लोकसभा में कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गले मिलकर खूब सुर्खियां बटोरने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि लोगों के प्रेम और करुणा से ही देश का निर्माण किया जा सकता है। राहुल ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव पर कल हुई चर्चा में प्रधानमंत्री ने अपनी बातें रखने के लिए कुछ लोगों के दिलों की ‘नफरत, डर और गुस्से’ का इस्तेमाल किया जबकि कांग्रेस ने प्रेम एवं करुणा से उसका मुकाबला किया।

modi

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, “संसद में कल की चर्चा का बिंदु … प्रधानमंत्री ने अपनी बात रखने के लिए हमारे कुछ लोगों के दिलों की नफरत , डर और गुस्से का इस्तेमाल किया। हम साबित करने जा रहे हैं कि सभी भारतीयों के दिलों में प्रेम एवं करुणा ही देश निर्माण का एकमात्र तरीका है।”

बता दें कि कल लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान राहुल ने 45 मिनट का जोरदार भाषण दिया, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री पर नोटबंदी, बेरोजगारी, राफेल करार, अर्थव्यवस्था की बुरी स्थिति, भीड़ हिंसा, हत्या और दलितों एवं महिलाओं पर कथित अत्याचार के रूप में लोगों पर ‘जुमला स्ट्राइक’ करने का आरोप लगाया।

rahul gandhi

अपना संबोधन खत्म करने के बाद राहुल अपनी सीट से प्रधानमंत्री मोदी की सीट तक गए और उन्हें झुक कर गले लगाया। प्रधानमंत्री ने राहुल से हाथ मिलाया। लेकिन उन्होंने खड़े होकर गले लगने के राहुल के अनुरोध की अनदेखी कर दी। बहरहाल, राहुल ने मोदी के बैठे रहने के बाद भी उन्हें झुक कर गले लगाया।

rahul hug modi in loksabha

बाद में मोदी ने राहुल को अपने पास बुलाया और उनकी पीठ थपथपाई। उन्होंने राहुल से कुछ कहा, लेकिन वो सुनाई नहीं दिया।  अविश्वास प्रस्ताव पर अपने जवाब के वक्त प्रधानमंत्री ने भी राहुल पर तीखा हमला बोला।