बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को आरोप लगाया कि बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी सरकार की नाकामियों से लोगों का ध्यान हटाने के प्रयास के तहत गड़े मुर्दे उखाड़ने की कोशिश कर रहे हैं, जिससे जनता को सावधान रहने की जरूरत है।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, ”बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी अपनी सरकार की नाकामियों तथा घोर विफलताओं पर से लोगों का ध्यान हटाने एवं गरीबी तथा बेरोजगारी आदि के जनहित के मुद्दे को असली चुनावी बहस बनने से रोकने के लिये हर प्रकार के गड़े मुर्दे उखाड़ने की कोशिश में लगे हुए हैं।”

उन्होंने कहा ‘‘ यह अति निन्दनीय है। जनता सावधान रहे।’’ एक अन्य ट्वीट में मायावती ने कहा, ”प्रधानमंत्री मोदी ज्यादातर शिलान्यास में ही लगातार व्यस्त रहे और प्रचार-प्रसार पर 3044 करोड़ खर्च किया।” उन्होंने कहा कि इस सरकारी धन से उत्तर प्रदेश जैसे पिछड़े राज्य के हर गांव में शिक्षा और अस्पताल की व्यवस्था हो सकती थी लेकिन बीजेपी के लिये प्रचार का महत्व ज्यादा है, शिक्षा और जनहित का नहीं।