जेडीएस के महासचिव दानिश अली ने पार्टी छोड़कर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) का दामन थाम लिया है। जेडीएस महासचिव दानिश अली को आज सतीशचंद्र मिश्र ने बहुजन समाज पार्टी की सदस्यता दिलाई है। जेडीएस के महासचिव दानिश अली के बीएसपी में शामिल होने के बाद से अब पार्टी कर्नाटक में भी ताल ठोंकने की तैयारी में है।

बता दें कि दानिश अली ने हाल ही में कांग्रेस और जेडीएस के बीच हुए गठबंधन कराने में अहम भूमिका निभाई थी। बसपा का दामन थामने के बाद दानिश अली ने कहा कि, जेडीएस के पास यूपी में एक बड़ा संगठन नहीं है। अपने सभी प्रयासों के बावजूद मैं इसे अपनी ‘जन्मभूमि, अपनी’ कर्मभूमि ‘में नहीं उठा सका …. जिस तरह से आज संविधान के लिए खतरा है, एक मजबूत नेतृत्व के साथ हमारी ऊर्जा का उपयोग करना आवश्यक हो गया है। मैं एचडी देवेगौड़ा जी की शुभकामनाएं और अनुमति लेकर ही यहां आया हूं।

बहनजी मायावती मुझे जो काम देंगी, वह काम मैं करूंगा। 13 मार्च को दानिश अली और कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के बीच कोच्चि में अहम बैठक हुई थी। इसमें लोकसभा चुनाव में जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन पर मुहर लगी थी। इसके तहत कर्नाटक में कांग्रेस 20 और जेडीएस आठ सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी।