BREAKING NEWS

लॉकडाउन के बीच, आज से पटरी पर दौड़ेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से ज्यादा यात्री करेंगे सफर ◾तनाव के बीच लद्दाख सीमा पर चीन ने भारी सैन्य उपकरण - तोप किये तैनात, भारत ने भी बढ़ाई सेना ◾जासूसी के आरोप में पाक उच्चायोग के दो अफसर गिरफ्तार, 24 घंटे के अंदर देश छोड़ने का आदेश ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,487 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 67 हजार के पार ◾दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद जाने पर जारी रहेगी पाबंदी, बॉर्डर सील करने के आदेश लागू रहेंगे◾महाराष्ट्र सरकार का ‘मिशन बिगिन अगेन’, जानिये नए लॉकडाउन में कहां मिली राहत और क्या रहेगा बंद ◾Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1295 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 20 हजार के करीब ◾वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी उद्योग जगत को देंगे वृद्धि की राह का मंत्र◾UP अनलॉक-1 : योगी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, खुलेंगें सैलून और पार्लर, साप्ताहिक बाजारों को भी अनुमति◾श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 80 मजदूरों की मौत पर बोलीं प्रियंका-शुरू से की गई उपेक्षा◾कपिल सिब्बल का प्रधानमंत्री पर वार, कहा-PM Cares Fund से प्रवासी मजदूरों को कितने रुपए दिए बताएं◾कोरोना संकट : दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से मांगी 5000 करोड़ रुपए की मदद ◾मन की बात में PM मोदी ने योग के महत्व का किया जिक्र, बोले- भारत की इस धरोहर को आशा से देख रहा है विश्व◾'मन की बात' में PM मोदी ने देशवासियों की सेवाशक्ति को कोरोना जंग में बताया सबसे बड़ी ताकत◾तमिलनाडु सरकार ने 30 जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, सार्वजनिक परिवहन की आंशिक बहाली की दी अनुमति ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 82 हजार के पार, महामारी से 5164 लोगों ने गंवाई जान ◾विश्व में कोरोना मरीजों का बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के पार◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद शरद पवार ने CM उद्धव ठाकरे से की मुलाकात ◾दिल्ली में कोविड-19 के 1163 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 18 हजार को पार◾देशभर में 30 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, 8 जून से रेस्टोरेंट, मॉल और धार्मिक स्थल खोलने की मिली अनुमति ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अखिलेश यादव ने किया दावा, कहा- उत्तर प्रदेश में अगली सरकार सपा बनाएगी

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 2022 में प्रदेश में अपनी पार्टी की सत्ता में वापसी पर भरोसा जताते हुए शुक्रवार को कहा कि अब कोई नोटबंदी या गुमराह करने वाला ‘नशा’ उन्हें और उनकी पार्टी को रोक नहीं सकता है। नोटबंदी के दौरान तीन साल पहले बैंक की लाइन में पैदा हुए बच्चे ‘खजांची’ के जन्‍मदिन समारोह से इतर संवाददाताओं से बातचीत में अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से मिले जख्‍म अब ज्‍यादा गहरे हो गये हैं। 

उन्‍होंने कहा ‘‘जब से मैंने लोगों के चेहरे पढ़े हैं, उनकी परेशानी देखी है, भरोसा हो गया है कि प्रदेश में अगली सरकार सपा की बनेगी। इस बार ना उसे नोटबंदी रोक सकती है और ना ही जीएसटी। वह नशा भी नहीं रोक पायेगा, जो लोगों को गुमराह कर देता है। आज नौकरी और रोजगार का सवाल ज्‍यादा बड़ा हो गया है।’’ 

मुझे 'भगवा' रंग में रंगने की हो रही है कोशिश, लेकिन मैं उनके जाल में नहीं फसूंगा : रजनीकांत

पूर्व मुख्‍यमंत्री ने कहा कि हाल ही में उपचुनावों में जनता ने सपा का साथ दिया है और हमें यकीन है कि 2022 में भी हाथ नहीं छोड़ेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि भले ही ईवीएम के जरिए हुए उपचुनावों में सपा को जीत और जनता का समर्थन मिला हो, लेकिन वह मतपत्रों के जरिये चुनाव की मांग करती रही है और आगे भी करती रहेगी। अखिलेश ने नोटबंदी पर तंज करते हुए कहा कि उसकी सबसे बड़ी उपलब्धि है ‘खजांची’ का बैंक की लाइन में जन्म होना। 

उन्होंने कहा, ‘‘भ्रष्‍टाचार खत्‍म हुआ हो या नहीं, कालाधन खत्‍म हुआ हो या नहीं, आतंकवाद खत्‍म हुआ हो या न हुआ हो, कम से कम खजांची तो पैदा हुआ। लेकिन, अगर उसके जीवन में बदलाव नहीं आया तो समझिये हममें से किसी का जीवन नहीं बदला।’’ सपा अध्‍यक्ष ने सरकार से पूछा कि आखिर बाजार में कितनी नकदी है और कितना निवेश आया है? देश में बेरोजगारी बढ़ी है, जीडीपी घटी है, पड़ोसी देशों के मुकाबले हमारा रुपया गिर रहा है। 

'आतंकी हमला' था नोटबंदी, इसके लिए जिम्मेदार लोगों को अब तक नहीं मिली सजा : राहुल गांधी

केन्द्र पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमारी अर्थव्‍यवस्‍था अगर वैसी ही होती जैसा कि भाजपा कह रही है तो शायद इतने बैंक नहीं डूबते।’’ अखिलेश ने प्रदेश के ऊर्जा विभाग में हुए कर्मचारी भविष्‍य निधि घोटाले से जुड़े एक सवाल पर कहा कि सब जानते हैं कि इस मामले में सरकार किसे बचा रही है। 

सरकार यह नहीं बता रही है कि निजी बैंक में गलत तरीके से धन का लेन-देन किन-किन तारीखों में हुआ। जनता इस बारे में सबकुछ जानना चाहती है। यह कर्मचारियों की भविष्‍य निधि का सवाल है। सरकार को जनता को सच बताना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार के कार्यकाल में भ्रष्‍टाचार चरम सीमा पर है। इतना भ्रष्‍टाचार पहले कभी नहीं रहा। ऐसा कोई विभाग नहीं है, जहां भ्रष्‍टाचार न हो। पुलिस जितना अन्‍याय कर रही है उसे सोचा भी नहीं जा सकता। बहन-बेटियां पहले कभी इतनी असुरक्षित नहीं थीं। हर जगह भाजपा के लोग अपराधियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। अखिलेश ने इस मौके पर गेस्‍ट हाउस मामले में सपा संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ दर्ज मामला वापस लेने के लिये बसपा अध्‍यक्ष मायावती को धन्‍यवाद भी दिया।