BREAKING NEWS

कर्नाटक संकट : सिद्धारमैया ने कहा-SC के पिछले आदेश के स्पष्टीकरण तक फ्लोर टेस्ट करना उचित नहीं◾कर्नाटक : CM कुमारस्वामी ने पेश किया विश्वास मत प्रस्ताव◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान- अनधिकृत कॉलोनियों के मकानों की होगी रजिस्ट्री◾मुंबई पुलिस ने दाऊद इब्राहिम ने भतीजे रिजवान कासकर को किया गिरफ्तार◾मायावती के भाई आनंद कुमार के खिलाफ IT विभाग की कार्रवाई, 400 करोड़ का प्लॉट जब्त◾येद्दियुरप्पा ने किया दावा, बोले- सौ फीसदी भरोसा है कि विश्वास मत प्रस्ताव गिर जाएगा◾22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर लॉन्च होगा चंद्रयान-2◾सरकार कुलभूषण जाधव की सुरक्षा और जल्द भारत लाने की कोशिश जारी रखेगी : जयशंकर ◾अयोध्या मामला : SC का आदेश, 2 अगस्त से होगी सुनवाई◾रामनाथ कोविंद ने नौ क्षेत्रीय भाषाओं में फैसले उपलब्ध कराने के प्रयासों की प्रशंसा की ◾कुलभूषण जाधव मामले में ICJ के फैसले की पकिस्तान PM इमरान ने की सराहना◾राहुल गांधी बोले- फिर उम्मीद जगी है कि जाधव एक दिन भारत लौटेंगे◾कर्नाटक : कांग्रेस विधायक रामालिंगा रेड्डी इस्तीफा लेंगे वापस, करेंगे सरकार के पक्ष में मतदान ◾कर्नाटक : कुमारस्वामी सरकार का फ्लोर टेस्ट आज◾हाफिज सईद की गिरफ्तारी का डोनाल्ड ट्रंप ने किया स्वागत, ट्वीट कर कही ये बात ◾पीएम मोदी सहित कई दिग्गज नेताओं ने कुलभूषण जाधव पर ICJ के फैसले का किया स्वागत◾कुलभूषण जाधव ICJ के फैसले पर सुषमा ने मोदी को कहा शुक्रिया◾ICJ में भारत की बड़ी जीत : 15-1 से कुलभूषण यादव के पक्ष में गया फैसला , फांसी पर रोक ◾ICJ : जाधव मामले में पाकिस्तान ने विएना संधि का उल्लंघन किया, अब लगा तगड़ा झटका◾प्रधानमंत्री मोदी ने 47 से 56 वर्ष आयु वर्ग के भाजपा सांसदों से की मुलाकात ◾

उत्तर प्रदेश

व्यवसायिकता के दौर में खोया मरीज और डॉक्टर के बीच भावनात्मक संवाद : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि व्यवसायिकता हावी होने की वजह से आम लोगों में चिकित्सकों के प्रति सम्मान कम हुआ है और मरीज तथा डॉक्टर के बीच जज्बात खत्म हो गये हैं। मुख्यमंत्री ने अपने सरकारी आवास पर 'स्माइल मशाल ज्योति आशीर्वाद' कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद कहा कि मरीजों और चिकित्सकों के बीच भावनात्मक संवाद होना चाहिए, लेकिन व्यवसायिकता के इस दौर में यह रिश्ता खो चुका है। 

उन्होंने कहा कि व्यवसायिकता हावी होने की वजह से डॉक्टरों के प्रति आम लोगों के मन में सम्मान भी कम हुआ है। योगी ने कहा कि स्माइल जैसी परियोजनाएं समाज के गरीब व्यक्ति के साथ ही हर वर्ग के चेहरे पर खुशहाली लाने के साथ-साथ एक डॉक्टर के संवेदनशील और मानवीय चेहरे को समाज के सामने पेश भी करते हैं। यह पहल चिकित्सक और आम लोगों के बीच खत्म हो चुके संवाद को बहाल करने की कोशिश है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी योजनाओं के नाकाम होने के तीन कारण होते हैं। पहला, जब हम किसी योजना की पूरी तैयारी नहीं करते हैं। दूसरा, योजना को लेकर जागरुकता का अभाव और तीसरा, जिम्मेदार लोगों द्वारा अपने दायित्वों को पूरी तरह से नहीं निभाया जाना। 

योगी ने कार्यक्रम के दौरान स्माइल फाउंडेशन से जुड़े बच्चों को प्रोत्साहन के तौर पर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिलों से आए कई डॉक्टरों को भी सम्मानित किया। इसके पूर्व, लखनऊ के 1090 चौराहे पर 'स्माइल मशाल ज्योति आशीर्वाद रैली' का भी आयोजन किया गया।