BREAKING NEWS

हाथरसः ग्रामीणों के भारी विरोध के बीच गैंगरेप पीड़िता का किया गया अंतिम संस्कार◾इजराइल ने भारत-इजराइल मित्रता के प्रमुख सूत्रधार दिवंगत शिमोन पेरेज को श्रद्धांजलि देने के लिए PM मोदी को दिया धन्यवाद◾SRH vs DC ( IPL 2020 ) : सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्ली कैपिटल्स को 15 रनों से हराया ◾ संजय सिंह ने CM योगी पर साधा निशाना , कहा - बलात्कारियों को संरक्षण दे रही है UP सरकार◾महाराष्ट्र में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में 14,976 नए केस, 430 की मौत ◾उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव ◾IPL-13: जॉनी बेयरस्टो का शानदार अर्धशतक, हैदराबाद ने दिल्ली के सामने रखा 163 रनों का लक्ष्य ◾दिल्ली में कोरोना से 24 घंटे में 48 लोगों की मौत , 3227 नए मामले भी सामने आए ◾सच्चाई से परे और बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है एमनेस्टी इंटरनेशनल का बयान : गृह मंत्रालय◾ भारत ने अवैध तरीके से लद्दाख को बनाया केंद्र शासित प्रदेश, हम नहीं देते मान्यता : चीन ◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘रक्षा भारत स्टार्टअप चैलेंज’ की शुरुआत की, दिशा-निर्देश भी किये लॉन्च◾हाथरस केस : उप्र में ‘जंगलराज’ ने एक और युवती को मार डाला, सरकार ने कहा 'फ़ेक न्यूज़' - राहुल गांधी◾DC vs SRH आईपीएल-13 : दिल्ली कैपिटल्स ने जीता टॉस, गेंदबाजी का किया फैसला◾6 साल में सेना ने खरीदा 960 करोड़ का खराब गोला-बारूद, तकरीबन 50 जवानों ने गंवाई जान : रिपोर्ट ◾LAC विवाद पर भारत का कड़ा सन्देश - अपनी मनमानी व्याख्या जबरन थोपने की कोशिश न करें चीन◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर बवाल, विजय चौक के पास दिल्ली महिला कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन◾बिहार विधानसभा चुनाव : महागठबंधन से अलग हुई RLSP, बसपा के साथ बनाया नया गठबंधन ◾पायल घोष ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से की मुलाकात, अनुराग कश्यप मामले में की न्याय की मांग◾विपक्ष के चौतरफा हमले के बीच यूपी सरकार ने हाथरस के पीड़ित परिवार को दी 10 लाख रु की मदद ◾चुनाव आयोग ने 12 राज्यों की 57 सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, 10 नवंबर को नतीजे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

उन्नाव रेप केस: बुजुर्ग पिता की गुहार, बेटी के गुनहगारों को मिले मौत की सजा

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रेप पीड़िता की मौत से आहत पिता ने हत्यारों को जल्द से जल्द मौत की सजा दिए जाने की गुहार लगाई है। जिले के बिहार क्षेत्र में गुरूवार तड़के बलात्कार पीड़िता को जिंदा जला दिया गया था। करीब 90 फीसदी जली हालत में पीड़िता को लखनऊ से एयर एंबुलेंस से ले जाकर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां शुक्रवार देर रात उसने दम तोड़ दिया। 

बेटी की मौत से आहत पिता ने शनिवार को कहा, "मेरे परिवार को रूपया पैसा नहीं चाहिये। मेरी बेटी को इंसाफ चाहिये। मौत का बदला सिर्फ मौत होता है। बेटी की मौत के गुनाहगारों को बगैर देर किए फांसी मिले या उन्हे दौड़ा कर गोली मार दी जाए।" 

उन्नाव रेप पीड़िता की दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक : मायावती

बुजुर्ग ने कहा कि उनके परिवार को आरोपी जान की धमकी सरेआम देते थे। मुकदमा वापस न लेने या मुंह खोलने पर जान से मारने और आग के हवाले करने की धमकी उनकी पुत्री और परिजनो को कई बार मिली। पुलिस को इसकी जानकारी दी लेकिन वे हर बार उन्हे टरका देते थे। 

उन्होने कहा कि बेटी की मौत की खबर उन्हे समाचार पत्र से आज सुबह मिली। जिला अथवा पुलिस प्रशासन का कोई अधिकारी उन्हे इसकी सूचना देने नहीं आया। यहां तक की कोई नेता अथवा क्षेत्रीय विधायक भी उनके परिवार की खैरियत पूछने नही आया। पीड़िता के पिता ने बताया कि आज सफदरजंग अस्पताल में बेटी का पोस्टमार्टम होगा। उसके बाद परिजन उसका शव लेकर उन्नाव लाएंगे। 

पीड़िता के भाई ने अपनी बहन के लिए मांगा न्याय

वही, पीड़िता के भाई ने अपनी बहन के लिए न्याय की मांग करते हुए शनिवार को कहा कि आरोपियों का भी वही हश्र होना चाहिए जो "उसकी बहन ने झेला।" उन्होंने कहा, "उसने मुझसे मिन्नत की कि भाई मुझे बचा लो। मैं बहुत दुखी हूं कि मैं उसे बचा नहीं सका।" 

सीएम योगी ने पीड़िता की मौत पर दुख व्यक्त किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत पर दुख व्यक्त किया है। सीएम ने कहा है कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट ले जाया जाएगा।

इस बीच बलात्कार पीड़िता की मौत के बाद कानून व्यवस्था कायम रखने के लिए बिहार कस्बे को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पुलिस और जिला प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर मौजूद है। कस्बे में सन्नाटा पसरा हुआ है। ग्रामीण पिछले दो दिनों से अपने घरों में दुबके हुए हैं। 

अधिकृत सूत्रों ने बताया कि इस मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट तलब की है। इस मामले में लापरवाही बरतने की पुष्टि होने पर पुलिस अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई हो सकती है।