BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट ने AAP की मेयर पद की उम्मीदवार को याचिका वापस लेने की दी इजाजत, चुनाव से जुड़ा है मामला ◾अखिलेश यादव के काफिले के साथ बड़ा हादसा, आपस में टकराईं गाड़ियां, कई लोग घायल◾पद के दुरुपयोग करने के मामले में दक्षिण कोरिया के पूर्व मंत्री को दो साल की हुई जेल◾चीन ने कहा- 'अमेरिका को ईमानदारी दिखानी चाहिए और श्रीलंका की मदद करनी चाहिए'◾Bihar: नालंदा में मिलीं 1200 साल पुरानी मूर्तियां, ASI ने कब्जे में लेने की मांग की◾बिहार से असम तक तैयार हो रहा 4 लेन का एक्सप्रेसवे, इन जिलों को मिलने वाला है फायदा ◾अडाणी विवाद को लेकर बोलें शशि थरूर, कहा- संसद में चर्चा नहीं होने दे रही है सरकार◾त्रिपुरा चुनाव: वाम गठबंधन ने जारी किया घोषणापत्र, किए ये वादे ◾मनीष सिसोदिया ने बदले एक दर्जन से ज्यादा फोन, दूसरे नामों से खरीदे Sim cards, शराब घोटाले को लेकर ED ने किए कई बड़े दावे◾आर्थिक कंगाली के बीच अब 'पाकिस्तान 18 दिनों तक ही कर पाएगा अपना गुजारा' ◾पश्चिम बंगाल : चार बांग्लादेशी घुसपैठियों को सशस्त्र सीमा बल के जवानों ने दबोचा◾2019 से राष्ट्रपति की विदेश यात्राओं पर सवा छह करोड़ रुपये खर्च हुए◾भाजपा-ठाकरे गुट में तनातनी: संजय राउत ने 'आधारहीन आरोप' लगाने के लिए नारायण राणे को भेजा कानूनी नोटिस◾चीन: अमेरिकी वायु क्षेत्र में जासूसी गुब्बारा उड़ने की रिपोर्ट पर गौर कर रहे हैं◾ब्रिटेन के PM के रूप में 100 दिनों पर सुनक को औसत ग्रेड◾असम : बाल विवाह करने वालों की अब खैर नहीं, सरकार ने शुरू की मुहिम, 1,800 लोगों की हुई गिरफ़्तारी ◾कंझावला कांड : सच साबित हुई निधि की बात, हादसे के वक्त शराब के नशे में थी अंजलि, विसरा रिपोर्ट में हुआ खुलासा◾ संबंधों को सामान्य करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे' 'इजराइल और सूडान◾SC ने किया BBC की Documentary पर तुरंत बैन हटाने से इनकार, केंद्र सरकार से मांगे Original दस्तावेज◾SC को जल्द मिलेंगे 5 नए जज, केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की सिफारिश को मंजूरी देने का आश्वासन दिया ◾

UP विधानसभा में भिड़े केशव मौर्य और अखिलेश यादव.. जमकर हुई तू-तू मैं-मैं! CM योगी को करना पड़ा हस्तक्षेप

उत्तर प्रदेश विधानसभा में बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच बहस के बाद हंगामा शुरू हो गया। जिस कारण इस पूरे विवाद में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हस्तक्षेप करना पड़ा, वहीं नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव को विधानसभा में गलत भाषा का इस्तेमाल करने के लिए फटकार लगाई गई। अखिलेश यादव के व्यवहार पर नाराजगी जताते हुए सीएम योगी ने विधानसभा में खड़े होकर कहा, ''विधानसभा के अंदर तू तू मैं मैं करने की कोई जरूरत नहीं है।''

केशव मौर्य और अखिलेश यादव आये आमने-सामने 

केशव प्रसाद मौर्य और अखिलेश यादव उस समय आपस में भिड़ गए, जब डिप्टी सीएम मौर्य को अखिलेश यादव ने विधानसभा में अपने संबोधन के दौरान बाधित किया। इसके जवाब में मौर्य ने सैफई का मुद्दा उठाया, जिससे यादव नाराज हो गए। जिस कारण उन्होंने मौर्य के खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणी की और विधानसभा में हंगामा हुआ जिसके कारण सीएम योगी को इस मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा। अखिलेश यादव ने बुधवार को यूपी विधानसभा में बीजेपी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने भाजपा को "इतिहास की सबसे असफल सरकार" करार दिया। इस पर मौर्य जवाब देने के लिए खड़े हो गए, लेकिन यादव ने पूछा "हम लोक भवन में कब बैठ पाएंगे?" मौर्य ने दोहराया कि लोक भवन पर भाजपा का दबदबा है। मौर्य ने यह भी कहा, ''साइकिल पंक्चर हुई तो उत्तर प्रदेश की जनता शायद पंचर ठीक कर देगी।''

CM योगी ने अखिलेश यादव को दिया करारा जवाब 

मंगलवार को भी अखिलेश यादव भाजपा सरकार पर निशाना साधते रहे थे। शून्यकाल के दौरान यादव ने इलाहाबाद, चंदौली, सिद्धार्थनगर और ललितपुर में महिलाओं के खिलाफ अपराध का हवाला देते हुए दावा किया कि महिलाओं के खिलाफ सबसे अधिक अपराध यूपी में हुए हैं। ललितपुर में एक एसएचओ द्वारा कथित तौर पर एक लड़की के बलात्कार का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के वहां जाने के बाद ही मामला दर्ज किया गया था।

सीएम योगी ने अखिलेश यादव पर पलटवार करते हुए कहा, "आप हर उस अपराधी का समर्थन करते हैं जो राज्य में अराजकता फैलाता है और गुंडागर्दी करता है।" उन्होंने अपनी सरकार की सराहना करते हुए कहा कि पिछले पांच वर्षों में बेहतर कानून व्यवस्था कायम हुई है। उन्होंने सदन में भाजपा के आंकड़ों का जिक्र करते हुए कहा, "हमें व्यापक जन समर्थन मिला।" उन्होंने कहा, 'महिलाओं से जुड़े अपराधों के लिए हमारी सरकार ने 2017 में एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया और इसके साथ ही 2018 में पॉक्सो कोर्ट भी स्थापित किए।