उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अप्रत्यक्ष तौर पर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि देश पर आपातकाल थोपने वाले आज लोकतंत्र की दुहाई दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने गन्ना संस्थान के प्रेक्षागृह में संस्कार भारती की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में यह बातें कही। उन्होंने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

योगी आदित्यनाथ ने कहा,’इस देश के अंदर किस प्रकार की स्थितियां हैं, आज तो आपातकाल थोपने वाले लोकतंत्र की दुहाई दे रहे हैं।’ योगी ने कहा, ‘जो जितना बड़ा भ्रष्टाचारी है वह सदाचार का प्रवचन कर रहा, जो जितना बड़ा जातिवादी है, वह सामाजिक न्याय की बात कर रहा और जो जितना बड़ा सांप्रदायिक है वह मानवतावादी होने का प्रवचन कर रहा है। इन विरोधाभासी स्थितियों का जवाब देने की तैयारी करनी होगी अन्यथा हम भी इसके भुक्तभोगी होंगे।’

योगी ने कहा कि हमने संस्कार भारती से अनुरोध किया है कि कुंभ को कला कुंभ बनाए। राष्ट्र बिना संस्कृति बिना संस्कार के नहीं हो सकती। केवल नाच गाना ही कला नहीं है उसमें निहित संस्कार भी महत्वपूर्ण है। योगी ने कहा कि इलाहाबाद के कुंभ में 12 से 15 करोड़ लोग आएंगे।

दुनिया के 192 देशों के प्रतिनिधियों को बुलाने की तैयारी है ऐसे में कला के सभी पक्ष भी वहां प्रदर्शित होने चाहिए। जिससे उनकी ख्याति दुनिया में फैल सके। उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश के विभिन्न बोर्ड क्या शिक्षा दे रहे थे और क्यों दे रहे थे सबको पता है। राष्ट्रगीत गाने का सबको अवसर मिला है लेकिन इसे गाने की परंपरा बनाए रखने में विद्या भारती का अहम योगदान है।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।