BREAKING NEWS

चक्रवात तौकते को लेकर अमित शाह ने की गोवा के मुख्यमंत्री से बात◾भाजपा नेता सांप्रदायिक बम फोड़ने का कर रहे हैं प्रयास : अमरिंदर सिंह◾अधीर रंजन चौधरी ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी, लॉकडाउन वाले राज्यों में गरीबों को हर महीने 6000 रुपये देने की अपील की ◾महाराष्ट्र में संक्रमण से 974 मरीजों ने तोडा दम, 34 हजार नए मामले की पुष्टि ◾गुजरात में चक्रवात तौकते का खतरा बरकरार, डेढ़ लाख लोगों को निचले तटीय क्षेत्रों में किया गया स्थानांतरित◾कोविशील्ड वैक्सीन की दूसरी खुराक के लिए पहले से लिया गया अप्वाइंटमेंट रहेगा वैध : केंद्र ◾CM केजरीवाल बोले- केंद्र एवं वैक्सीन निर्माताओं को लिखा पत्र, लेकिन दिल्ली को अभी टीका मिलने की कोई उम्मीद नहीं◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर में आई गिरावट, 24 घंटे में 6456 नए केस और 262 की मौत◾देश में कोविड के 36,18,458 इलाजरत मरीज, संक्रमण दर 16.98 फीसदी: केंद्र सरकार◾केंद्र सरकार ने ग्रामीण एवं शहरों से सटे इलाकों में कोविड प्रबंधन पर जारी किए नए दिशा-निर्देश ◾हरियाणा में लॉकडाउन 24 मई तक बढ़ा, गृह मंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर दी जानकारी◾राहुल का केंद्र पर वार- बच्चों की वैक्सीन क्यों भेज दी विदेश, अब मुझे भी करो गिरफ्तार ◾चक्रवाती तूफान के तेज होने की संभावना, कल शाम गुजरात के तट से टकराएगा तौकते, भारी बारिश की चेतावनी◾PM मोदी ने UP सहित चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात, कोविड प्रबंधन पर हुई चर्चा◾दिल्ली में एक हफ्ते के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, अब 24 मई सुबह 5 बजे तक रहेंगी पाबंदियां◾चक्रवाती तूफान ''तौकते'' गोवा के तटीय क्षेत्र से टकराया, शाह ने की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक ◾कोरोना को मात देने के लिए अब बनेगी स्पूतनिक v की सिंगल-डोज वैक्सीन, भारत में जल्द आएगा टीके का लाइट वर्जन◾हैदराबाद पहुंचा रुसी वैक्सीन SPUTNIK V का दूसरा जत्था, कोरोना महामारी के नए वेरिएंट पर भी प्रभावी◾देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट, पिछले 24 घंटे में 3.11 लाख केस, 4077 मरीजों ने तोड़ा दम◾कोरोना से ठीक होने के बाद कांग्रेस MP राजीव सातव का निधन, सुरजेवाला बोले- अलविदा मेरे दोस्त◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आजाद भारत में पहली बार महिला को दी जाएगी फांसी, प्रेमी संग मिल पूरे परिवार को उतारा था मौत के घाट

आजाद भारत के इतिहास में पहली बार एक महिला को फांसी पर चढ़ाया जाएगा। उत्तर प्रदेश के मथुरा स्थित महिला फांसीघर में अमरोहा की रहने वाली शबनम को फांसी दी जाएगी। इसके लिए फांसीघर में तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं। वहीं निर्भया के आरोपियों को फांसी पर लटकाने वाले मेरठ के पवन जल्लाद दो बार फांसीघर का निरीक्षण कर चुके हैं।

हत्या की आरोपी शबनम ने साल 2008 में अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने माता-पिता समेत 7 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। क्योंकि उनके पिता उसकी शादी प्रेमी के साथ नहीं होने देना चाहते थे। इस बात से खफा प्यार में पागल शबनम ने प्रेमी के साथ मिलकर इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया।

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शबनम की फांसी की सजा बरकरार रखी थी। राष्ट्रपति ने भी उसकी दया याचिका खारिज कर दी है। लिहाजा आजादी के बाद शबनम पहली महिला कैदी होगी जिसे फांसी पर लटकाया जाएगा। हालांकि जेल अधीक्षक ने फांसी दिए जाने की जानकारी से इनकार किया है। 

क्या था पूरा मामला

आरोपी शबनम को शिक्षामित्र में नौकरी के दौरान गांव के ही युवक सलीम से प्रेम संबंध हो गया। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन जाति अलग होने के कारण शबनम के पिता ने इसकी मंजूरी नहीं दी। इसके बाद भी शबनम आए दिन अपने घर पर ही सलीम से मिला करती थी। जिसके परिवार विरोध करता था। 

14 अप्रैल 2008 की रात को भी शबनम ने अपने प्रेमी से मिलने के लिए परिवार के लोगों को नींद की गोलियां दे दीं। पूरे परिवार के सो जाने के बाद शबनम से सलीम के साथ मिलकर अपने पूरे परिवार को जान से मरने की शाजिश रच दी। और उसी रात ही दोनों ने मिलकर परिवार के सात लोगों को कुल्हाड़ी से काट दिया। 

अपराध को अंजाम देने के बाद सलीम फरार हो गया और शबनम ने गांव वालों के सामने पूरे परिवार की हत्या को लेकर एक कहानी गढ़ दी। उसने बताया कि बदमाशों ने उसके परिवार की हत्या कर दी। घटना के बाद घर का आलम ये था कि हर जगह सिर्फ खून-खून ही नजर आ रहा था। लेकिन शबनम की कहानी पर पुलिस को शक हुआ तो कड़ाई से पूछताछ के दौरान उसने सारा सच उगल दिया।