अपराध में राजनीतिक संरक्षण की अनुमति नहीं : योगी


लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में राजनीतिक सरंक्षण में अपराध किसी को भी नहीं करने दिया जाएगा। अगर अपराध किया तो उसे विधानसभा में कहा कि राज्य में सबको पता है कि कानून व्यवस्था बदल रही है। राजनीतिक सरंक्षण में अपराध करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और किसी के साथ किसी भी तरह का भेदभाव नहीं होगा।

बसपा विधायक ने मुख्यमंत्री से पूछा कि पिछले 2 माह में अपराधो में कमी आएगी या नहीं ? मुख्यमंत्री ने इसका जवाब दिया कि हमें 1 साल का समय दीजिए बाकी सब आपके सामने होगा 1 साल बाद के अंदर। जब बसपा विधायकों को उनका जवाब उनके मतलब से नहीं मिला तो उन्होंने विधानसभा से वाकआंउट कर दिया।

बसपा विधायक राम गोविन्द चौधरी ने आरोप लगाया कि जब से भाजपा सरकार सत्ता में आई है तब से अपराधों में बढ़ोतरी हो गई है। उन्होंने यह भी कहा कि जब बच्चे को पोलियो हो जाता है तो उसका इलाज नहीं हो पाता था। तब उसका उत्तर देते हुए ससंदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा पिछली सरकार में सिर्फ पोलियो का ही नहीं बल्कि पूरे शरीर को बीमारियों से ग्रस्त कर दिया था।

चौधरी ने आरोप लगाया कि सरकार के मंत्री सही जवाब नहीं दे रहे हैं। यह कहकर वह सपा सदस्यों के साथ वाकआउट कर गये। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानून व्यवस्था के मामले में ‘जीरो टालरेंस’ की नीति अपनायी जाएगी। योगी ने कानून व्यवस्था को लेकर विपक्षी सदस्यों की चिन्ताओं पर कहा, ”सरकार कानून व्यवस्था
के मामले में ‘जीरो टालरेंस’ की नीति का पालन करेगी।

– (भाषा)