BREAKING NEWS

आज का राशिफल (28 जनवरी 2021)◾BJP ने कांग्रेस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान किसानों को उकसाने का आरोप लगाया ◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : योगेन्द्र यादव, टिकैत, पाटकर सहित 37 किसान नेताओं के खिलाफ नामजद प्राथमिकी ◾राजनाथ ने अमेरिका के नये रक्षा मंत्री ऑस्टिन से क्षेत्रीय, वैश्विक मुद्दों पर बात की ◾बंगाल विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शुरू, कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव लाएगी तृणमूल ◾हिंसा में शामिल थे किसान नेता, शर्तों को नहीं मानकर किया विश्वासघात : पुलिस कमिश्नर◾केंद्र सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस,1 फरवरी से खुलेंगे सिनेमा हॉल और स्वीमिंग पूल◾आप नेता राघव चड्डा ने हिंसा के मुद्दे पर बीजेपी को घेरा, लगाए कई गंभीर आरोप◾दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीएम योगी का ऐलान - शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये का मुआवजा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चौबेपुर में शहीद हुये पुलिस जवानो की शहादत बेकार नहीं जायेगी और जघन्य वारदात में दोषी किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जायेगा। श्री योगी ने शुक्रवार का यहां पुलिस लाइन में शहीद आठ पुलिसकर्मियों के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हे श्रद्धाजंलि दी। 

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती लेकिन शहीद सभी आठ पुलिसकर्मियों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। साथ ही प्रत्येक शहीद के परिवार को सरकारी नौकरी और अप्रत्याशित पेंशन का लाभ दिया जायेगा। 

उन्होने कहा कि पुलिस के जवान कोरोना संकटकाल में अपने दायित्व का भरपूर निर्वहन कर रहे है और अपराधियों से भी निपट रहे हैं। दिनभर की ड्यूटी के बाद अपराधियों और माफिया के खिलाफ जारी पुलिस के अभियान के तहत ही पुलिस टीम छापा मारने गई थी। जिन लोगों ने घटना को अंजाम दिया है, उन्हें कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दी जाएगी। किसी भी कीमत पर अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। उसे कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दिलाई जाएगी। घटना को अंजाम देने वालों को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गईं हैं, जो छापेमारी कर रही है। पुलिस मुठभेड़ में दो अपराधी मारे गए हैं। पुलिस जवानों से छीने गए असहलों में कुछ बरामद हो गए हैं। 

कानपुर मुठभेड़ : विपक्ष ने सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए UP सरकार पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘ मैं इन बहादुर जवानों को उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा के लिये अपने आप को बलिदान करने के लिए, उनकी शहादत को कोटि-कोटि नमन करता हूं। शोक संतप्त परिजनों के प्रति हमारी पूरी संवेदना है और जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है,इस घटना के लिए जो भी जिम्मेदार पाया जाएगा,कानूनन वह व्यक्ति इस घटना की सजा भी भुगतेगा। मैं इस बात का विश्वास दिलाता हूं कि हमारे जवानों का यह बलिदान किसी भी स्थिति में व्यर्थ नहीं जाएगा।’’ श्री योगी ने इससे पहले सर्वोदय नगर स्थित नर्सिंग होम में भर्ती सात पुलिसकर्मियों से मुलाकात की और उनकी बहादुरी की सराहना कर हौसलाफजाई की। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद थे। 

उन्होने कहा कि कानपुर में दुर्दांत अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी अथवा उसके मुठभेड़ में धराशायी होने तक पुलिस के आला अधिकारी यहीं कैंप करेंगे। उधर चौबेपुर के बिकरू गांव पहुंच कर पुलिस प्रमुख हितेश चन्द, अवस्थी ने घटना का जायजा लिया और कहा कि पुलिस टीम कायराना हमला करने वाले अपराधियों के दिन पूरे हो चुके हैं और अब जल्द ही उन्हे वहां पहुंच दिया जाएगा जहां उन्हें होना चाहिए। पुलिस की टीम इस कायराना हरकत का बदला लेने को तत्पर है। 

गौरतलब है कि कानपुर नगर के चौबेपुर में दो और 3 जुलाई की रात्रि में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र के नेतृत्व में पुलिस की टीम एक दबिश में गई थी जिसमें वादी राहुल तिवारी ने धारा 307 में एक मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मुकदमे के सिलसिले में पुलिस एक दुर्दांत अपराधी के यहां छापेमारी करने के लिए गई लेकिन इस दौरान बदमाशों की गोलीबारी में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र, उपनिरीक्षक महेश चंद, यादव,अनूप कुमार सिंह,नेबूलाल के साथ आरक्षी जितेंद्र पाल,सुल्तान सिंह,बब्लू कुमार और राहुल कुमार शहीद हो गये जबकि छह पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड जवान घायल हैं। 

राहुल ने कानपुर की घटना को बताया UP में ‘गुंडाराज’ का प्रमाण, कहा- जब पुलिस सुरक्षित नहीं तो जनता कैसे होगी