छत्तीसगढ़ में छेड़छाड़ का शिकार हुई एक नाबालिग लड़की का सिर मुंडवाने का मामला सामने आया है। घटना छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले की है जहां अर्जुन नाम के शख्स ने लड़की के साथ छेड़छाड़ की थी। पुलिस ने सोमवार को आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। अब समुदाय के उन लोगों की तलाश की जा रही है जिन्होंने इस शुद्धिकरण का आदेश दिया था और उसे करवाया। पुलिस अधीक्षक लाल उमेद सिंह ने बताया कि बाल मुंडवाने की घटना 5 फरवरी को कुकदुर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले गांव में घटी। यह गांव जिला मुख्यालय से 75 किलोमीटर दूरी पर है।

घटना के बारे में बताते हुए सिंह ने कहा- जनवरी 21 को लड़की के साथ 22 साल के अर्जुन यादव ने उस समय छेड़खानी की जब वह निर्माण स्थल पर काम करने के लिए गई थी। इसकी जानकारी लड़की ने अपने माता-पिता को दी। जिन्होंने स्थानीय पंचायत को इसके बारे में बताया। अधिकारियों ने कहा पंचायत ने अगले दिन मामले को रफा-दफा कर दिया और यादव पर पांच हजार रुपए का जुर्माना लगाया। हालांकि 4 फरवरी को बैगा आदिवासी समुदाय जिससे कि लड़की ताल्लुक रखती है एक बैठक की और उसके परिवार का बहिष्कार कर दिया। उन्होंने कहा कि छेड़खानी के बाद लड़की अशुद्ध हो गई है।

जिसके बाद समुदाय के सदस्यों ने लड़की के बालों को मुंडवाने का आदेश दिया ताकि उसका शुद्धिकरण किया जा सके। अगले ही दिन लड़की के बाल काट दिए गए। हालांकि सरपंच का कहना है कि लड़के ने शराब के नशे में यह हरकत की होगी। सरपंच ने मुंडन करवाए जाने की घटना को गलत बताया और इसकी जानकारी नहीं होने की बात कही।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।