BREAKING NEWS

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट से कहा : प्रधानमंत्री के खिलाफ महज ‘अपमानजनक’ शब्द का इस्तेमाल राजद्रोह नहीं ◾वित्त मंत्री सीतारमण बोली- कर्ज देने के लिये NBFC के साथ 400 जिलों में खुली बैठकें करेंगे बैंक◾यादवपुर विश्वविद्यालय में बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की, राज्यपाल परिसर में पहुंचे ◾आरकेएस भदौरिया अगले होंगे एयरफोर्स चीफ◾चंद्रयान- 2 : नासा को मिली विक्रम लैंडर की अहम तस्वीरें, जल्द मिलेगी बड़ी खबर◾डेविड कैमरन का खुलासा : भारत के पूर्व प्रधानमंत्री ने PAK के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के बारे में बताया था ◾TOP 20 NEWS 19 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ढाई साल में ढाई कोस भी नहीं चल पाई योगी सरकार : अखिलेश यादव◾अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे PM मोदी : विजय गोखले◾नासिक में बोले मोदी-राम मंदिर का मामला जब सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है तो न्याय प्रणाली पर भरोसा रखें◾INX मीडिया : 3 अक्टूबर तक बढ़ाई गई चिदंबरम की न्यायिक हिरासत◾CM ममता ने गृह मंत्री अमित शाह से की मुलाकात, NRC मुद्दे पर की चर्चा ◾'हाउडी मोदी' के लिए उत्साहित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, कर सकते है हिंदुस्तान के लिए बड़ा ऐलान ◾प्रियंका गांधी बोली - चिन्मयानंद मामले में भी उन्नाव की तरह आरोपी को संरक्षण दे रही भाजपा सरकार◾रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने तेजस में भरी उड़ान, कहा- मेरे लिए गर्व की बात◾UP : योगी सरकार के ढाई वर्ष पूरे, प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री ने गिनाई उपलब्धियां◾झारखंड कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व प्रमुख अजय कुमार AAP में हुए शामिल ◾राहुल और सोनिया के खिलाफ सावरकर के पोते की शिकायत पर कोर्ट ने दिए जांच के आदेश◾चिन्मयानंद मामला : पीड़ित छात्रा की चेतावनी, कहा-गिरफ्तारी नहीं हुई तो कर लूंगी आत्महत्या◾UP : योगी सरकार के ढाई साल पूरे, आज कर सकते है नई योजनाओ का अनावरण ◾

उत्तर प्रदेश

PM मोदी की केक वाली टिप्पणी पर मायावती ने किया तंज

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'साइज ऑफ द केक मैटर्स' वाली टिप्पणी पर तंज करते हुए रविवार को कहा कि जब देश की एक विशाल आबादी बेरोजगारी और दूसरे संकटों से जूझ रही है तो ऐसे में केक की बात करना प्रधानमंत्री की ‘‘निरंकुशता’’ को जाहिर करता है। 

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि जब देश की अधिसंख्य आबादी जबरदस्त महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी, बीमारी और अशिक्षा की समस्या से घिरकर रोजी-रोटी के लिए तरस रही है तो ऐसे में प्रधानमंत्री उनके लिए केक की बात कर रहे हैं। यह उनकी ‘‘निरंकुशता’’ को जाहिर करता है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में क्या देश उसी रास्ते पर चल रहा है जिस तरह फ्रांसीसी क्रांति के समय कहा गया था कि अगर लोगों के पास खाना नहीं है तो वे केक क्यों नहीं खाते। वास्तव में सरकार को जुमलेबाजी छोड़कर जनता के भले के लिए काम करना चाहिए। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वाराणसी में भाजपा के सदस्यता अभियान की शुरुआत करते हुए देश की अर्थव्यवस्था को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने पर अपनी बात रखी थी। 

उन्होंने कहा था, ''साइज ऑफ द केक मैटर्स। यानी जितना बड़ा केक होगा, उसका उतना ही बड़ा हिस्सा लोगों को मिलेगा। इसलिये हमने भारत की अर्थव्यवस्था को पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य तय किया है।'' 

मोदी ने कहा था, ''गरीबी हमारे दिल-दिमाग में एक नियति बन गयी है। सत्यनारायण की कथा भी एक बेचारे गरीब ब्राह्मण से शुरू होती है। हमें इस सोच से बाहर निकलना चाहिये। इसलिये कल के बजट में देश पांच ट्रिलियन इकॉनॉमी को कैसे प्राप्त करेगा, उसकी दिशा दिखायी गई है। आने वाले 10 साल के विजन के साथ हम मैदान में उतरे हैं।''