उत्तर प्रदेश के देवरिया में बाबा राघवदास स्नातकोत्तर महाविद्यालय की भूमि को वापस कराने की मांग को लेकर शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी से मुलाकात की। पार्टी सूत्रों ने यहां बताया कि बीआरडी पीजी कालेज में कृषि विषय की भी पढ़ई होती है। कालेज की भूमि को जिला प्रशासन द्वारा पट्टा कर दिया गया है। इसको लेकर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के जिलाध्यक्ष डा.अन्तर्यामी सिंह के नेतृत्व में भाजपा के जिलापदाधिकारियों,कालेज के शिक्षकों,छात्र संघ के पूर्व पदाधिकारियो, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं का एक प्रतिनिधि मंडल जिलाधिकारी अमित किशोर से मिला।

 प्रतिनिधि मंडल ने जिलाधिकारी को मांग पत्र देकर कहा कि पूर्वांचल कृषि बाहुल्य क्षेत्र है तथा उक्त महाविद्यालय कृषि क्षेत्र की शिक्षा एवं शोध की एकमात्र संस्था है।

महाविद्यालय के जमीन की अधिग्रहण से यहां के शिक्षार्थी,अभिभावक तथा आम जनता में आक्रोश है तथा उक्त भूमि अधिग्रहण जनहित के निर्णय के विरुद्ध है तथा यथा शीघ, अधिग्रहण की कार्रवाई को निरस्त करते हुये महाविद्यालय की जमीन को पूर्व की भाति महाविद्यालय के पक्ष में किया जाये तथा इससे सम्बंधित महाविद्यालय के छात्रो-अध्यापको पर दर्ज मुकदमे तत्काल वापस लिये जाये। जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि सम्बंधित भूमि अधिग्रहण आदेश पर उपजिलाधिकारी न्यायालय से स्थगन हो गया है। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि महाविद्यालय की जमीन महाविद्यालय को ही मिलेगी। साथ ही इस महाविद्यालय का पदेन अध्यक्ष होने के नाते इसे कृषि विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने में जो भी कमी है उसे जल्द पूरा कर इसे कृषि विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने का प्रयास होगा।