BREAKING NEWS

चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 2000 के पार◾मनमोहन ने की Modi सरकार की आलोचना, कहा - सरकार आर्थिक मंदी को स्वीकार नहीं कर रही है◾अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के मद्देनजर J&K में सुरक्षा बल सतर्क◾राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, थोड़ा बदलाव किया जाएगा : नृत्यगोपाल दास ◾मुंबई के कई बड़े होटलों को बम से उड़ाने की धमकी, ई-मेल भेजने वाला लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य◾‘हिंदू आतंकवाद’ की साजिश वाली बात को मारिया ने 12 साल तक क्यों नहीं किया सार्वजनिक - कांग्रेस◾सरकार को अयोध्या में मस्जिद के लिए ट्रस्ट और धन उपलब्ध कराना चाहिए - शरद पवार◾संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फलों फूलों की प्रदर्शनी देख PM मोदी हुए अभिभूत, साझा की तस्वीरें !◾दुनिया भर में कोरोना वायरस का प्रकोप, विश्व में अब तक 75,000 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित◾आर्मी हेडक्वार्टर को साउथ ब्लॉक से दिल्ली कैंट ले जाया जाएगा : सूत्र◾INDO-US के बीच व्यापार समझौता ‘अटका’ नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - जल्दबाजी में यह नहीं किया जाना चाहिये◾कन्हैया ने BJP पर साधा निशाना , कहा - CAA से गरीबों एवं कमजोर वर्गों की नागरिकता खत्म करना चाहती है Modi सरकार◾महंत नृत्य गोपाल दास बने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष , नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिद्धू AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले माह जाएंगे बांग्लादेश दौरे पर◾विनायक दामोदर सावरकर पर बड़े विमर्श की तैयारी, अमित शाह संभालेंगे कमान◾अगले 5 साल में खोले जाएंगे 10,000 नए एफपीओ, मंत्रिमंडल ने दी योजना को मंजूरी◾केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में 22वें विधि आयोग के गठन को मंजूरी दी◾देश विरोधी नारों के मामले को लेकर केजरीवाल बोले - कन्हैया के चार्जशीट पर निर्णय के लिए विधि विभाग से कहेंगे◾

‘द्रोपदी चीर हरण’ है CAA का विरोध, बर्दास्त नहीं करेगी भाजपा : CM योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) विरोधियों की तुलना महाभारत के चर्चित ‘द्रौपदी चीर हरण’ प्रसंग की तथा कांग्रेस, समाजवादी पार्टी समेत अन्य विपक्षी दलों पर ‘भारत मां’ के खिलाफ षड्यंत्र के तहत अराजक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने का अपना आरोप दोहराते हुए शनिवार को यहां प्रबुद्धजनों से ‘ऐतिहासिक कानून’ के प्रति जनता को जागरूक करने की भावुक अपील की। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय खेल मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय कपड़ मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री डॉ महेंद नाथ पांडेय, पूर्व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री स्वतंत्र देव सिंह समेत अनेक नेताओं ने भी सीएए विरोधियों पर हमला बोला तथा लोगों से कांग्रेस, सपा एव अन्य दलों के गलत प्रचार पर ध्यान नहीं देने की अपील की। उन्होंने हजारों की संख्या में मौजूद पार्टी कार्यकर्ताओं से जनता के बीच जाकर सीएए के प्रति भ्रम दूर करने की जोरदार अपील की। 

श्री योगी ने केन्द, की नरेंद, मोदी सरकार की उपब्धियां गिनाते हुए कहा कि विपक्ष को देश का विकास अच्छा नहीं लग रहा है। यही वजह है कि बिना किसी भेदभाव के गरीबों को आवास, रसोई गैस कनेक्शन, आयुष्मान भारत के तहत स्वास्थ्य सुविधाएं देने वाली मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष सीएए को लेकर लोगों को बीच भ्रम फैला कर उन्हें भड़का रहा है। ऐसे में प्रबुद्धजनों का संवैधिक कर्तव्य बनता है कि वे जनता के बीच जाकर सही तथ्य बतायें। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से विपक्ष के ‘झूठे प्रचार’ के खिलाफ अभियान जारी रखने की आवश्यकता पर फिर जोर दिया। 

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से ‘द्रोपदी चीर हरण’ के दौरान वहां खड़ पात्र दोषी माने गए गए थे, सीएए के बहाने भारत मां के खिलाफ षड्यंत्र करने वालों को मौन होकर देखना भी उसी श्रेणी में माना जाएगा। इस लिए जरूरी है कि विरोध करने वालों के बहकावे में आने वालों को उनके संवैधानिक अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्यों का भी ऐहसास कराया जाए। प्रधानमंत्री मोदी ने गत संविधान दिवस पर अपने भाषण के दौरान इस जोर दिया था। 

मुख्यमंत्री योगी ने सीएए को नागरिकता देने वाला कानून बताते हुए कहा कि इसके विरोध की आड़ में ‘भारत मां’ का अपमान करने वालों को भाजपा किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं करेगी तथा षड्यंत्रकारियों को करारा जवाब दिया जाएगा। 

श्री योगी ने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस, सपा एवं अन्य विपक्षी दल एक षड्यंत्र के तहत देश एवं समाज के खिलाफ अराजक गतिविधियों को प्रोत्साहित ही नहीं कर रहे है, बल्कि उनके साथ खड़ हैं। ऐसे में भाजपा मूकदर्शक बनी नहीं रह सकती। वह लोगों को उनके मौलिक अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्यों की भी याद दिलायगी। उन्हें विश्वास है कि जनता किसी के बहकाबे में नहीं आएगी।

जनसभा की मुख्यतिथि केंद्रीय मंत्री ईरानी ने कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने केंद्र एवं राज्यों की सत्ता में वर्षों तक रही ‘गांधी-नेहरू’ परिवार की ओर इशारा करते हुए कहा कि आजादी के समय कांग्रेस ने देशहित नहीं, बल्कि एक परिवार के हित में धर्म के आधार पर अंग्रेजों द्वारा किया गया देश का बंटवारा स्वीकार कर लिया था, लेकिन 72 साल बाद भी उसने इस सच्चायी को स्वीकर नहीं किया।

 

उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर पर हिंदू, सिख ही नहीं, ईसायी विरोधी होने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि श्रीमती गांधी पाकिस्तान में ईसायी समुदाय पर हमले की निंदा तक नहीं की, लेकिन दिल्ली के बटला हाउस में आतंकवादियों की मौत पर आंसू बहाया था। 

श्रीमती ईरानी ने कहा कि कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण वर्ष 1990 में बहुत से कश्मीरी पंडितों का नरसंहार हुआ और उन्हें वहां से पलायन करना पड़ था। 

उन्होंने अपने सरकार एवं पार्टी का बचाव करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सीएए के माध्यम से पाकिस्तान, बांग्लादेश एवं अफगानिस्तान में धार्मिक भेदभाव एवं प्रताड़ना के शिकार लोगों को भारत में नागरिकता देने का रास्ता साफ कर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपने को साकार किया है। 

उप मुख्यमंत्री मौर्य ने कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों पर सीएए के खिलाफ शरारती तत्वों भड़काने का आरोप लगाया और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को बीमार बताते हुए उन्हें स्वाथ्य लाभ करने की नसीहत दी। 

भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि किसी भी तरह से देश को विभाजित करने की साजिश करने वोलों को भाजपा बर्दास्त नहीं करेगी और उन्हें मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है। 

मुख्यमंत्री योगी ने सीएए समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करने से पहले यहां के जंगमबाड़ मठ में ‘शैव महाकुंभ’ में भाग लिया, जहां 16 फरवरी को श्री मोदी के आने का संभावित कार्यक्रम हैं। 

जनसभा में वाराणसी जिला एवं महानगर के अलावा भाजपा काशी क्षेत्र के सभी संगठनात्मक जिले - जौनपुर, चंदौली, गाजीपुर, भदोही, मिर्जापुर, सोनभद्र, प्रतापगढ़, प्रयागराज समेत 16 संगठनात्मक जिलों के हजारों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। 

उत्साहित भाजपा कार्यकर्ता राष्ट्रीय ध्वज ‘तिरंगा’ के अलावा अपनी पार्टी के झंडे लहराते एवं सीएए समर्थक पोस्टर लेकर आये थे तथा सीएए समर्थक नारे लगा रहे थे। स्थानीय विधायक एवं राज्य के स्टांप एवं पंजीकरण मंत्री रविंद्र  जायसवाल समेत कई नेता अपने समर्थकों के साथ बड़े आकार के तिरंगा झंडे लेकर पहुंचे थे। ये सभा स्थल पर लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र बने रहे। कई इलाकों के कार्यकर्ता मोटरसाइकिल जुलूस के शक्ल में सभा स्थल पहुंचे।