BREAKING NEWS

FATF ने पाक को ‘ग्रे सूची’ में कायम रखा, कार्रवाई की चेतावनी दी ◾दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को कोर्ट ने सुनाई 6 महीने की सजा, मिली जमानत◾महेंद्रगढ़ रैली में राहुल का प्रधानमंत्री पर वार, बोले-मोदी को नहीं है अर्थव्यवस्था की कोई समझ◾मोदी को डर, 'घेराबंदी' हटने पर कश्मीर में होगा खूनखराबा : इमरान खान◾हिसार में बोले PM मोदी-कांग्रेस ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में पहले ही मान ली है हार◾लखनऊ में हिंदू महासभा के पूर्व नेता की कमलेश तिवारी की गोली मारकर हत्या◾महाराष्ट्र : शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना, पूछा-70 साल के शासन में जनजातीय समुदाय के लिए क्या किया?◾INX मीडिया मामले में CBI ने पी चिदंबरम के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया◾गोहाना रैली में PM मोदी का कांग्रेस पर वार, बोले-सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते ही बढ़ जाता है पेट दर्द◾जयाप्रदा का आजम खान पर तंज, बोलीं- उन्हें औरत के आंसुओं की सजा मिल रही है◾दिल्ली की वायु गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में, सप्ताहांत तक भारी गिरावट की उम्मीद ◾PMC बैंक: सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इनकार, कहा- खटखटा सकते हैं हाई कोर्ट का दरवाजा◾CJI गोगोई ने केंद्र से की जस्टिस बोबडे को अगला प्रधान न्यायाधीश बनाने की सिफारिश◾हरियाणा विधानसभा चुनाव : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का महेंद्रगढ़ दौरा रद्द, राहुल करेंगे रैली को संबोधित◾IMF की ताजा रिपोर्ट पर बोली वित्त मंत्री- भारत सबसे तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्थाओं में शामिल◾भाजपा की तरह कांग्रेस का भी बना हाईटेक कार्यालय, 2020 में होगी शिफ्टिंग ◾मध्य प्रदेश की सियासत में 'हेमा के गाल और चील-कौवे' की एंट्री◾सीतारमण का मनमोहन को जवाब- किसी खास अवधि में कब और क्या गलत हुआ इसे याद करना जरूरी◾कांग्रेस-राकांपा को महाराष्ट्र की जनता सबक देगी : नरेंद्र मोदी◾सोनिया गांधी बोली- कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव से पहले नेता सामूहिक नेतृत्व में काम करें◾

उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विकास की धार से बना रहे उपचुनाव में जीत का रास्ता

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का उपचुनाव का अनुभव अभी तक अच्छा नहीं रहा है। इसी कारण पार्टी की अब पूरी कोशिश है कि उत्तर प्रदेश में होने वाले उपचुनावों में आम चुनाव जैसी लहर चले। इसी कोशिश के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उपचुनाव वाले क्षेत्रों में विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर जीत का रास्ता तैयार करने में लगे हैं। 

योगी ने 28 अगस्त को बहराइच जिले का दौरा किया। जिले के बलहा क्षेत्र में उपचुनाव होना है। बहराइच में योगी ने 57 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और 12 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री योगी ने छह सितंबर को सहारनपुर में 450 करोड़ रुपये, सात सितंबर को प्रतापगढ़ में 2़ 18 अरब की 165 परियोजनाओं, सात को ही अंबेडकरनगर में 287 करोड़ रुपये, 13 सितंबर को चित्रकूट में 181 करोड़ रुपये, 14 को फीरोजाबाद के टुंडला में 391 करोड़ रुपये और 14 सितंबर को ही अलीगढ़ में 1135 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर सरकार की ढाई वर्ष की उपलब्धियों और भविष्य की योजनाओं का खाका खींचा है।

जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी BAT की घुसपैठ को किया नाकाम, देखें VIDEO

 हमीरपुर में उपचुनाव अगले सप्ताह ही होना है, जबकि सहारनपुर के गंगोह, रामपुर, अलीगढ़ के इगलास, फीरोजाबाद के टुंडला, कानपुर के गोविंदनगर, चित्रकूट के मानिकपुर, लखनऊ के कैंट, बाराबंकी के जैदपुर, अंबेडकरनगर के जलालपुर, प्रतापगढ़, बहराइच के बलहा और मऊ जिले के घोसी विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव की अधिसूचना जारी होनी है। इसके पहले ही योगी ने व्यापक दौरा कर योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर सियासी माहौल तैयार किया है। 

वरिष्ठ राजनीतिक विश्लेषक प्रेमशंकर मिश्रा का कहना है कि आम चुनाव में अजेय रहनी वाली बीजेपी के लिए उपचुनाव जीतना हमेशा मुश्किल भरा साबित हुआ है। साल 2014 के बाद हुए अधिकतर उपचुनाव में बीजेपी को करारी शिकस्त मिलती रही है। योगी की अगुवाई में पार्टी इस सिलसिले को खत्म करना चाहती है। 

उन्होंने कहा कि विकास और राष्ट्रवाद बीजेपी की राजनीतिक रणनीति के दो पहिये हैं, जिनके आधार पर वह अपनी जीत की गाड़ी को आगे बढ़ाती रही है। इसीलिए अभियानों के माध्यम से अनुच्छेद 370 और तीन तलाक की चर्चा पहुंचाई जा रही है। वहीं विकास की योजनाओं से जनता को साधने का प्रयास किया जा रहा है। 

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ़ चंद्रमोहन ने कहा, 'बीजेपी ने विकास किया है। इसी का संदेश बीजेपी जन-जन तक पहुंचा रही है। प्रदेश की जनता मोदी और योगी के साथ हैं। हम काम करने वाले लोग हैं। इसी के आधार पर चुनाव जीतेंगे। हम गठबंधन को हराकर जीतने वाले लोग हैं। हमें लोकतंत्र में विश्वास है।'

उन्होंने कहा, 'हमारे मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, संगठन मंत्री हर जगह जाकर विकास का संदेश दे रहे हैं। हम जनता के बीच जाना अपना सौभाग्य समझते हैं। बीजेपी संगठन और सरकार मिलकर सरकार की योजनाएं जनता तक पहुंचाने में लगे हुए हैं।' वर्ष 2012 के बाद उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 12 विधानसभा उपचुनाव हुए हैं। 

बीजेपी इनमें से केवल तीन- लखनऊ पूर्व, नोएडा और सहारनपुर ही जीत पाई है। लोकसभा उपचुनावों में उसका प्रदर्शन तो और भी खराब है। गोरखपुर, फूलपुर, कैराना और नूरपुर विधानसभा उपचुनाव बीजेपी हार गई थी। हालांकि सिकंदरा, निघासन और आगरा विधानसभा क्षेत्र के उपचुनावों में बीजेपी को सफलता भी मिली। इसी को देखते हुए सरकार और संगठन ने पूरी ताकत लगा दी है। 

लोकसभा चुनाव में अपने सहयोगी अपना दल (एस) के साथ मिलकर यूपी की 80 में से 64 सीटें जीतने वाली बीजेपी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह के राजनैतिक कौशल की पहली परीक्षा विधानसभा उपचुनाव ही लेने वाले हैं। जिन जिलों में चुनाव होने हैं, वहां पर मंत्री और संगठन के लोगों को नियुक्त किया गया है। प्रभारी मंत्री जिलों में जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करने के साथ सरकार की योजनाओं के क्रियान्वन की समीक्षा भी करेंगे।