BREAKING NEWS

भारत में यूएई जैसे हमले की योजना बना रहा ISI, चीन से ड्रोन खरीद रहा पाकिस्तान◾मुलायम सिंह का आशीर्वाद लेकर BJP में शामिल हुई अपर्णा, बोलीं- परिवार से विमुख नहीं, मैं स्वतंत्र हूं... ◾अमित पालेकर होंगे आगामी गोवा विधानसभा चुनाव में AAP का CM फेस, अरविंद केजरीवाल ने किया ऐलान ◾भारत में 15 फरवरी तक चरम पर होगा ओमीक्रॉन, स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने किया दावा- तीसरी लहर जल्द हो सकती है समाप्त◾उत्तराखंड चुनाव: कांग्रेस की CEC बैठक में 70 सीटों पर होगा फैसला, जल्द जारी होगी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट ◾श्रीलंका के तमिल नेताओं ने PM मोदी को लिखा पत्र, 13वें संशोधन को लागू करने की मांग की, जानें पूरा मामला◾UP: हाथरस पीड़ित का परिवार नहीं लड़ेगा विधानसभा चुनाव, कहा- पहले हमें इंसाफ दिलाओ◾UP चुनाव में JDU को नहीं मिला BJP का साथ, केसी त्यागी ने किया पार्टी के अकेले मैदान में उतरने का ऐलान ◾UP विधानसभा चुनाव: नेताओं को रिझाने के लिए कांग्रेस कर रही तरह-तरह के जतन ◾अखिलेश के चुनाव लड़ने पर BJP का तंज, नक़वी बोले-जुगाड़ से चल रही है विपक्ष का चौधरी बनने की जंग◾विश्व में कहीं खत्म नहीं हुआ कोरोना का आतंक, WHO ने ओमीक्रॉन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा? ◾World Corona: कोविड के वैश्विक मामलों में वृद्धि का दौर जारी, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33.35 करोड़ के पार◾BJP ने मुलायम परिवार में लगाई बड़ी सेंध, भगवा दल में शामिल हुईं अपर्णा यादव ◾उत्तराखंड और गोवा चुनाव: BJP की CEC बैठक में उम्मीदवारों के नामों पर लगेगी मुहर, सीटों पर होगी चर्चा ◾कोविड 19 के गहराते संकट से जल्द मिलेगी राहत! कोरोना की तीसरी लहर को लेकर SBI के शोध में बड़ा दावा◾UP Assembly Election : सपा प्रमुख अखिलेश यादव लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾today's corona case: बीते 24 घंटों में कोविड के मामलों में हुई वृद्धि, सामने आए 2 लाख 82 हजार से ज्यादा नए मरीज◾UP : कोरोना गाइडलाइंस उल्लंघन मामले में सपा को राहत, चुनाव आयोग ने हिदायत देकर छोड़ा◾कोरोना ने डाला गणतंत्र दिवस समारोह पर असर, जानिए कौन होगा इस बार मुख्य अतिथि? ◾उत्तर भारत में अभी ठंड से ठिठुरन का सिलसिला रहेगा जारी, तो दिल्ली-UP समेत इन राज्यों में बारिश की संभावना◾

कैराना में CM योगी की हुंकार- सुरक्षा में सेंधमारी करने पर दूसरे लोक की करनी होगी यात्रा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को शामली जिले के कैराना का दौरा किया और लोगों को आश्वासन दिया कि उनके शासन में, जिन्होंने 2016 में लोगों को पलायन करने के लिए मजबूर किया था, वे खुद राज्य से बाहर चले गए हैं। मुख्यमंत्री ने अपने दौरे के दौरान एक प्रोविन्शियल आर्म्ड कांस्टेबुलरी (पीएसी) बटालियन शिविर और अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखी।

कुकर्मों के लिए भुगतान करना होगा

उन्होंने उन लोगों के एक समूह से मुलाकात की, जो 2016 में कैराना छोड़ कर लौट आए थे। 2017 में मुख्यमंत्री बनने के बाद शहर का यह उनका पहला दौरा था। उन्होंने कहा, "2014 और 2016 के बीच, कैराना में कई हिंदू परिवार दूसरे समुदाय से जबरन वसूली की धमकी के कारण पलायन कर गए थे। हालांकि, मेरे शासन में, जिन्होंने आपको कैराना छोड़ने के लिए मजबूर किया, वे अब जगह छोड़ चुके हैं क्योंकि वे जानते हैं कि उन्हें उनके कुकर्मों के लिए भुगतान करना होगा।"

उत्तर प्रदेश में तालिबानी मानसिकता स्वीकार नहीं की जाएगी

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में तालिबानी मानसिकता स्वीकार नहीं की जाएगी और इसे राज्य में नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में सुरक्षा सबको मिलेगी लेकिन सुरक्षा में किसी ने सेंधमारी की तो उसे पता है कि फिर किस लोक की यात्रा करनी है। योगी बोले कि 250 करोड़ की लागत से पीएसी की बटालियन कैराना में आएगी, ये सुरक्षाकर्मी दंगाइयों को दूसरे लोक पहुंचाएंगे।

2017 के विधानसभा चुनाव में कैराना से हिंदू परिवारों का पलायन एक बड़ा मुद्दा था

कैराना से पलायन को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली तत्कालीन उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया था। 2017 के विधानसभा चुनाव में कैराना से हिंदू परिवारों का पलायन एक बड़ा मुद्दा था। अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले इन परिवारों के साथ मुख्यमंत्री की बैठक राजनीतिक महत्व रखती है।योगी आदित्यनाथ ने केंद्र और राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को भी सूचीबद्ध किया जो गरीबों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाई गई हैं।

BSF के अधिकार क्षेत्र पर आपस से भिड़े कांग्रेसी, मनीष तिवारी ने पंजाब सरकार के खिलाफ ही खोला मोर्चा