छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से प्रदेश में सीबीआई को बैन करने के फैसले पर भाजपा उन्हें घेरने में लगी है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बयान कि बिना छत्तीसगढ़ सरकार के अनुमति के सीबीआई छत्तीसगढ़ में नहीं घुस पाएगी। यह अपने आप में प्रदर्शित करता है कि मुख्यमंत्री सीबीआई से कितना डरे हुए हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर गृह विभाग ने केन्द्रीय कार्मिक, जनशिकायत एवं पेंशन मामले तथा केन्द्रीय गृह मंत्रालय को पत्र लिखा है।

ममता ने भाजपा पर साधा निशाना कहा- राजनीतिक फायदे के लिये CBI का दुरुपयोग कर रही है

इसके अनुसार प्रदेश का गृह विभाग सीबीआई के संबंध में वर्ष 2001 में केन्द्र को दी गई सहमति वापस लेता है। जिसमें केन्द्रीय गृह मंत्रालय की ओर से सीबीआई को प्रदेश में विभिन्न प्रकरणों की जांच के लिए अधिकृत करने की अधिसूचना जारी हुई थी।

रमन सिंह ने कहा कि सीबीआई को राज्य में घुसने से रोक रहे हैं यह निश्चित रूप से उनकी भावना और विचार प्रकट करता है।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि अभी छत्तीसगढ़ में सरकार में परिवर्तन हुए एक महीना भी नहीं हुआ लेकिन सीबीआई को लेकर राज्य सरकार द्वारा जो अनुमति वापस ली गई, एक राष्ट्रीय पार्टी का चरित्र और आचरण उसमें दिखाई नहीं दे रहा है। वास्तविकता में संघीय ढांचे का सम्मान करना चाहिए। लेकिन कहीं ना कहीं ऐसा लगता है उनमें आत्मविश्वास की कमी है।