BREAKING NEWS

अमेरिका ने हाफिज सईद की पूर्व में हुई गिरफ्तारियों को बताया 'दिखावा', कहा- गतिविधियों पर कोई फर्क नहीं पड़ा◾योगी सरकार को प्रियंका गांधी से डर क्यों लगता है : सुरजेवाला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के पूर्व विभाग से महत्वपूर्ण फाइलें गायब◾प्रियंका गांधी ने गेस्ट हाउस में बिताई रात, प्रशासन से दूसरे दौर की बातचीत भी नाकाम◾चंद्रकांत पाटिल का दावा : चुनाव से पहले विपक्ष के कई नेता BJP होंगे शामिल◾एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का सफल परीक्षण◾सोनभद्र जाने पर अड़ीं प्रियंका गांधी ,जमानत लेने से किया इनकार, बोलीं- जेल जाने को तैयार हूं◾योगी सरकार ने की प्रियंका की ‘गैरकानूनी गिरफ्तारी’, राज्य सरकार में अपराधियों को संरक्षण : कांग्रेस ◾जारी रहेगी MS Dhoni की धूम, मैनेजर बोले - माही की अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं◾कर्नाटक : विधानसभा विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के बिना सोमवार तक स्थगित ◾रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में कम हुई मानसून की सक्रियता : नदियां लबालब

उत्तर प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में पिछले दिनों हुई जोरदार बारिश से नदियां उफान पर हैं। केन्द्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक, जलभरण क्षेत्रों में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से शारदा, घाघरा, बूढ़ी राप्ती, क्वानो और गण्डक समेत विभिन्न नदियों का जलस्तर बढ़ा है। 

घाघरा नदी पलियाकलां (खीरी) में जबकि बूढ़ी राप्ती नदी ककरही (सिद्धार्थनगर) में खतरे के निशान को पार कर गयी है। 
इसके अलावा, घाघरा नदी का जलस्तर एल्गिनब्रिज (बाराबंकी), अयोध्या और तुर्तीपार (बलिया) में लाल चिह्न के नजदीक पहुंच गया है। इसके अलावा राप्ती नदी भिनगा (श्रावस्ती) और बलरामपुर में, सरयू नदी गायघाट (बहराइच) में, शारदा नदी शारदानगर (खीरी) में, गंगा नदी कछला पुल (बदायूं) में जबकि क्वानो नदी चंद्रदीपघाट (गोण्डा) और गण्डक नदी खड्डा (कुशीनगर) में खतरे के निशान के आसपास बह रही है। 

इधर, पूरे प्रदेश में मानसून की सक्रियता में फिलहाल कुछ कमी के बीच ज्यादातर हिस्सों में उमस भरी गर्मी का दौर शुरू हो गया है। आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक पूर्वी उत्तर प्रदेश में दक्षिण-पश्चिमी मानसून सामान्य है, मगर इसकी चाल कुछ मद्धिम जरूर पड़ी है। अगले चार-पांच दिनों तक इसके जोर पकड़ने की सम्भावना भी नहीं है।
 
पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कुछ स्थानों पर बारिश हुई। कुछ जगहों पर भारी वर्षा भी हुई। इस अवधि में बस्ती में सबसे ज्यादा 18 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गयी। इसके अलावा डुमरियागंज में 11, बलरामपुर में 10, काकरधारीघाट और अयोध्या में नौ-नौ, खलीलाबाद, चंद्रदीपघाट तथा नानपारा में आठ-आठ, हर्रैया, बस्ती और बर्डघाट में सात—सात सेंटीमीटर वर्षा रिकार्ड की गयी। 

ज्यादातर इलाकों में बारिश न होने से दिन के तापमान में बढ़ोत्तरी हुई है। नतीजतन उमस भरी गर्मी महसूस की जा रही है। अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश होने का अनुमान है। अगली 19 जुलाई तक अच्छी बारिश होने के आसार कम हैं।