छत्तीसगढ़ में हो रहे विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए राज्य के सभी राजनीतिक दलों ने अपनी ताकत झोंक दी है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नक्सल प्रभावित बस्तर में लोगों को संबोधित कर रहे है। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा की कांग्रेस शहरी नक्सलियों का समर्थन क्यों कर रही है जो एसी की सुविधा में रहते हैं, बड़ी गाड़ियों में यात्रा करते हैं और जिनके बच्चे विदेशों में पढ़ रहे हैं और वे खुद गरीब आदिवासी युवाओं के जीवन को बर्बाद कर रहे हैं।

मैं बस्तर के लोगों से कांग्रेस के नेताओं को एक उचित सबक सिखाने का आग्रह करता हूं, जो एक तरफ शहरी माओवादियों को ढालने की कोशिश करते हैं, और छत्तीसगढ़ में, वे राज्य को माओवादियों से मुक्त करने की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि 10 वर्षों तक कांग्रेस केंद्र में थी, लेकिन उन्होंने कभी छत्तीसगढ़ की जरूरतों पर ध्यान नहीं दिया और राज्य के लिए सभी विकास को अवरुद्ध कर दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि बस्तर की हर सीट पर कमल खिलना चाहिए, अगर और कोई आ गया तो बस्तर के सपनों में दाग लगा देंगे। हमें अटल जी के सपनों को पूरा करना है, इसलिए हम बार-बार छत्तीसगढ़ में आए हैं। छत्तीसगढ़ अब 18 साल का हो रहा है, इसलिए हम इसके सपनों को पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के विकास के लिए केंद्र की सरकार और राज्य की रमन सिंह सरकार लगातार कार्य कर रही है।

लेकिन, कांग्रेस ने कभी भी क्षेत्र की प्रगति के बारे में सोचा नहीं। मुझे नहीं पता कि क्यों कांग्रेस आदिवासियों का मजाक उड़ाती है। एक बार जब मैं अपने देश के पूर्वोत्तर में एक रैली के लिए गया था और वहां पारंपरिक आदिवासी हेडगियर पहना था लेकिन कांग्रेस नेताओं ने उस टोपी का मजाक उड़ाया था, यह आदिवासी संस्कृति का अपमान था।

डीडी से एक बहादुर और निर्दोष कैमरामैन, अच्युतानंद साहू को माओवादियों ने मार दिया था। हाल ही में हमारे बहादुर जवानों को माओवादियों के साथ मुठभेड़ में भी शहीद किया गया था, और कांग्रेस पार्टी के लिए ये माओवादी क्रांतिकारी हैं? यह किस प्रकार की शब्दावली है।