बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को समाजवादी पार्टी (SP) के मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की। इसे पहले तेजस्वी यादव ने रविवार को बहुजन पार्टी सुप्रीमो मायावती से मुलाकात। तेजस्वी लखनऊ में प्रेस को संबोधित करते हुए जहां वे केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर बरसे तो वहीं सपा-बसपा गठबंधन की जमकर सराहना की। तेजस्वी ने अखिलेश यादव से मिलने के बाद कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी का माहौल है, आज देश में नौजवान बेरोजगार है।

अखिलेश के साथ मुलाकात के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में जिस प्रकार से नौजवान बेरोजगार हो चुके हैं। नौकरी की कोई उम्मीद नहीं दिख रही है। किसान आत्मदाह करने पर मजबूर है। तेजस्वी यादव ने कहा कि जो गठबंधन लालू जी ने कल्पना करने का काम किया था वह अब जाकर साकार हुआ है। अखिलेश को धन्यवाद दिया है और मायावती जी को भी मैंने कल धन्यवाद दिया था।

सामाजिक न्याय और धर्मनिरपेक्षता के लिए देश को बचाने का काम आपने किया है। बिहार में बीजेपी का पूरी तरीके से सफाया किया जाएगा। उत्तर प्रदेश में फूलपुर और गोरखपुर के उपचुनाव में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री हार गए तो जनता का विश्वास किसके साथ है यह सब देख रहे हैं। यह गठबंधन सफल है। जनता इस पर विश्वास करेगी और यह मैसेज केवल यूपी के लिए नहीं पूरे देश के लिए है। समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि तेजस्वी यादव ने गठबंधन करने के लिए जो बधाई दी है, उसके लिए धन्यवाद है। आज देश में किसान, नौजवान, व्यापारी सभी दुखी हैं।

उन्होंने कहा कि आज यूपी में जो गठबंधन हुआ है, उससे पूरे देश में खुशी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बीजेपी का संदेश देते हैं, वो कहते हैं कि ठोक दो, मुख्यमंत्री सांप-छछूंदर की भाषा का उपयोग करते हैं। अखिलेश ने योगी आदित्यनाथ को भी जवाब दिया, उन्होंने कहा कि हमारी सरकार थोड़ी जा रही है कि हम नाक रगड़ें, जिनकी सरकार जा रही है वो लोग नाक रगड़ें। अखिलेश ने कहा कि जनता में सच में बड़ा मैसेज गया है कि हम लोग इस गठबंधन को और विस्तार देंगे और मजबूती प्रदान करेंगे। हालांकि पूरे देश की जनता नाराज है।

किसान दुखी है। नौजवानों के रोजगार छीन लिए नौकरी का कोई भरोसा नहीं। देश के व्यापारियों को संकट में डाल दिया गया। आज हर वर्ग के लोग भारतीय जनता पार्टी को हटाना चाहते हैं। अखिलेश ने कहा कि यूपी में गठबंधन हुआ है इसकी खुशी पूरे देश में है। दिल्ली से लेकर के कोलकाता तक और पूरे देश में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ हर जगह लोग खड़े हैं। हर वर्ग को धोखा दिया है। आप बुलेट ट्रेन दे देते तो यहां के लोग खुश हो जाते। पर बीजेपी की सरकार ने बुलेट ट्रेन अहमदाबाद से लेकर के मुंबई तक दे दी।

हमने कहा था दिल्ली से चले और लखनऊ आए लखनऊ से पटना जाए पटना से रांची जाए लेकिन ऐसा नहीं हुआ और इसी वजह से इस इलाके की जनता काफी नाराज है। हम तेजस्वी जी को बहुत-बहुत बधाई देते हैं कि उन्होंने पूरे देश में एक मैसेज देने का प्रयास किया। गौरतलब है कि अखिलेश यादव और मायावती ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को दरकिनार कर गठबंधन का ऐलान कर दिया है, जबकि बिहार में तेजस्वी यादव कांग्रेस को साथ लेकर महागठबंधन की अगुवाई कर रहे।