BREAKING NEWS

दिल्ली के किसानों की फसल बर्बाद, मुआवजा देने के नाम पर CM का झूठ का खेल पंजाब तक चालू : दिल्ली कांग्रेस◾मुंबई : ACB ने तीसरी बार पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को किया तलब, पिछले दो समन पर नहीं हुए थे पेश ◾ केंद्र सरकार ने देश के 407 में संक्रमण दर 10 फीसदी से ज्यादा होने पर कोविड प्रतिबंध 28 फरवरी तक बढ़या◾पंजाब में सिद्धू या चन्नी में से कौन होगा मुख्यमंत्री का फेस ?राहुल गांधी ने दिया यह जवाब...◾चौधरी चरण सिंह मेरे आदर्श, जाट समुदाय भाजपा से नाराज नहीं रह सकता : राजनाथ◾ दिल्ली में कोविड-19 के 4,291 नये मामले, 34 और लोगों की महामारी से मौत◾ विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर COVID19 पॉजिटिव हुए, कांटेक्ट में आए लोगों को दी एहतियात बरतने की सलाह◾यूपी चुनाव : बीजेपी अध्यक्ष नड्डा कल शाहजहांपुर में करेंगे जन संपर्क अभियान, कार्यक्रम को करेंगे संबोधित ◾दिल्ली के बाद चंडीगढ़ में कोविड प्रतिबंधों में ढील, 10वीं से 12वीं तक के लिए स्कूल खोलने की अनुमति ◾भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी ने की मेजबानी, अफगानिस्तान को लेकर कही यह बात ◾SP ने जारी की 56 प्रत्याशियों की लिस्ट, गैर यादव OBC नेताओं पर खास ध्यान, जानें किसे कहां से मिला टिकट ◾यूपी चुनाव : आजम खान ने सीतापुर की जेल से ही भरा नामांकन, SP ने रामपुर से ही दिया टिकट◾आखिरकार टाटा के पास पहुंचा 'महाराजा' का स्वामित्व, अब एयरलाइन में बड़े बदलाव करेगा समूह◾उत्तराखंड चुनाव: कांग्रेस-BJP में जारी है रूठों को मनाने की कवायद, जानें पार्टियों में क्या हुए बदलाव? ◾1971 में मुख्यमंत्री टी एन सिंह को गोरखपुर के लोगों ने हराया था, अब फिर से इतिहास दोहराएंगे : चंद्रशेखर ◾UP में शाह ने भरी हुंकार, विपक्ष पर हुए हमलावर, कहा- माफियाओं पर कार्रवाई से अखिलेश के होता दर्द ◾अब खुले बाजार में मिलेंगी Covishield और Covaxin, पर मेडिकल स्टोर से नहीं ले सकेंगे◾अंसारी के असहिष्णुता वाले बयान पर छिड़ा राजनीतिक बवाल, BJP-VHP ने की कड़ी निंदा, जानें क्या कहा ◾पंजाब चुनाव को लेकर बीजेपी ने कैंडिडेट्स की एक और लिस्ट की जारी , जानिए किसे कहां से मिला टिकट◾अरुणचल प्रदेश से लापता लड़के की हुई 'वतन वापसी', कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्वीट कर दी जानकारी ◾

आजाद भारत में पहली बार महिला को दी जाएगी फांसी, प्रेमी संग मिल पूरे परिवार को उतारा था मौत के घाट

आजाद भारत के इतिहास में पहली बार एक महिला को फांसी पर चढ़ाया जाएगा। उत्तर प्रदेश के मथुरा स्थित महिला फांसीघर में अमरोहा की रहने वाली शबनम को फांसी दी जाएगी। इसके लिए फांसीघर में तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं। वहीं निर्भया के आरोपियों को फांसी पर लटकाने वाले मेरठ के पवन जल्लाद दो बार फांसीघर का निरीक्षण कर चुके हैं।

हत्या की आरोपी शबनम ने साल 2008 में अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने माता-पिता समेत 7 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। क्योंकि उनके पिता उसकी शादी प्रेमी के साथ नहीं होने देना चाहते थे। इस बात से खफा प्यार में पागल शबनम ने प्रेमी के साथ मिलकर इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया।

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शबनम की फांसी की सजा बरकरार रखी थी। राष्ट्रपति ने भी उसकी दया याचिका खारिज कर दी है। लिहाजा आजादी के बाद शबनम पहली महिला कैदी होगी जिसे फांसी पर लटकाया जाएगा। हालांकि जेल अधीक्षक ने फांसी दिए जाने की जानकारी से इनकार किया है। 

क्या था पूरा मामला

आरोपी शबनम को शिक्षामित्र में नौकरी के दौरान गांव के ही युवक सलीम से प्रेम संबंध हो गया। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन जाति अलग होने के कारण शबनम के पिता ने इसकी मंजूरी नहीं दी। इसके बाद भी शबनम आए दिन अपने घर पर ही सलीम से मिला करती थी। जिसके परिवार विरोध करता था। 

14 अप्रैल 2008 की रात को भी शबनम ने अपने प्रेमी से मिलने के लिए परिवार के लोगों को नींद की गोलियां दे दीं। पूरे परिवार के सो जाने के बाद शबनम से सलीम के साथ मिलकर अपने पूरे परिवार को जान से मरने की शाजिश रच दी। और उसी रात ही दोनों ने मिलकर परिवार के सात लोगों को कुल्हाड़ी से काट दिया। 

अपराध को अंजाम देने के बाद सलीम फरार हो गया और शबनम ने गांव वालों के सामने पूरे परिवार की हत्या को लेकर एक कहानी गढ़ दी। उसने बताया कि बदमाशों ने उसके परिवार की हत्या कर दी। घटना के बाद घर का आलम ये था कि हर जगह सिर्फ खून-खून ही नजर आ रहा था। लेकिन शबनम की कहानी पर पुलिस को शक हुआ तो कड़ाई से पूछताछ के दौरान उसने सारा सच उगल दिया।