BREAKING NEWS

IPL-13 : चेन्नई सुपर किंग्स ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ टॉस जीता, गेंदबाजी का फैसला◾एकजुटता दिखाते हुए विपक्ष ने लोकसभा का किया बहिष्कार, कृषि मंत्री बोले - कांग्रेस के भ्रम में न आये जनता◾सरकार ने बताया 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना के विज्ञापन पर 2014 से कितने करोड़ खर्च हुए◾IPL-13 के CSK vs MI के उद्घाटन मैच ने व्यूअरशिप में तोड़े रिकॉर्ड, इतने करोड़ लोगों ने मुकाबला ◾2015 से अबतक प्रधानमंत्री मोदी की 58 विदेश यात्राएं, विदेश मंत्रालय ने खर्च का किया खुलासा ◾सुशांत केस : रिया चक्रवर्ती की 6 अक्तूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत, जमानत पर HC में सुनवाई कल ◾ IIT के दीक्षांत समारोह में पीएम मोदी ने कहा-NEP आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी ◾राज्यसभा से निलंबित सांसदों के समर्थन में आए NCP प्रमुख, बोले- मैं भी रखूंगा एक दिन का उपवास◾विपक्ष के बहिष्कार के बीच कृषि से जुड़ा तीसरा बिल पास, आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक पर संसद की मुहर◾UN में भारत की पाकिस्तान को दो टूक जवाब- कश्मीर की बजाय आतंकवाद खत्म करने पर ध्यान दें◾राज्यसभा से निलंबित सांसदों का धरना खत्म, अब मॉनसून सत्र का बहिष्कार करेगा पूरा विपक्ष ◾कृषि बिल : राहुल का मोदी सरकार पर वार- किसानों को करके जड़ से साफ, पूंजीपति ‘मित्रों’ का खूब विकास'◾सांसदों का निलंबन रद्द किए जाने तक राज्यसभा कार्यवाही का बहिकार करेगा विपक्ष : गुलाम नबी आजाद◾भारत और चीन के बीच मोल्डो में 13 घंटे तक चली कमांडर-स्तरीय हाई लेवल मीटिंग, LAC विवाद पर हुई चर्चा ◾राज्यसभा से निलंबित हुए सदस्यों को चाय पिलाने पहुंचे उपसभापति, पीएम मोदी ने की तारीफ ◾देश में कोरोना से 89 हजार के करीब लोगों ने गंवाई जान, पॉजिटिव केस 55 लाख के पार ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 12 लाख के पार◾जम्मू-कश्मीर : सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी◾सुशांत सिंह की मौत के मामले की जांच कर रही CBI और मेडिकल बोर्ड की बैठक आज होगी ◾IPL-13: बेंगलोर का टूर्नामेंट में जीत से आगाज, हैदराबाद को 10 रनों से दी शिकस्त ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के विरोध में BJP मुख्यालय पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

उन्नाव रेप पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में मौत के बाद विपक्षी दलों सपा और कांग्रेस ने शनिवार को उत्तर प्रदेश सरकार पर हल्ला बोल दिया है। पीड़िता की मौत की खबर मिलने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव विधानभवन के सामने धरने पर बैठ गए और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आनन-फानन में लखनऊ से उन्नाव रवाना हो गई। 

वही, घटना के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सत्तारूढ़ भाजपा के राज्य मुख्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने व्यवस्था बनाए रखने के लिए उन पर बल प्रयोग किया। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की। इस दौरान पुलिस ने लाठी चार्ज किया। 

अखिलेश यादव विधान भवन के मुख्य द्वार के सामने धरने पर बैठ गए। बाद में उन्होंने इसे काला दिन करार दिया और इस घटना के लिए प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने ऐलान किया कि इस घटना के खिलाफ रविवार को समाजवादी पार्टी प्रदेश के हर जिला मुख्यालय पर शोक सभा का आयोजन करेगी। 

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत: योगी बोले- फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई, आरोपियों को दिलाई जाएगी कड़ी सजा

सपा अध्यक्ष ने कहा कि योगी सरकार के कार्यकाल में यह कोई पहली घटना नहीं है। उधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा बलात्कार पीड़िता की मौत के बाद उसके परिजन से मुलाकात करने के लिए उन्नाव पहुंचीं। वहां उन्होंने पीड़िता के परिजन से मुलाकात कर उन्हें हिम्मत बंधायी और कहा कि कांग्रेस न्याय के लिये लड़ाई लड़ेगी। 

इससे पहले, प्रियंका ने ट्वीट किया,"मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वह उन्नाव पीड़िता के परिवार को इस दुख की घड़ी में हिम्मत दे।" उन्होंने कहा, "यह हम सबकी नाकामयाबी है कि हम उसे न्याय नहीं दे पाए। सामाजिक तौर पर हम सब दोषी हैं लेकिन यह उत्तर प्रदेश में खोखली हो चुकी कानून व्यवस्था को भी दिखाता है।"

बसपा मुखिया मायावती ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार पीड़िता के परिवार को न्याय दिलाने के लिए शीघ्र पहल करे। उन्होंने ट्वीट किया "जिस उन्नाव बलात्कार पीड़िता को जलाकर मारने की कोशिश की गई, उसकी कल रात दिल्ली में हुई दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक। इस दुःख की घड़ी में बसपा पीड़ित परिवार के साथ है। उत्तर प्रदेश सरकार पीड़ित परिवार को समुचित न्याय दिलाने हेतु शीघ्र ही विशेष पहल करे, यही इंसाफ का तकाज़ा व जनता की मांग है।" 

उन्होंने कहा, ''साथ ही, इस किस्म की दर्दनाक घटनाओं को उत्तर प्रदेश सहित पूरे देशभर में रोकने के लिये राज्य सरकारों को चाहिए कि वे लोगों में कानून का खौफ पैदा करें तथा केन्द्र भी ऐसी घटनाओं को मद्देनजर रखते हुये दोषियों को निर्धारित समय के भीतर ही फांसी की सख्त सजा दिलाने का कानून जरूर बनाए।" 

मालूम हो कि उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली करीब बलात्कार पीड़िता को गुरुवार तड़के पांच लोगों ने आग के हवाले कर दिया था। आरोपियों में से दो के खिलाफ पीड़िता ने बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया था। करीब 90 प्रतिशत तक झुलस चुकी युवती को एअरलिफ्ट कराकर दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई।