BREAKING NEWS

मोहम्मद जुबैर को लगा बड़ा झटका, जमानत याचिका खारिज, हिरासत में भेजा गया ◾कन्हैयालाल की हत्या का आरोपी BJP का सदस्य नहीं, बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने सभी दावों का किया खंडन◾शिंदे को शिवसेना से निकालने पर भड़के बागी, कहा - हमारी भी एक सीमा ◾ Amravati Murder Case: अमरावती में हुई उदयपुर जैसी घटना, 54 साल के केमिस्ट की गला काटकर हत्या◾ Udaipur Murder Case: कांग्रेस का बड़ा दावा, कन्हैया हत्याकांड में आरोपी रियाज के BJP नेताओं से संबंध◾पाकिस्तानी सैन्य जनरलों को प्रोपर्टी डीलर बोलने वाले पत्रकार पर हमला ◾सीएम रह चुके फडणवीस कैसे डिप्टी सीएम बनने के लिए हो गए राजी ! भाजपा ने कैसे मनाया ◾महाराष्ट्र : विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए MVA ने राजन साल्वी को बनाया उम्मीदवार, कल होगा चुनाव◾वायनाड में बोले राहुल- मनरेगा की गहराई को नहीं समझ पाए प्रधानमंत्री मोदी◾टेक्सास सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात की अनुमति बहाल करने वाले आदेश पर रोक लगाई◾दिल्ली पुलिस ने फैक्ट-चेकर मोहम्मद जुबैर पर लगाए विदेशी चंदा लेने और सबूत मिटाने के आरोप◾'छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता...' सामना के जरिए शिवसेना का फडणवीस पर तंज◾उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र में सत्ता खोने के बाद 'शिवबंधन' बनाने का कर रहे हैं विचार◾उदयपुर हत्याकांड : NIA कोर्ट में पेश किए जायेंगे आरोपी, रिमांड की मांग करेगी जांच एजेंसी◾मुझे भी मिला था ऑफर, लेकिन मैं हूं एक सच्चा शिवसैनिक : संजय राउत ◾CORONA UPDATE : देश में कोरोना संक्रमण के 17 हज़ार से अधिक मामले सामने आए, 29 मरीजों की हुई मौत ◾उदयपुर हत्याकांड के विरोध में आज अलवर बंद, पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट ◾5 हजार फीट पर स्पाइस जेट की फ्लाइट में दिखा धुआं, दिल्ली में हुई इमरजेंसी लैंडिंग◾राजधानी में अगले हफ्तेभर तक रहेगा बरसात का मौसम, लोगों को गर्मी से मिली राहत ◾BJP Meeting : 18 साल बाद हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, ये है पूरा कार्यक्रम◾

आदिवासी वनवासी समुदाय के विकास के बिना देश और समाज का विकास नहीं हो सकता : कोविंद

पूर्वांचल के तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को कहा कि आदिवासी वनवासी समुदाय के विकास के बिना देश और समाज का विकास नहीं हो सकता। कोविंद त्रलि में बाभनी ब्लाक के कारिडाड़,चपकी स्थित सेवा समर्पण संस्थान द्वारा संचालित सेवा कुंज आश्रम में नवनिर्मित स्कूल, छात्रावास आदि का लोकार्पण करने पहुँचे थे। 

उन्होने कहा ‘‘जब भगवान राम ने रावण से युद्ध में विजय पायी थी उसमें वनवासियों का बहुत बड़ सहयोग था उसी प्रकार यदि देश और समाज आगे बढाना है तो पहले वनवासी समाज को आगे ले जाना होगा।’’ राष्ट्रपति ने कहा कि सोनभद्र भरड़ चार प्रदेशों की सीमाओं से घिरा हुआ है, ऐसे स्थान पर स्कूल और हास्टल संचालित होने से उत्तर प्रदेश सहित अन्य प्रदेशों के सीमावर्ती इलाक़ के वनवासी छात्रों को भी लाभ होगा। उन्होने कहा कि वनवासी क्षेत्र उनके लिए तीर्थस्थल जैसे हैं। यदि वनवासी प्रोत्साहित हों तो देश ही नहीं विदेशों में भी भारत का नाम रोशन करेंगे। पिछड़े,दलित एवं आदिवासियों,वनवासियों का विकास जरुरी है। 

उन्होंने एनटीपीसी द्वारा निर्माण कार्य कराए जाने पर उनकी सराहना की। उन्होंने मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल से अनुरोध किया कि केंद्र सरकार से तालमेल बैठाकर वनवासियों को आगे बढ़ने में योगदान करें। 

राष्ट्रपति ने कहा कि भारत की आत्मा वनवासी आदिवासी क्षेत्रों में बसती है यदि कोई भी इस कल्चर से परिचित होना चाहता है तो उसे सोनभद, जैसे त्रलिं में समय बिताना चाहिए। आदिवासी समाज के विकास के बिना समग्र, विकास अधूरा है। केंद्र और राज्य की सरकारें इनके विकास के अनेक कार्यक्रम चला रहे हैं। वनवासी समाज की अनेक प्रतिभाओं ने देश में अच्छा कार्य किया। विलुप्त होती जा रही वनवासी कलाओं के विकास के लिए सेवा समर्पण संस्थान कार्य कर रहा है यह देखकर खुशी हो रही है। 

उन्होने कहा कि महापुरुषों की स्मृतियों और लोक कलाओं तथा गीतों के संरक्षण का कार्य भी किया जा रहा है। आशा करता हूँ कि वनवासी क्षेत्रों के विकास के लिए और कार्य भी प्रदेश सरकार द्वारा किया जाता रहेगा। कोविंद ने सेवा समर्पण संस्थान द्वारा संचालित उक्त सेवा कुंज आश्रम परिसर में निर्मित स्कूल,छात्रावास और भोजनालय भवनों का लोकार्पण किया। उक्त निर्माण एन टी पी सी रिहंद द्वारा सी एस आर के तहत कराया गया था।

 एन टी पी सी द्वारा लगभग ज्ञारह करोड़ रुपयों की लागत से 18 क्लासरूम और 24 कमरों के छात्रावास का निर्माण कराया गया है साथ हाई अन्य कमरों का भी निर्माण चल रहा है। इसके अतिरिक्त अबाध विद्युत आपूर्ति के लिए 40 किलोवाट का सोलर पावर भी स्थापित किया। सभी कार्यक्रम में राष्ट्रपति के साथ भारत की प्रथम महिला सविता कोविंद, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।