BREAKING NEWS

CM शिंदे का विपक्ष पर प्रहार, कहा- महाराष्ट्र सरकार के अच्छे काम को हजम नहीं कर पा रहे विरोधी◾सीमा विवाद से जुड़े CM बोम्मई के बयान को लेकर राकांपा ने महाराष्ट्र सरकार, केंद्र और भाजपा को लिया आड़े हाथ ◾दिल्ली की अदालत ने कुख्यात अपराधी लॉरेंस बिश्नोई की NIA हिरासत चार दिन के लिए बढ़ाई◾राजस्थान में कानून व्यवस्था ध्वस्त, भाजपा ने सीकर हत्याकांड को लेकर गहलोत सरकार पर साधा निशाना◾नकवी ने विपक्षी दलों पर कसा तंज, बोले- भाजपा राज में हुए विकास से वोटों के स्वयंभू स्वामी दिवालिया हो चुके ◾भारत जोड़ो यात्रा बना बयानबाजी का प्लेटफॉर्म, राहुल ने ईंधन के दाम को लेकर प्रधानमंत्री पर साधा निशाना ◾Pak नहीं आ रहा अपनी करतूतों से बाज, पंजाब के फाजिल्का में 25 kg हेरोइन, पिस्तौल एवं गोलाबारूद बरामद◾भूकंप के तेज झटकों से कांपा इंडोनेशिया का मुख्य द्वीप, रिक्टर स्केल पर 5.7 रही तीव्रता ◾UP News: सपा विधायक नाहिद हसन को मिली राहत, चित्रकूट जेल से हुए रिहा◾एमसीडी चुनाव में बीजेपी और केजरीवाल की तरफ से किए गए बड़े वादे, क्या जनता करेगी विश्वास?◾मां-बाप की मौत का बदला लेने के लिए बेटी बनी कातिल◾हाई अलर्ट पर राष्ट्रीय राजधानी, MCD चुनाव के लिए कड़े सुरक्षा इंतजाम◾Bharat Jodo Yatra: गहलोत-पायलट विवाद के बीच रविवार को राजस्थान पहुंचेगी राहुल की यात्रा, तैयारियों में जुटे नेता ◾MCD चुनाव में AIMIM की एंट्री से बिगड़ जाएगा समीकरण, ओवैसी के 15 उम्मीदवार दे रहे टक्कर ◾यूनियन कार्बाइड की ‘गलती और लापरवाही’ से भोपाल में ‘अविस्मरणीय’ आपदा हुई : CM शिवराज◾Maharashtra: शिंदे सरकार को झटका, हाई कोर्ट ने फैसले पर लगाई रोक, जानें पूरा मामला ◾कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- मेरी टिप्पणी का दुरुपयोग कर रही है भाजपा◾मथुरा : शौच के लिए गई दलित नाबालिग की गैंगरेप के बाद हत्या, पुलिस ने गिरफ्तार किए दो आरोपी◾UP News: आजम खान की बढ़ी मुश्किलें, 'भड़काऊ' शब्दों का इस्तेमाल करने के आरोप में एक और केस दर्ज ◾Tamil Nadu: किसानों को मिली राहत, बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिए 134 करोड़ रुपये के कृषि कर्ज◾

मुख्यमंत्री योगी का ऐलान - यूपी में 24 घंटे बिजली मिलने का सपना जल्द होगा साकार

उत्तर प्रदेश में 24 घंटे निर्बाध बिजली की आपूर्ति का सपना जल्द ही साकार होने वाला है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लगातार प्रयासों से प्रदेश में स्थापित पारेषण तंत्र की भार वहन क्षमता 25000 मेगावाट हो चुकी है। बीते चार सालों में इसमें 53 फीसदी तक इजाफा हुआ है। 

मुख्यमंत्री योगी, शनिवार को 571.57 करोड़ की लागत से निर्मित 220 केवी के 02 तथा 132 केवी के 09 उपकेन्द्रों का लोकार्पण एवं 1347.91 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले 220 केवी के 10 व 132 केवी के 06 उपकेन्द्रों का शिलान्यास कर रहे थे। योगी ने कहा कि वर्तमान में लगभग 6100 करोड़ रुपये की लागत की पारेषण परियोजनाओं के कार्य पब्लिक - प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) पद्धति से कराया जा रहा है। कहा कि लॉकडाउन में जब लोग घर पर थे, तब बिजली की मांग भी बहुत थी। बावजूद इसके प्रदेश में सभी स्थान पर निर्बाध और पर्याप्त बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की गई। 

योगी ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए विद्युत क्षेत्र में 'आत्मनिर्भरता' की जरूरत है। आज के युग में बिजली, विकास के लिए मुख्य अवयव है। खेती -किसानी हो, उद्योग-धंधे हों, मेडिकल हो या फिर अध्ययन-अध्यापन, हर कहीं बिजली की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने उपभोक्ताओं की हर छोटी-बड़ी समस्या के त्वरित निस्तारण के निर्देश देते हुए उपभोक्ताओं से समय से बिजली बिल जमा करने की अपील भी की है। उन्होंने कहा कि अगर हम ऐसा कर सकें तो 24 घंटे बिजली आपूर्ति का सपना साकार होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विद्युत पारेषण तंत्र के उत्तरोत्तर विकास की श्रृंखला की नवीनतम कड़ी के में आज प्रदेश को 27 उपकेंद्रों का उपहार मिल रहा है, इससे अन्य उपकेंद्रों पर भार कम होगा तथा बिजली आपूर्ति और बेहतर होगी। नवलोकर्पित उपकेंद्र बुलंदशहर, मुजफ्फरनगर अयोध्या, चित्रकूट, सीतापुर और मिजार्पुर जिले में स्थापित हैं, जबकि लखनऊ, वाराणसी, फतेहपुर, गोण्डा, झांसी, फरुर्खाबाद, आगरा, सहारनपुर, मेरठ, महाराजगंज, भदोही, फिरोजाबाद, बस्ती, बांदा, बागपत, कुशीनगर में उपकेंद्रों का शिलान्यास किया गया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 1.21 लाख से अधिक गांव व मजरों में विद्युतीकरण का कार्य हुआ है। 1.38 करोड़ उपभोक्ताओं को नि:शुल्क विद्युत के कनेक्शन उपलब्ध कराए गए हैं। टोल फ्री नंबर जारी कर किसानों और उपभोक्ताओं की समस्याओं के निराकरण का काम हुआ है। निर्बाध विद्युत आपूर्ति ने किसानों की लागत को कम किया है और उत्पादन बढ़ाने में योगदान दिया है। आज गांव हों या शहर, हर ओर बिजली चमकती हुई दिखाई देती है। इन परियोजनाओं से प्रदेश में लगभग सभी कमिश्नरी को लाभ मिलेगा। 

शिलान्यास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की ऊर्जा क्षेत्र के उत्तरोत्तर विकास की प्रतिबद्धता आज मूर्त रूप ले चुकी है, जिसके सुखद परिणाम मिल रहे हैं। बिजली उत्पादन, पारेषण और वितरण सुचारु है। 

प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि लगातार हो रहे नियोजित प्रयासों से आज प्रदेश में लो-वोल्टेज की समस्या खत्म हो चली है। रोस्टर का पूरा अनुपालन करते हुए उपभोक्ताओं की शिकायतों का पूरी गंभीरता के साथ निस्तारण किया जा रहा है।