BREAKING NEWS

कोरोना वायरस : पिछले 24 घंटे में 61 हजार 537 नए मामलों की पुष्टि, 933 लोगों ने गंवाई जान ◾केरल विमान हादसा : एअर इंडिया एक्सप्रेस का एलान- कोझिकोड तक तीन राहत उड़ानों का किया गया प्रबंध ◾LAC के पास सेना और वायुसेना को उच्च स्तर की सतर्कता बरतने के दिए गए निर्देश◾चीनी अतिक्रमण का उल्लेख करने वाली रिपोर्ट से धूमिल हुई रक्षा मंत्री की छवि : कांग्रेस ◾केरल विमान हादसा : कोझिकोड एयरपोर्ट पर रनवे पर विमान फिसलने से अब तक 18 लोगों की मौत◾कोझीकोड में हुए विमान हादसे पर PM मोदी ने ट्वीट कर जताया दुख, कहा- हादसे से व्यथ‍ित हूं◾केरल के कोझीकोड एयरपोर्ट पर रनवे से फिसला विमान, दो हिस्सों में टूटा, पायलट और को-पायलट समेत 17 लोगों की मौत◾महाराष्ट्र में कोरोना से 300 लोगों की मौत, 10483 नए मामले की पुष्टि◾सुशांत केस: रिया चक्रवर्ती की याचिका में पक्षकार बनने के लिये केन्द्र ने न्यायालय में दी अर्जी◾असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ अवमानना कार्यवाही को लेकर SC में याचिका दायर ◾दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,192 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.42 लाख के पार ◾केरल में भूस्खलन की घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जताया दुख, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राहत बचाव कार्य में मदद करने की अपील की◾सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ मेदांता अस्पताल में भर्ती◾देश में 24 घंटे के भीतर कोरोना से 49 हजार 769 मरीज हुए ठीक, मृत्यु दर घटकर 2.05 % हुई : स्वास्थ्य मंत्रालय◾यूपी में 24 घंटे में कोरोना से 63 लोगो की मौत, 4404 नए मामले◾मुझे नहीं, सुशांत मामले की जांच को किया गया था क्वारंटाइन : IPS विनय तिवारी◾शपथ ग्रहण के बाद बोले उपराज्यपाल सिन्हा-अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद मुख्यधारा में आया J&K◾CM केजरीवाल ने दिल्ली में इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी का किया ऐलान◾केरल में भारी बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात, इडुक्की में भूस्खलन से 5 लोगों की मौत ◾सुशांत सुसाइड केस : रिया चक्रवर्ती ED के सामने हुई पेश, एजेंसी ने मोहलत देने से किया इंकार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीएम योगी का ऐलान - शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये का मुआवजा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चौबेपुर में शहीद हुये पुलिस जवानो की शहादत बेकार नहीं जायेगी और जघन्य वारदात में दोषी किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जायेगा। श्री योगी ने शुक्रवार का यहां पुलिस लाइन में शहीद आठ पुलिसकर्मियों के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हे श्रद्धाजंलि दी। 

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती लेकिन शहीद सभी आठ पुलिसकर्मियों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी। साथ ही प्रत्येक शहीद के परिवार को सरकारी नौकरी और अप्रत्याशित पेंशन का लाभ दिया जायेगा। 

उन्होने कहा कि पुलिस के जवान कोरोना संकटकाल में अपने दायित्व का भरपूर निर्वहन कर रहे है और अपराधियों से भी निपट रहे हैं। दिनभर की ड्यूटी के बाद अपराधियों और माफिया के खिलाफ जारी पुलिस के अभियान के तहत ही पुलिस टीम छापा मारने गई थी। जिन लोगों ने घटना को अंजाम दिया है, उन्हें कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दी जाएगी। किसी भी कीमत पर अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। उसे कानून के दायरे में कठोर से कठोर सजा दिलाई जाएगी। घटना को अंजाम देने वालों को पकड़ने के लिए टीमें बनाई गईं हैं, जो छापेमारी कर रही है। पुलिस मुठभेड़ में दो अपराधी मारे गए हैं। पुलिस जवानों से छीने गए असहलों में कुछ बरामद हो गए हैं। 

कानपुर मुठभेड़ : विपक्ष ने सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए UP सरकार पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘ मैं इन बहादुर जवानों को उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा के लिये अपने आप को बलिदान करने के लिए, उनकी शहादत को कोटि-कोटि नमन करता हूं। शोक संतप्त परिजनों के प्रति हमारी पूरी संवेदना है और जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है,इस घटना के लिए जो भी जिम्मेदार पाया जाएगा,कानूनन वह व्यक्ति इस घटना की सजा भी भुगतेगा। मैं इस बात का विश्वास दिलाता हूं कि हमारे जवानों का यह बलिदान किसी भी स्थिति में व्यर्थ नहीं जाएगा।’’ श्री योगी ने इससे पहले सर्वोदय नगर स्थित नर्सिंग होम में भर्ती सात पुलिसकर्मियों से मुलाकात की और उनकी बहादुरी की सराहना कर हौसलाफजाई की। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद थे। 

उन्होने कहा कि कानपुर में दुर्दांत अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी अथवा उसके मुठभेड़ में धराशायी होने तक पुलिस के आला अधिकारी यहीं कैंप करेंगे। उधर चौबेपुर के बिकरू गांव पहुंच कर पुलिस प्रमुख हितेश चन्द, अवस्थी ने घटना का जायजा लिया और कहा कि पुलिस टीम कायराना हमला करने वाले अपराधियों के दिन पूरे हो चुके हैं और अब जल्द ही उन्हे वहां पहुंच दिया जाएगा जहां उन्हें होना चाहिए। पुलिस की टीम इस कायराना हरकत का बदला लेने को तत्पर है। 

गौरतलब है कि कानपुर नगर के चौबेपुर में दो और 3 जुलाई की रात्रि में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र के नेतृत्व में पुलिस की टीम एक दबिश में गई थी जिसमें वादी राहुल तिवारी ने धारा 307 में एक मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मुकदमे के सिलसिले में पुलिस एक दुर्दांत अपराधी के यहां छापेमारी करने के लिए गई लेकिन इस दौरान बदमाशों की गोलीबारी में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्र, उपनिरीक्षक महेश चंद, यादव,अनूप कुमार सिंह,नेबूलाल के साथ आरक्षी जितेंद्र पाल,सुल्तान सिंह,बब्लू कुमार और राहुल कुमार शहीद हो गये जबकि छह पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड जवान घायल हैं। 

राहुल ने कानपुर की घटना को बताया UP में ‘गुंडाराज’ का प्रमाण, कहा- जब पुलिस सुरक्षित नहीं तो जनता कैसे होगी