BREAKING NEWS

केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना - बिजली सब्सिडी खत्म कर देगी भाजपा◾महाराष्ट्र, हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए मतदान आज , देशभर में 51 विधानसभा सीटों के लिए भी उपचुनाव◾पोस्ट पेमेंट बैंक ने चुनौतियों को अवसर में बदला : PM मोदी ◾प्याज के मुद्दे पर भाजपा का केजरीवाल पर हमला, मुख्यमंत्री आवास का होगा घेराव◾सीमा पार तीन आतंकी शिविर ध्वस्त किये गए, 6-10 पाक सैनिक ढेर : सेना प्रमुख ◾PoK में भारतीय सेना की बड़ी कार्रवाई : सेना ने LoC पार जैश, हिजबुल के 35 आतंकी मार गिराए◾30 अक्टूबर को जामिया के दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति कोविंद होंगे मुख्य अतिथि◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कल होगा मतदान, BJP लगातार दूसरे कार्यकाल की कोशिश में ◾वैश्विक आर्थिक जोखिमों के कारण बहुपक्षीय सहयोग को मजबूत करने की जरूरत : सीतारमण ◾मनमोहन सिंह करतारपुर गलियारे के औपचारिक उद्घाटन में नहीं होंगे शामिल : सूत्र◾TOP 20 NEWS 20 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भारत की तरफ से गोलीबारी में हमारे 4 जवान शहीद, हमने भारतीय सेना के 9 सैनिकों को मार गिराया : PAK◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी से मिले परिजन, पत्नी बोली- CM ने हर संभव कार्रवाई का दिया आश्‍वासन◾भारतीय सेना ने PoK में तबाह किए आतंकी कैंप, 5 पाकिस्तानी सैनिक ढेर◾अभिजीत बनर्जी को लेकर BJP पर राहुल ने साधा निशाना, कहा- ये बड़े लोग नफरत से अंधे हो गए है◾अभिजीत बनर्जी के नोबेल पुरस्कार को राजनीतिक चश्मे से न देखा जाए : मायावती◾क्रिप्टोकरेंसी को लेकर सतर्कता बरत रहे हैं देश : निर्मला सीतारमण◾पाकिस्तान ने किया संषर्ष विराम का उल्लंघन, 2 सैनिक शहीद, 1 नागरिक की मौत◾तुर्की ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का दिया साथ, PM मोदी ने रद्द की यात्रा ◾ओवैसी बोले- एक दिन में 15 बोतल किया रक्तदान, हुए ट्रोल◾

उत्तर प्रदेश

मानवता हुई शर्मसार,पति को नहीं मिला वाहन तो पत्नी के शव को ट्रॉली पर लादकर चला 45 किमी पैदल

हाल ही में यूपी के प्रयागराज जिले से एक हैरान करने देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर एक शव वाहन ना मिल पाने की वजह से एक शख्श अपनी पत्नी का शव लेकर करीब 45 किमी तक पैदल चला। तमाम कोशिशों के बाद भी एसआरएन अस्पताल में भर्ती एक महिला के निधन हो जाने के बाद उसके परिवार को शव ले जाने के लिए वाहन उपलब्ध नहीं करवाई गई।

 लेकिन जब अस्पताल की ओर से किसी तरह की सहायता नहीं की गई तब महिला का शव उसका पति ट्रॉली में लादकर अपने घर तक ले गया। जबकि अस्पताल प्रशासन ने सफाई देते हुए कहा कि  सोना नाम की जिस महिला की मृत्यु के बाद इस घटना की खबरें सामने आई हैं उसके अस्पताल में भर्ती होने का कोई रिकॉर्ड उनके पास नहीं है। 

मिली जानकारी के मुताबिक प्रयागराज के शंकरगढ़ इलाके में रहने वाले कल्लू ने अपनी पत्नी को करीब पांच दिन पहले शहर के स्वरूप रानी अस्पताल में भर्ती कराया था। कल्लू की पत्नी जिनका नाम सोना है उनको सिर पर चोट लगने की वजह से यहां पर लाया गया था,जहां इलाज के बीच ही गुरुवार की सुबह उनका निधन हो गया। 

पत्नी की मौत के बाद कल्लू ने अस्पताल में शव को घर ले जाने के लिए वाहन की मांग करी थी,लेकिन जब वाहन नहीं मिला तब शख्स अपनी पत्नी के शव को ट्रॉली में रखकर खुद करीब 45 किमी दूर अपने ससुराल शंकरग तक पहुंच गया। वहीं डेढ़ साल की बच्ची सोनिया अपनी मां की मृत्यु की मौत से अनभिज्ञ है। 

वहीं बड़ा बेटा आठ साल का राहुल और छोटा बेटा पांच साल का जंगी है। अस्पताल से शव वाहन न मिल पाने और शव ले जाने के लिए कल्लू अपने तीनों बच्चों को मिंटो पार्क स्थित अपने पड़ोसी के घर छोड़कर शंकरगढ़ गया था। करीब दस घंटे रिक्शा ट्राली चलाकर कल्लू अपनी ससुराल पहुंचा तो ठेले पर शव देख सब सिहर उठे। परिवार की स्थिति ज्यादा खराब होने की वजह से वह अंतिम संस्कार भी नहीं कर पाए। 

कल्लू ने कहा कि शुक्रवार के दिन वह ग्रामीणों की सहायता मांगकर वह अपनी पत्नी का अंतिम संस्कार करेगा। ये आलम तब है जब सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने का दावा कर रही है। पूरे वाकये के बाद जब इस बात की जानकारी सूबे के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह तक पहुंची तो उन्होंने इसकी जांच के आदेश दे दिए। 

दोषी पाए गए अधिकारियों पर होगा ऐक्शन: सिद्धार्थ 

मंत्री ने इस घटना में बातचीत करते हुए कहा जल्दी ही इस मामले की जानकारी मिल जाने के बाद  तत्काल स्वरूप रानी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को जांच के आदेश दिए गए हैं। इसके आलावा हर जिले में 2 से 3 शव वाहन का इंतजाम अनिवार्य रूप से किया गया है। अब मंत्री ने इस केस में जांच के आदेश दिया और कहा रिपोर्ट आने पर जो भी इस लापरवाही का दोषी पाया जाता है उसके साथ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहना है जिम्मेदार का... 

अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. एके श्रीवास्तव ने बताया कि इस तरह की जानकारी मुझे नहीं है। न ही इस नाम की किसी महिला को मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया गया है।