इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद के डिग्री कालेज के छात्र की निर्मम हत्या के बाद आक्रोशित प्रदर्शनकारियों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए राज्य परिवहन निगम की एक बस में आग लगा दी। इलाहाबाद डिग्री कालेज (एडीसी) एलएलबी के छात्र दिलीप कुमार सरोज की हत्या के विरोध में छात्रों के साथ ही अधिवक्ताओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। बड़ संख्या में छात्रों ने जिलाधिकारी आवास का घेराव किया और फिर कचहरी में सभा कर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए मृतक आश्रितों को मुआवजा देने के साथ ही तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की।

सभा के दौरान ही कुछ छात्र नारेबाजी करते हुए लक्ष्मी टाकीज से बैंक रोड की तरफ बढ़ गए। वहां एक सिटी बस में आग लगा दी। कचहरी के सामने भी प्रदर्शनकारियों ने तोडफोड कर सरकार विरोधी नारे लगाये। जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने बताया कि किसी को भी कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि उपद्रवियों के खिलाफ कड़ कार्रवाई करते हुए उन पर रासुका लगाई जायेगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहर, पुलिस अधीक्षक (नगर) सिद्धार्थ शंकर मीणा कई थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने आंदोलित प्रदर्शनकारियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन छात्र मानने को तैयार नहीं हैं।

उन्होंने बताया कि छात्रावासों और सलोरी, कटरा, अल्लापुर जैसे छात्र बहुल क्षेत्रों में एहतियात के तौर पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। श्री कुलहरि ने बताया कि मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और जिस गाड़ से आरोपी फरार हुए हुए थे उसे भी बरामद कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि शहर में स्थिति नियंत्रण में है। गौरतलब है कि प्रतापगढ़ जिले के हथिगवां थाना क्षेत्र के भुलसा भदरी निवासी दलित दिलीप कुमार ओम गायत्री नगर स्थित शुक्ला लॉज में रहता था। वह एडीसी में एलएलबी द्वितीय वर्ष का छात्र था। गत शुक्रवार रात वह अपने मित्रों के साथ कटरा स्थित रेस्टोरेंट में भोजन करने गया था। वहीं कुछ युवकों से उसकी मामूली बात पर झड़प हो गई। थोड़ देर में ही वहां कुछ लोग पहुंचे और दिलीप के साथ मारपीट कर उसके गंभीर रूप से घायल कर दिया था। छात्र को तत्काल सिविल लाइंस स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उपचार के दौरान कल सुबह उसकी मृत्यु हो गयी थी।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।