दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल में मंगलवार सेना के साथ जारी मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद(जेईएम) के 2 आतंकवादी मारे गये।

केंद्र की ओर से राज्य में आतंकवादियों के खिलाफ एकतरफा ‘संघर्ष विराम’ वापस लेने के बाद सुरक्षा बलों का यह पहला घेराबंदी और तलाशी अभियान है।

पुलिस महानिदेशक एस पी वैद्य ने ट्वीट करके कहा,‘’त्राल के हयेना में मुठभेड़ जारी है। तलाशी अभियान के दौरान जैश-ए-मोहम्मद(जेईएम) के तीन आतंकवादियों की घेराबंदी की गयी जिनमें दो को मार गिराया गया है।‘’

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि त्राल के हयेना गांव में आतंकवादियों के मौजूद होने की खुफिया सूचना मिली जिसके बाद मंगलवार की शाम पुलिस के विशेष अभियान दल(एसओजी), सेना और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल(सीआरपीएफ) की संयुक्त टीम ने घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया।

सुरक्षा बलों के एक खास इलाके की ओर बढ़ने पर वहां छिपे आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से उनपर हमला कर दिया।

उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलायी, आरंभिक गोलीबारी के दौरान सेना का एक जवान घायल हो गया जिसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया।

उन्होंने कहा कि इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये। अतिरिक्त सुरक्षा बलों को घटनास्थल पर भेज दिया गया है ताकि आतंकवादियों के भागने की कोशिशों को नाकाम किया जा सके। अंतिम सूचना मिलने तक मुठभेड़ जारी थी।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।