BREAKING NEWS

पाकिस्तान समेत एशिया-प्रशांत समूह के सभी देशों ने किया भारत का समर्थन◾World Cup 2019 PAK vs NZ : पाक ने न्यूजीलैंड का रोका विजय रथ , नाकआउट की उम्मीद बढ़ायी ◾काफिले का मार्ग बाधित करने को लेकर थर्मल पावर के कर्मचारियों पर भड़के कुमारस्वामी ◾जयशंकर ने S-400 समझौते पर पोम्पिओ से कहा : भारत अपने राष्ट्रीय हितों को रखेगा सर्वोपरि◾‘जय श्रीराम’ का नारा नहीं लगाने पर ट्रेन से धकेल दिये गये 3 लोगों को ममता देंगी मुआवजा◾RAW चीफ बने 1984 बैच के IPS सामंत गोयल, अरविंद कुमार बनाए गए IB डायरेक्टर◾कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव में वैष्णव को BJD के समर्थन पर CM से स्पष्टीकरण मांगा ◾बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का MLA बेटा पहुंचा जेल, अधिकारी से की थी मारपीट◾पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास : गडकरी◾दुष्कर्म मामले में केरल के CPI (M) नेता के बेटे के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस◾कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्री नेपाल में फंसे, यात्रा संचालकों पर लगाया कुप्रबंधन का आरोप ◾विपक्ष त्यागे नकारात्मकता, विकास यात्रा में दे सहयोग : पीएम मोदी ◾Top 20 News - 26 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक देश एक चुनाव व्यवहारिक नहीं : कांग्रेस ◾नई ऊंचाइयों पर पहुंच रही है अमेरिका-भारत के बीच साझेदारी : माइक पोम्पियो◾दुखद और शर्मनाक है बिहार में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत : PM मोदी ◾इंदौर: BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने नगर निगम अफसरों को बल्ले से पीटा◾कांग्रेस ने 2014 से देश की विकास यात्रा शुरू करने के दावे पर मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ ◾SC ने राजीव सक्सेना को विदेश जाने की अनुमति देने वाले दिल्ली HC के फैसले पर लगाई रोक ◾अध्यक्ष पद छोड़ने के रुख पर कायम राहुल गांधी, कांग्रेस सांसदों ने नेतृत्व करते रहने का आग्रह किया◾

Uncategorized

इस वजह से चुनाव के मैदान में शत्रुघ्न सिन्हा हार गए थे राजेश खन्ना के साथ अपनी दोस्ती

बॉलीवुड में कई सारी दोस्ती की मिसालें आज भी दी जाती हैं। दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र और शत्रुघ्न सिन्हा के साथ अमिताभ बच्चन की दोस्ती से तो पूरी दुनिया ही वाकिफ है। बता दें कि एक जमाने में शत्रुघ्न सिन्हा और राजेश खन्ना भी बहुत करीबी दोस्त हुआ करते थे। दोनों की दोस्ती की मिसाल लोग हर किसी को दिया करते थे। फिल्म आज का एमएलए रामअवतार से दोनों की दोस्ती की शुरूआत हुई थी। लेकिन उन दोनों के बीच एक ऐसा भी समय आ गया था जब दोनों की दोस्ती खत्म हो गई थी।

 

लालकृष्ण आडवाणी साल 1991 में आमचुनावों में गुजरात के गांधीनगर और दिल्ली इन दोनों सीटों से चुनाव जीते थे। उस समय दिल्ली की सीट से आडवाणी ने इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद साल 1992 में दिल्ली की इस सीट पर दोबारा से उपचुनाव हुए थे।

इस सीट के लिए भाजपा ने आडवाणी के कहने पर शत्रुघ्न सिन्हा को टिकट दिया था तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने इस सीट के लिए सुपरस्टार राजेश खन्ना को मैदान में उतारा था। इस दौरान दिल्ली के चुनावी मैदान में दोनों सितारों के फिल्मी डॉयलॉग गूंजने शुरू हो गए थे। उसी दौरान शत्रुघ्न सिन्हा ने एक ऐसी बात बोल दी थी जिसके बाद राजेश खन्ना ने उनसे फिर कभी बात नहीं की थी।

चुनावी कैम्पेन के दौरान शत्रुघ्न ने राजेश खन्ना को मदारी कहा था

शत्रुघ्न सिन्हा ने इस चुनावी कैम्पेन में राजेश खन्ना को मदारी कह दिया था। उसके बाद राजेश खन्ना ने शत्रुघ्न सिन्हा को जवाब 25 हजार से भी ज्यादा वोट जीत कर दिया था। इस चुनाव में राजेश खन्ना को 52.51 प्रतिशत वोट यानी 101,625 मिले थे। तो वहीं शत्रुघ्न सिन्हा को इस चुनाव में महज 37.91 प्रतिशत ही वोट यानी 73369 वोट ही मिले थे।

यह चुनाव तो राजेश खन्ना जीत गए थे लेकिन वह पूरी जिंदगी शत्रुघ्न सिन्हा का मदारी कहना नहीं भूल पाए थे। हालांकि शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी इस हरकत के लिए राजेश खन्ना से माफी भी मांगी थी लेकिन राजेश खन्ना ने उन्हें मांफ नहीं किया और मरते दम तक शत्रु से शत्रुता निभाई थी।

शत्रुघ्न सिन्हा ने इस घटना के बारे में अपनी किताब एनीथिंग बट खामोश में भी बताया है। शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी किताब में लिखा है कि उस चुनाव में हारना मेरे लिए निराशा के दुर्लभ क्षणों में से एक था। उन्होंने अपनी किताब में आगे लिखा कि वह पहला मौका था, जब मैं रोया था। राजेश खन्ना से इस बात के लिए माफी भी मांगी थी लेकिन राजेश खन्ना ने उनसे कभी भी बात नहीं की। मुझे इस वजह से भी निराशा हुई कि आडवाणी जी मेरे लिए एक दिन भी चुनाव प्रचार करने नहीं आए।

बिग बी ने श्वेता को रैंप वॉक करते हुए बजाई सीटी, खुद करने लगे फोटोग्राफी