‘मन की बात चाय के साथ’ कार्यक्रम से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए अपने प्रचार अभियान को आज से न केवल तेज किया बल्कि बूथ स्तर पर लोगों से जुड़ने की रणनीति की शुरुआत कर दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम को राज्य के 182 विधानसभा क्षेत्रों के 50128 मतदान केन्द्रों पर प्रसारित किया गया। इस अवसर पर भाजपा के अनेक वरिष्ठ नेता मतदान केन्द्रों पर उपस्थित थे।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, स्मृति ईरानी समेत कई दिग्गज नेता मतदान केन्द्रों पर उपस्थित थे। राज्य के 89 विधानसभा सीटों पर पहले चरण में 9 दिसंबर को चुनाव होना है जहां से कल 977 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। शाह ने अहमदाबाद के दरियापुर विघानसभा सीट पर इस कार्यक्रम में शामिल हुए जहां अच्छी संख्या में अल्पसंख्यक मतदाता हैं।

MODI mann ki baat

जेटली नें कपड़ा उद्योग के लिए जाने जाने वाले सूरत के कार्यक्रम में शामिल हुए जहां बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और महाराष्ट्र के मजदूर काम करते हैं। सुश्री भारती ने बडोडरा और श्रीमती ईरानी ने जूनागढ़ में उपस्थित थीं। रेल मंत्री पीयूष गोयल पोरबंदर में और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी मध्य गुजरात के मोरवा हडफ में अलग-अलग बूथ पर इस कार्यक्रम में भाग लिया।

भाजपा ने इस कार्यक्रम का आयोजन प्रधानमंत्री के चुनाव प्रचार अभियान से ठीक पहले किया है तकि लोगों में आए उत्साह का अधिक से अधिक राजनीतिक लाभ उठाया जा सके। मोदी 27 और 29 नवम्बर को सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात मे आठ सभाओं को सम्बोधित करेंगे जहां पहले चरण में मतदान होना है। मोदी 27 नवम्बर को कच्छ जिला मुख्यालय के भुज, राजकोट जिले के जसदण, अमरेली के धारी और सूरत के कामरेज में प्रचार अभियान चलायेंगे।

वह 29 नवंबर को मोरबी, सोमनाथ के निकट प्राची, भावगर के पालिताणा और नवसारी में सभाएं करेंगे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गत शुक्रवार और शनिवार को सानंद और अहमदाबाद में पार्टी का प्रचार अभियान चलाया था और गुजरात में बेरोजगारी, दलितों की समस्या, राफेल विमान सौदे, संसद के शीतकालीन सत्र में देरी जैसे कई मुद्दों को उठाया था जिसका भाजपा नेताओं ने जवाब दिया था।