BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन- अधिकार और कर्तव्य एक सिक्के के दो पहलू◾दिल्ली कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 6,028 मामले, 31 लोगों की हुई मौत ◾RRB-NTPC रिजल्ट को लेकर बिहार में रेलवे ट्रैक पर उतरे छात्र, कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव ◾BJP के बागी नेता मौर्य की बेटी संघमित्रा का बयान, पिताजी की बात PM मोदी तक पहुंची, वह शीघ्र करेंगे समाधान ◾UP चुनाव में अब नहीं है धर्म का फंदा, बाबरी मस्जिद नहीं मुसलमानों के लिए राज्य का विकास अहम मुद्दा ◾Delhi NCR में सीजन का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया, सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहा तापमान◾उत्तराखंड: सतपाल महाराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, कांग्रेस हरक सिंह रावत पर दांव खेलने का कर रही विचार ◾धर्म या जिन्ना पर नहीं विकास पर हो बात, प्रियंका बोलीं- BJP नहीं जानती शासन, ध्रुवीकरण की कर रहे राजनीति ◾ नीरज चोपड़ा को पर‍म विशिष्‍ट सेवा मेडल से सम्‍मानित किया जाएगा, जानिए और किन लोगों को मिलेगा पुरस्कार◾देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾

मायावती का तीखा हमला- पैसे लेकर टिकट नहीं देती BSP, रैलियों में दिहाड़ी पर लोगों को लाती है कांग्रेस

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने शुक्रवार को कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि देश में अब पार्टी की हालत बेहद खराब हैं। उन्होने कहा कि कांग्रेस तो रैलियों में दिहाड़ी पर लोगों को लाती है। यह कांग्रेस का भीड़ जुटाने का कल्चर है।

कांग्रेस के पेट में दर्द, क्योंकि वह चुनावी जनसभाओं में भीड़ जुटाने के लिए दिहाड़ी पर लोग लाती है

मायावती ने शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस पर जमकर बरसी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पेट में दर्द इसलिए हो रहा है, क्योंकि वह चुनावी जनसभाओं में भीड़ जुटाने के लिए दिहाड़ी पर लोग लाती है। वहीं, दिहाड़ी मजदूर बहुत खुश होते हैं, क्योंकि बिना काम किए ही कांग्रेस की रैली में जाने पर ज्यादा पैसे मिलेंगे और खाना भी मिलेगा। इसी से कांग्रेस का हाल समझ में आता है। देश के साथ राज्यों में भी कांग्रेस की बहुत बुरी हालत है।

कांग्रेस को पहले अपना घर ठीक करना चाहिए

उन्होंने कहा कि यूपी में चुनाव लड़ाने के लिए कांग्रेस को प्रत्याशी तक नहीं मिलते हैं। बसपा कांग्रेस की तरह पैसे देकर चुनाव नहीं लड़ाती बल्कि जो खुद लड़ सके और जनाधार बढ़ा सके ऐसे उम्मदवारों को टिकट देती है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस को पहले अपना घर ठीक करना चाहिए।

टिकट के बदले किसी से पैसे नहीं लेती बसपा 

बसपा मुखिया ने कहा कि बसपा टिकट के बदले किसी से पैसे नहीं लेती है। यह अवश्य है कि सदस्यता के नाम पर कुछ लोगों से मजबूरी में एडवांस पैसे जमा कराने पड़ते हैं। जिससे दूसरे आर्थिक रूप से कमजोर प्रत्याशियों की मदद की जाती है। कार्यकर्ता चंदा कर भी आर्थिक रूप से कमजोर प्रत्याशियों की मदद करते हैं। हमारी पार्टी धन्ना सेठों की पार्टी नहीं है गरीबों और मजदूरों की पार्टी है। कांग्रेस तथा कुछ अन्य लोग इसका गलत प्रचार करते हैं। जिसका कोई खास लाभ उन्हें होने मिलने वाला नहीं है।

पहले उनके कार्यकर्ता उनका जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाते थे

मायावती ने कहा कि पहले उनके कार्यकर्ता उनका जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाते थे और उन्हें महंगे आभूषण और कपड़े लाख मना करने के बाद भी देते थे। इस पर उन्होंने इससे बिल्कुल मना कर दिया और कहा कि यदि वैसा चाहते ही हैं तो इसके बदले सदस्यता की किताब ले जाएं । अब हर बार उनका जन्मदिन इसी रूप में मनाया जाता है। कार्यकर्ता किताब ले जाते हैं और सदस्य बनाते हैं। इस तरह के आर्थिक सहयोग कि उनके यहां कोई मनाई नहीं है।

चुनाव लड़ने के लिए भी बड़े-बड़े पूंजीपतियों और धन्नासेठों से आर्थिक मदद नहीं लेती BSP

उन्होंने कहा कि देश में बीएसपी अकेली ऐसी पार्टी है जो कांग्रेस और अन्य पार्टियों की तरह अपने संगठन को चलाने और चुनाव लड़ने के लिए भी बड़े-बड़े पूंजीपतियों और धन्नासेठों से आर्थिक मदद नहीं लेती है। मायावती ने कहा कि इतना ही नहीं कांग्रेस तो धन लेने के एवज में उन्हें राज्यसभा आदि में भेजती है।

कांग्रेस की झूठी बातों में जनता नही आने वाली है

मायावती ने कांग्रेस की बुकलेट पर भी गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पहले अपना घर ठीक करे। कांग्रेस ने बुकलेट में बसपा का काफी दुष्प्रचार किया है। मायावती ने कहा कि कांग्रेस एक नही दो चार जितनी चाहे बुकलेट जारी करे, कांग्रेस की झूठी बातों में जनता नही आने वाली है। पंजाब में अकाली दल के साथ मिलकर बसपा तो कांग्रेस को बाहर करने के बड़े अभियान में लगी है।

स्वास्थ्य खराब होने पर उत्तराधिकारी का ऐलान कर देगी BSP

बसपा मुखिया मायावती ने एक बार फिर दोहराया कि उनका उत्तराधिकारी दलित वर्ग से ही होगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य खराब होने पर उत्तराधिकारी का ऐलान कर देंगी। ज्ञात हो कि कांग्रेस पार्टी ने यूपी के विधानसभा चुनाव को देखते हुए एक बुकलेट जारी की है। जिसमें भाजपा, सपा, बसपा सभी सरकारों को लेकर निशाना साधा है। कांग्रेस उस पुस्तिक प्रत्येक जिले में बांटने की तैयारी कर रही है। उसी में बसपा मुखिया मायावती का कैरीकेचर बनाकर उनके शासन को कुशासन बताया गया है। बताया गया है कि मायावती टिकट बेंचती है। भाजपा की बी टीम और एनएचआरएम घोटाले का भी उल्लेख किया गया है। इसे ब्लाक-ब्लाक पहुंचाने के लिए कांग्रेस योजना तैयार कर रही है।

राष्ट्रपति के दौरे से पहले किले में तब्दील हुआ अयोध्या, सुरक्षा के मद्देनजर प्रशासन अलर्ट