लखनऊ : समाजवादी पार्टी से अलग होकर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाने वाले पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने साफ कर दिया कि वह अपने उठाए कदम को वापस नहीं लेंगे। इसके साथ ही उन्होंने अपने 9 प्रवक्ताओं की लिस्ट भी जारी कर दी है। उन्होंने अखिलेश सरकार के मंत्रिमंडल में रहे दो बड़े चेहरों को भी जगह दी है। इसमें शादाब फातिमा और शारदा प्रताप शुक्ल का नाम शामिल है।

शिवपाल यादव के सेकुलर मोर्चा के प्रवक्ताओं में दो पूर्व मंत्रियों के अलावा दीपक मिश्रा, नवाब अली अकबर, सुधीर सिंह, प्रो. दिलीप यादव, अभिषेक सिंह आशू, मोहम्मद फरहत रईस खान, और अरविंद यादव के नाम शामिल हैं।

समाजवादी सेकुलर मोर्चा की ओर से शिवपाल ने इन 9 लोगों को अधिकारिक रूप से पार्टी के पक्ष को रखने के लिए नियुक्त किया है। प्रवक्ताओं के लिस्ट जारी करने से एक दिन पहले ही शिवपाल यादव ने समाजवादी सेकुलर मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी और प्रदेश कार्यकारिणी के गठन करने की बात कही थी। इतना ही नहीं सूबे के सभी 75 जिलों के अध्यक्ष की नियुक्ति भी करेंगे।

उन्होंने कहा कि वे समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के साथ आगे बढ़ेंगे। लंबे इंतजार के बाद यह कदम उठाया। अब कदम पीछे नहीं खीचेंगे। प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीट पर 2019 के चुनाव में उतरने का ऐलान किया है। शिवपाल ने अखिलेश यादव का नाम लिए बिना तंज कसते हुए महाभारत और रामायण का जिक्र किया था।

उन्होंने इशारों ही इशारों में अखिलेश यादव की तुलना कौरवों से कर दी और कहा कि पांडवों ने कौरवों से पांच गांव मांगा था। मैंने तो सिर्फ सम्मान मांगा था। शिवपाल ने बिना नाम लिए अखिलेश यादव पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि सत्ता पाकर कभी अभिमान नहीं आना चाहिए। मैंने तो कभी कोई पद नहीं मांगा। पार्टी में नेताजी के साथ तमाम उतार चढाव आए, लेकिन हमने मिलकर संभाला।