हैदराबाद : तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस और विपक्षी कांग्रेस नीत ‘पीपुल्स फ्रंट’ ने राज्य विधानसभा चुनाव में अपनी – अपनी जीत का भरोसा जताया है। राज्य की 119 विधानसभा सीटों के लिए शुक्रवार को वोट डाले गए। मतगणना 11 दिसंबर को होगी। कार्यवाहक मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने अपने पैतृक गांव चिंतमडका में संवाददाताओं से कहा कि पार्टी के प्रति मतदाताओं का मूड बहुत सकारात्मक है। राव अपना वोट डालने वहां गए थे। राज्य विधानसभा चुनाव तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) और भाजपा ने अपने – अपने दम पर लड़ा है जबकि कांग्रेस ने तेदपा, भाकपा और तेलंगाना जन समिति के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा। केसीआर ने कहा, ‘‘…बगैर किसी शक – शुबहा के भारी बहुमत से यह सरकार फिर से आने वाली है।’’

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख एन उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा कि ‘‘पीपुल्स फ्रंट’’ 80 से अधिक सीटों पर जीत हासिल करेगा। वहीं, भाजपा प्रवक्ता कृष्ण सागर राव ने आरोप लगाया कि केसीआर ने एक मतदान केंद्र परिसर में मीडिया को संबोधित कर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया। भाजपा ने चुनाव आयोग से इस सिलसिले में शिकायत की है और केसीआर को अयोग्य (उम्मीदवार के तौर पर) करार देने की मांग की है। गौरतलब है कि तेलंगाना में विधानसभा चुनाव मूल रूप से अगले साल लोकसभा चुनावों के साथ – साथ होना था। लेकिन टीआरएस सरकार की सिफारिश के बाद सितंबर में राज्य विधानसभा समय से पहले भंग कर दी गयी थी।