शुगर का इलाज दिल्ली में नहीं तो सत्येंद्र जैन दें इस्तीफा : कपिल मिश्रा


kapil mishra

दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इलाज के लिए बेंगलुरु जाने पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि यदि शुगर का इलाज राज्य सरकार के अस्पतालों में नहीं हो सकता है तो स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को इस्तीफा दे देना चाहिए। कपिल मिश्रा ने अपने ट्विटर एकाउंट पर एक वीडियो डाला है जिसमें केजरीवाल के इलाज के लिए बेंगलुरु जाने पर जमकर खिंचाई की है।

उन्होंने कहा कि नौ दिन के धरने के बाद केजरीवाल दस दिन की छुट्टी पर जा रहे हैं। मुख्यमंत्री इसको कैसे वाजिब ठहरायेंगे और यह कैसे कहा जा सकता है कि वह दिल्ली के लिए गंभीर है। उपराज्यपाल ने अधिकारियों के साथ एक बैठक करने के लिए निर्देश दिया है किंतु धरना समाप्त करने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक किए बिना ही वह जा रहे हैं। दिल्ली के लोगों के साथ हमेशा धोखा करने का आरोप लगाते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा ‘यदि शुगर का इलाज राज्य सरकार के अस्पतालों में नहीं हो सकता है तो स्वास्थ्य मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।’

मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि धरने पर रहने की वजह से केजरीवाल का शुगर लेबल बहुत बढ़ गया है और वह गुरुवार को इलाज के लिए बेंगलुरु जा रहे हैं। मुख्यमंत्री पहले भी बेंगलुरु जाकर प्राकृतिक चिकित्सा से अपनी बीमारी का इलाज करा चुके हैं। केजरीवाल के बुधवार को धरना समाप्त करने के बाद कल पूरे दिन आराम करने के बाद रात को एक इफ्तार पार्टी में शामिल होने की भी कपिल ने आलोचना की है। उन्होंने कहा ‘दिन भर बीमार रात भर इफ्तार मुस्लिम वोट बैंक की राजनीति आप को बीमार बहुत बीमार कर सकती है।’

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।