आईपीएल ‘बाहुबली’ मुंबई इंडियंस


हैदराबाद : कृणाल पंड्या की विषम परिस्थितियों में खेली गयी 47 रन की पारी और मिशेल जानसन की शानदार गेंदबाजी के कमाल के आखिरी ओवर से मुंबई इंडियंस ने सांसों को रोक देने वाले बेहद रोमांचक फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स को रविवार को मात्र एक रन से पराजित कर आईपीएल 10 में चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया। मुंबई ने इस तरह तीसरी बार आईपीएल खिताब जीतकर इतिहास बना दिया और वह तीन बार यह खिताब जीतने वाली पहली टीम बन गई।

मुम्बई ने आठ विकेट पर 129 रन का मामूली स्कोर बनाने के बावजूद पुणे को छह विकेट पर 128 रन पर थामकर खिताब अपने नाम किया। पुणे के पास अपने पहले फाइनल में चैंपियन बनने का पूरा मौका था लेकिन उसने आखिरी दो ओवरों में इस मौके को गंवा दिया। जॉनसन ने अंतिम ओवर में मनोज तिवारी और पुणे के कप्तान स्टीवन स्मिथ (51) का विकेट लेकर पुणे का सपना तोड़ दिया। मुंबई के हाथ से तीसरी बार चैंपियन बनने का मौका निकलता जा रहा था लेकिन उसने शानदार वापसी करते हुए पुणे को अंतिम दो ओवरों में थाम दिया। पुणे को आखिरी दो ओवरों में जीत के लिए 23 रन चाहिए थे। जसप्रीत बुमराह ने 19वें ओवर की पहली चार गेंदों पर एक-एक रन दिया। स्मिथ ने पांचवीं गेंद पर शानदार छक्का जड़ा और छठी गेंद पर दो रन ले लिये। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने आस्ट्रेलिया के अनुभवी तेज गेंदबाज जॉनसन को आखिरी ओवर थमाया।

मनोज तिवारी ने जानॅसन की पहली गेंद पर चौका जड़ा लेकिन अगली गेंद पर वह लांग आन पर कीरोन पोलार्ड को कैच थमा बैठे। जॉनसन ने तीसरी गेंद पर स्मिथ को स्वीपर कवर पर अंबाटी रायुडू के हाथों कैच करा दिया। स्मिथ ने 50 गेंदों पर दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 51 रन बनाए लेकिन उनके आउट होते ही पुणे को झटका भी लग गया। चौथी गेंद पर एक रन और पांचवी गेंद पर दो रन बने। आखिरी गेंद पर पुणे को चौका चाहिए था लेकिन डेनियल क्रिस्टियन दो रन लेने के बाद तीसरे रन की कोशिश में रन आउट हो गए और मुंबई तीसरी बार आईपीएल चैंपियन बन गई।