BREAKING NEWS

4 दिसंबर को होगी SKM की अहम बैठक, रणनीति को लेकर होगी बड़ी घोषणा, टिकैत बोले- आंदोलन रहेगा जारी ◾मप्र में शिवराज सरकार के लिए मुसीबत का सबब बने भाजपा के नेताओं के विवादित बयान ◾निलंबन के खिलाफ महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विपक्ष का प्रदर्शन, राहुल समेत कई नेता हुए शामिल ◾EWS वर्ग की आय सीमा मापदंड पर केंद्र करेगी पुनर्विचार, SC की फटकार के बाद किया समिति का गठन ◾Today's Corona Update : एक दिन में 8 हजार से ज्यादा नए मामले, 1 लाख से कम हुए एक्टिव केस◾जम्मू-कश्मीर : पुलवामा मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष कमांडर समेत 2 आतंकी ढेर◾Winter Session: लोकसभा में आज 'ओमिक्रॉन' पर हो सकती है चर्चा, सदन में कई बिल पेश होने की संभावना ◾महंगाई : महीने की शुरुआत में कॉमर्श‍ियल सिलेंडर की कीमतों में हुआ इजाफा, रेस्टोरेंट का खाना हो सकता है मंहगा◾UPTET 2021 पेपर लीक मामले में परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय उपाध्याय गिरफ्तार◾कोरोना के नए वेरिएंट के बीच भारतीय एयरलाइन कंपनियों ने दोगुनी की कीमतें, जानिए कितना देना होगा किराया ◾IPL नीलामी से पहले कोहली, रोहित, धोनी रिटेन ; दिल्ली की कमान संभालेंगे ऋषभ पंत, पढ़ें रिटेंशन की पूरी लिस्ट ◾गृह मंत्री अमित शाह दो दिन के राजस्थान दौरे पर जाएंगे, BSF जवानों की करेंगे हौसला अफजाई◾पंजाबः AAP नेता चड्ढा ने सभी राजनीतिक दलों पर लगाया आरोप, कहा- विधानसभा चुनाव में केजरीवाल बनाम सभी पार्टी होगा◾'ओमिक्रॉन' के बढ़ते खतरे के बीच क्या भारत में लगेगी बूस्टर डोज! सरकार ने दिया ये जवाब ◾2021 में पेट्रोल-डीजल से मिलने वाला उत्पाद शुल्क कलेक्शन हुआ दोगुना, सरकार ने राज्यसभा में दी जानकारी ◾केंद्र सरकार ने MSP समेत दूसरे मुद्दों पर बातचीत के लिए SKM से मांगे प्रतिनिधियों के 5 नाम◾क्या कमर तोड़ महंगाई से अब मिलेगाी निजात? दूसरी तिमाही में 8.4% रही GDP ग्रोथ ◾उमर अब्दुल्ला का BJP पर आरोप, बोले- सरकार ने NC की कमजोरी का फायदा उठाकर J&K से धारा 370 हटाई◾LAC पर तैनात किए गए 4 इजरायली हेरॉन ड्रोन, अब चीन की हर हरकत पर होगी भारतीय सेना की नजर ◾Omicron वेरिएंट को लेकर दिल्ली सरकार हुई सतर्क, सीएम केजरीवाल ने बताई कितनी है तैयारी◾

UP चुनाव से पहले SP-RLD बना रहे नए सियासी समीकरण, अखिलेश-जयंत में फाइनल हुआ गठबंधन!

उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव जैसे जैसे नजदीक आ रहे है, वैसे-वैसे प्रदेश में नए राजनीतिक समीकरण भी दिखने लगे है। ऐसे में मंगलवार का दिन यूपी की राजनीति के लिए काफी अहम रहा। प्रदेश के पूर्व मुख्य्मंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव पहले ही राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के साथ यूपी विधानसभा चुनाव में साथ मिलकर उतरने की घोषणा कर चुके है। 

अखिलेश यादव ने मुलाकात की फोटो ट्वीट की और लिखा 'बदलाव की ओर' 

ऐसे में राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) और समाजवादी पार्टी (सपा) के बीच सीटों को लेकर बात फाइनल हो गई है। मंगलवार को लखनऊ में रालोद प्रमुख जयंत चौधरी ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। कुछ देर बाद ही अखिलेश यादव ने मुलाकात की फोटो ट्वीट की और लिखा 'बदलाव की ओर'। अखिलेश के बाद जयंत चौधरी ने भी एक तस्वीर शेयर कर बढ़ते कदम लिखते हुए अपने इरादों की झलक दे दी।  

दोनों दलों के बीच सीटों का मामला तय हो गया है 

माना जा रहा है कि दोनों दलों के बीच सीटों का मामला तय हो गया है। गठबंधन को अंतिम रूप दे दिया गया है। सूत्रों के अनुसार जयंत ने सपा से 50 सीटों की मांग की है। सपा नेतृत्व रालोद को 30 से 32 तक सीटें देने की पेशकश की है, जिससे दोनों दलों को अधिक नुकसान भी नहीं होगा।  

कद्दावर प्रत्याशियों को किसी भी (सपा या रालोद) सिंबल पर उतारा जा सकता है 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश की चार से पांच सीटें ऐसी भी हैं जिन पर दोनों दल अपने प्रत्याशी उतरना चाहते हैं। कहा जा रहा है कि इस तरह की सीटों पर कद्दावर प्रत्याशियों को किसी भी (सपा या रालोद) सिंबल पर उतारा जा सकता है। ऐसी ही एक सीट चरथावाल भी है। इस सीट पर दोनों दल अपना उम्मीदवार उतारने पर अड़े हैं। हाल ही में सपा की साइकिल पर सवार हुए हरेन्द्र मलिक को अखिलेश इस सीट से टिकट देना चाहते हैं, जबकि जयंत खुद इस सीट से उतरने के मूड में हैं। 

रालोद के अलावा ओम प्रकाश राजभर के साथ गठबंधन कर चुनावी मैदान में उतर रही है सपा  

सूत्रों ने बताया कि अगर सबकुछ ठीक रहा तो सपा कार्यालय से सीटों की औपचारिक घोषणा भी आज ही कर दी जाएगी। सपा फिलहाल रालोद के अलावा ओम प्रकाश राजभर की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ गठबंधन कर मैदान में उतर रही है। 

बैंकों को जानबूझकर कर्ज नहीं लौटाने वालों की अब खैर नहीं, केंद्रीय वित्त मंत्री सीतारमण ने बताई सरकार की योजना

कुछ छोटे दलों से भी बात फाइनल हो गई है, लेकिन उनके प्रत्याशियों को अपने ही सिंबल पर उतारने की सपा ने तैयारी कर रखी है। ऐसे में कहा जा रहा है कि सपा कुल 50 से 55 सीटें सहयोगियों को देगी। इनमें रालोद को पश्चिमी यूपी की 25 से 30 और सुभासपा को पूर्वांचल की दर्जन भर से अधिक सीटें मिलने की उम्मीद है।