नई दिल्ली :  संसद के सेंट्रल हॉल में मंगलवार यानि आज को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर लगाई गई है। सदन के केंद्रीय कक्ष में लगने वाली यह 25वीं तस्वीर होगी। इस दौरान सदन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन समेत बड़े नेता मौजूद रहे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वाजपेयी के पोर्ट्रेट का अनावरण किया। इस मौके पर अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वाजपेयी जैसा व्यक्तित्व बहुत कम लोगों का होता है। विरोधियों को भी वे बड़े सहज तरीके से संभाल लेते थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वाजपेयी हमारे लिए हमेशा प्रेरणा का स्रोत रहेंगे।

जानकारी के लिए आपको बता दे कि संसद भवन के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू और इंदिरा गांधी के पोर्ट्रेट भी लगे हैं। और अब इस कड़ी में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का पोर्ट्रेट जोड़ा गया है। संसद के सेंट्रल हॉल को एक दिन पहले ही काफी सजा दिया गया था।

संसद भवन के सेंट्रल हॉल पोर्ट्रेट का खासा महत्व

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का यह पोर्ट्रेट लाइफ साइज का है। वृंदावन के चित्रकार कृष्ण कन्हाई ने इस फोटो को तैयार किया है। संसद भवन के सेंट्रल हॉल का खासा महत्व है। संसद की एक पोर्ट्रेट कमेटी होती है जो कि संसद भवन परिसर में किसी भी नेता या महापुरुष की चित्र या फोटो लगाने पर निर्णय लेती है। लोकसभा अध्यक्ष इस कमेटी का अध्यक्ष होता। विपक्षी पार्टियों सहित सत्ताधारी पार्टी के कई सांसद इसके सदस्य होते हैं। इस कमेटी ने ही 18 दिसंबर 2018 को वाजपेयी का लाइफ साइज फोटो लगाने का निर्णय लिया था।