BREAKING NEWS

कर्नाटक संकट : सिद्धारमैया ने कहा-SC के पिछले आदेश के स्पष्टीकरण तक फ्लोर टेस्ट करना उचित नहीं◾कर्नाटक : CM कुमारस्वामी ने पेश किया विश्वास मत प्रस्ताव◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान- अनधिकृत कॉलोनियों के मकानों की होगी रजिस्ट्री◾मुंबई पुलिस ने दाऊद इब्राहिम ने भतीजे रिजवान कासकर को किया गिरफ्तार◾मायावती के भाई आनंद कुमार के खिलाफ IT विभाग की कार्रवाई, 400 करोड़ का प्लॉट जब्त◾येद्दियुरप्पा ने किया दावा, बोले- सौ फीसदी भरोसा है कि विश्वास मत प्रस्ताव गिर जाएगा◾22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर लॉन्च होगा चंद्रयान-2◾सरकार कुलभूषण जाधव की सुरक्षा और जल्द भारत लाने की कोशिश जारी रखेगी : जयशंकर ◾अयोध्या मामला : SC का आदेश, 2 अगस्त से होगी सुनवाई◾रामनाथ कोविंद ने नौ क्षेत्रीय भाषाओं में फैसले उपलब्ध कराने के प्रयासों की प्रशंसा की ◾कुलभूषण जाधव मामले में ICJ के फैसले की पकिस्तान PM इमरान ने की सराहना◾राहुल गांधी बोले- फिर उम्मीद जगी है कि जाधव एक दिन भारत लौटेंगे◾कर्नाटक : कांग्रेस विधायक रामालिंगा रेड्डी इस्तीफा लेंगे वापस, करेंगे सरकार के पक्ष में मतदान ◾कर्नाटक : कुमारस्वामी सरकार का फ्लोर टेस्ट आज◾हाफिज सईद की गिरफ्तारी का डोनाल्ड ट्रंप ने किया स्वागत, ट्वीट कर कही ये बात ◾पीएम मोदी सहित कई दिग्गज नेताओं ने कुलभूषण जाधव पर ICJ के फैसले का किया स्वागत◾कुलभूषण जाधव ICJ के फैसले पर सुषमा ने मोदी को कहा शुक्रिया◾ICJ में भारत की बड़ी जीत : 15-1 से कुलभूषण यादव के पक्ष में गया फैसला , फांसी पर रोक ◾ICJ : जाधव मामले में पाकिस्तान ने विएना संधि का उल्लंघन किया, अब लगा तगड़ा झटका◾प्रधानमंत्री मोदी ने 47 से 56 वर्ष आयु वर्ग के भाजपा सांसदों से की मुलाकात ◾

उत्तर प्रदेश

PM मोदी की केक वाली टिप्पणी पर मायावती ने किया तंज

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'साइज ऑफ द केक मैटर्स' वाली टिप्पणी पर तंज करते हुए रविवार को कहा कि जब देश की एक विशाल आबादी बेरोजगारी और दूसरे संकटों से जूझ रही है तो ऐसे में केक की बात करना प्रधानमंत्री की ‘‘निरंकुशता’’ को जाहिर करता है। 

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि जब देश की अधिसंख्य आबादी जबरदस्त महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी, बीमारी और अशिक्षा की समस्या से घिरकर रोजी-रोटी के लिए तरस रही है तो ऐसे में प्रधानमंत्री उनके लिए केक की बात कर रहे हैं। यह उनकी ‘‘निरंकुशता’’ को जाहिर करता है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में क्या देश उसी रास्ते पर चल रहा है जिस तरह फ्रांसीसी क्रांति के समय कहा गया था कि अगर लोगों के पास खाना नहीं है तो वे केक क्यों नहीं खाते। वास्तव में सरकार को जुमलेबाजी छोड़कर जनता के भले के लिए काम करना चाहिए। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वाराणसी में भाजपा के सदस्यता अभियान की शुरुआत करते हुए देश की अर्थव्यवस्था को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने पर अपनी बात रखी थी। 

उन्होंने कहा था, ''साइज ऑफ द केक मैटर्स। यानी जितना बड़ा केक होगा, उसका उतना ही बड़ा हिस्सा लोगों को मिलेगा। इसलिये हमने भारत की अर्थव्यवस्था को पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य तय किया है।'' 

मोदी ने कहा था, ''गरीबी हमारे दिल-दिमाग में एक नियति बन गयी है। सत्यनारायण की कथा भी एक बेचारे गरीब ब्राह्मण से शुरू होती है। हमें इस सोच से बाहर निकलना चाहिये। इसलिये कल के बजट में देश पांच ट्रिलियन इकॉनॉमी को कैसे प्राप्त करेगा, उसकी दिशा दिखायी गई है। आने वाले 10 साल के विजन के साथ हम मैदान में उतरे हैं।''