BREAKING NEWS

कुन्नूर हेलीकॉप्टर हादसे पर संसद में राजनाथ सिंह देंगे बयान, 11 लोगों के शव बरामद,रेस्क्यू ऑपरेशन जारी ◾सदन नहीं चलने देना चाहती केंद्र, खड़गे का दावा- महंगाई समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा से बच रही सरकार ◾राज्यसभा के निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्षी नेताओं का समर्थन जारी, संसद परिसर में दिया धरना ◾UP विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी किया 'महिला घोषणापत्र', नौकरियों में 40% आरक्षण समेत कई बड़े वादे◾CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी को ले जा रहा सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, कुन्नूर में हुआ हादसा ◾मोदी के बयान पर अखिलेश का करारा जवाब- लाल रंग भावनाओं का प्रतिक, हार का डर ला रहा भाषा में बदलाव ◾महंगाई, बेरोज़गारी और कृषि संकट की वजह सरकार की विफलता है, राहुल गांधी ने केंद्र पर लगाया आरोप ◾'पाकिस्तानी-खालिस्तानी' बुलाये जाने पर फारूक अब्दुल्ला ने जताया खेद, बोले- गांधी का भारत लाए वापस◾लालू के घर बजेंगी शहनाई, तेजस्वी यादव की शादी हुई पक्की, दिल्ली में आज या कल होगी सगाई ◾सोनिया ने केंद्र को बताया 'असंवेदनशील', किसानों के साथ रवैये और महंगाई जैसे मुद्दों पर किया सरकार का घेराव ◾World Corona Update : अब तक 26.7 करोड़ से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, मृतकों की संख्या 52.7 लाख से अधिक◾RBI ने रेट रेपो 4 प्रतिशत पर रखा बरकरार, लगातार 9वीं बार नहीं हुआ कोई बदलाव◾ओमीक्रॉन पर आंशिक रूप से असरदार है फाइजर वैक्सीन, स्टडी में दावा- बूस्टर डोज कम कर सकती है संक्रमण ◾UP चुनाव : आज योगी और राजभर जनसभा को करेंगे संबोधित, प्रियंका पहला महिला घोषणा पत्र जारी करेंगी ◾बिहार में PM मोदी, अमित शाह और प्रियंका चोपड़ा को लगी वैक्सीन! तेजस्वी यादव ने शेयर की लिस्ट◾मनी लॉन्ड्रिंग केस: ED के सामने आज पेश होंगी जैकलीन फर्नांडीज, गवाह के तौर पर दर्ज कराएंगी बयान ◾Today's Corona Update : भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 8,439 केस सामने आए, 195 लोगों की मौत◾जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच एनकाउंटर शुरू, इलाके की गयी घेराबंदी ◾किसानों की होगी घर वापसी या जारी रहेगा आंदोलन? एसकेएम की बैठक में आज होगा फैसला ◾ओमिक्रॉन के खतरे के बीच ओडिशा के सरकारी स्कूल में 9 छात्र कोरोना से संक्रमित, किया गया क्वारंटीन ◾

उप्र विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है भाजपा, हो सकता है भारत का विघटन : फारूक अब्दुल्ला

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने 'नफरत' को भारत में चुनाव जीतने का कारगर हथियार बताते हुए बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि भाजपा अगले साल के प्रारम्भ में उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है। अब्दुल्ला ने लोगों का आह्वान किया कि वे जम्मू-कश्मीर के साथ-साथ देश को बचाने के लिए नफरत से लड़ें। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर नफरत इसी तरह बढ़ती रही तो भारत का विघटन नहीं रोका जा सकता।

हमें सांप्रदायिकता से लड़ना है

पूर्व मुख्यमंत्री ने यहां पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, ‘‘हमें सांप्रदायिकता से लड़ना है। हमें हिंदुओं और मुसलमानों के बीच खड़ी की जा रही नफरत की दीवार को गिराना है। हमें इस नफरत को खत्म करना है। इसके बिना, न तो भारत बचेगा, न ही यह राज्य (जम्मू-कश्मीर)। अगर हमें भारत को बचाना है, तो हमें इस नफरत को खत्म करना होगा।’’ उन्होंने कहा कि नफरत की राजनीति को हथियार बना दिया गया है, जिसके आधार पर आजादी के बाद से चुनाव जीते जाते रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘...मैंने आजादी के बाद से हर चुनाव में इसे देखा है। 

भाजपा की नफरत पैदा करने और फूट डालने की राजनीति

मुस्लिम नेताओं को मुस्लिम इलाकों में ले जाया जाता है और हिंदू नेता हिंदू इलाकों में जाते हैं।’’ अब्दुल्ला ने भाजपा पर उत्तर प्रदेश में चुनाव जीतने के लिए नफरत पैदा करने और फूट डालने की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने 2019 के पुलवामा आतंकी हमले के परिणामस्वरूप पाकिस्तान के बालाकोट में किये गये हवाई हमले का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘पिछला चुनाव भी बालाकोट (स्ट्राइक) के आधार पर जीता गया था। भाजपा सरकार सत्ता में आई थी। आज, वे वही काम कर रहे हैं। वे उत्तर प्रदेश में चुनाव जीतने के लिए जम्मू में भी नफरत फैला रहे हैं।’’

 क्या हमने पाकिस्तान से कोई क्षेत्र वापस ले लिया है?

उन्होंने कहा, ‘‘क्या रेखा (नियंत्रण रेखा) बदल गई है। क्या हमने पाकिस्तान से कोई क्षेत्र वापस ले लिया है? रेखा जमीन पर मौजूद है। उन्होंने वहां अपनी ही योजना को विफल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।’’ यह कहते हुए कि नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) जम्मू-कश्मीर को विघटन से बचाएगी, उन्होंने कहा कि जम्मू, कश्मीर का प्रवेश द्वार है और कश्मीर, लद्दाख का प्रवेश द्वार है। उन्होंने कहा,‘‘अगर वे (भाजपा सरकार) सोचते हैं कि वे इस राज्य को तोड़ देंगे, तो मैं उनसे कहना चाहता हूं: सावधान, ऐसी मानसिकता न रखें। यह देश नहीं बचेगा।’’

अब्दुल्ला ने केंद्र के सत्तारूढ़ दल को चेतावनी दी कि बढ़ती नफरत भारत को विघटित कर सकती है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर यह नफरत यहां बढ़ती रही, तो मैं दिल्ली में शासन करने वालों से कहना चाहता हूं कि सावधान रहें, भारत टुकड़ों में बिखर जाएगा, जिसे वे रोक नहीं सकेंगे। वे इसे नहीं बचा सकते।’’