलग धर्म का दर्जा देने का प्रयास किया और वोक्कालिंगा समुदाय को अपने कार्यकाल में ‘‘अपशब्द’’ कहे।

बेग ने मुसलमानों से कहा वे ‘‘हालात से समझौता करें (भाजपा नीत संप्रग की सत्ता में) और ‘‘मवेशियों’’ की तरह न रहें जिसे वोट बैंक के लिए हांका जाता है। उनकी इन टिप्पणियों से कांग्रेस की कर्नाटक इकाई को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है और उसने बेग की टिप्पणी पर कड़ा रुख दिखाते हुये उन्हें ‘‘कारण बताओ’’ नोटिस जारी किया है। नोटिस में कहा गया है कि बेग के बयानों को पार्टी विरोधी गतिविधि के रूप में काफी गंभीरता से लिया जा रहा है। बेग से एक सप्ताह के भीतर यह बताने के लिये कहा गया है कि उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई क्यों न की जाए।

राज्य कांग्रेस के महासचिव वी वाई घोरपड़े द्वारा हस्ताक्षर किये गए नोटिस में कहा गया है, जवाब नहीं देने पर आपके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। कर्नाटक में सत्तारूढ़ जनता दल एस के अध्यक्ष ए एच विश्वनाथ ने बेग की नाराजगी का स्वागत करते हुये कहा कि उनकी टिप्पणियां ‘सत्य’ हैं और ‘वास्तविक’ हैं। उन्होंने बेग का शुक्रिया अदा करते हुये कहा कि उन्होंने जो कहा है उसमें कुछ गलत नहीं है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुये कहा कि बेग की नाराजगी से राज्य की राजनीति को नयी दिशा मिल सकती है।

EVM की सुरक्षा पर प्रणब मुखर्जी भी चिंतित, कहा- भरोसा ना टूटने दे EC

भाजपा उन सभी का स्वागत करती है जो भगवा दल की विचारधारा का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि सत्य को और वास्तविक घटनाओं को छिपाया नहीं जा सकता है। बेग ने कहा था कि वेणुगोपाल जैसे ‘‘मसखरे’’ और सिद्धारमैया जैसी मनोवृत्ति और कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव के फ्लाप शो और इसका परिणाम (लोकसभा एक्जिट पोल) यह है। बेग की नाराजगी की वजह मुसलमानों को टिकट देने की कांग्रेस की नीति को भी माना जा रहा है।

कांग्रेस ने मौजूदा लोकसभा चुनाव में केवल एक मुसलमान रिजवान अरशद को ही टिकट दिया था जबकि इस समुदाय को तीन सीटें देने की मांग की जा रही थी। कांग्रेस को छोड़ने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्होंने कोई फैसला नहीं किया है। राव ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि अभी परिणाम नहीं आये हैं पर वे बयानबाजी कर रहे हैं। बेग इससे पहले राज्य मंत्रिमंडल में कांग्रेस के कोटे के मंत्रियों में शामिल न किए जाने पर भी नाराजगी जाहिर कर चुके है।