बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती का 63 वां जन्मदिन कल मंगलवार 15 जनवरी को लखनऊ और दिल्ली दोनों जगह मनाया जाएगा। इसके लिये पार्टी कार्यकर्ता व्यापक तैयारियों में जुटे हैं। राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सोमवार देर रात मायावती के घर पहुंचे और उन्हें जन्मदिन की अग्रिम बधाई दी। दोनों नेता करीब एक घंटे तक साथ रहे।

मायावती का जन्मदिन हर साल ‘जन कल्याणकारी दिवस’ के तौर पर मनाया जाता है। 15 जनवरी को सुबह लखनऊ में पार्टी कार्यालय पर जन्मदिन मनाया जाएगा। दोपहर बाद वह दिल्ली चली जाएंगी। वहां जन्मदिन समारोह में सहयोगी दलों के नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है।

मायावती अखिलेश के सपा-बसपा गठबंधन की घोषणा के बाद अब कयास लगाये जा रहे हैं कि जन्मदिन के अवसर पर वह सीटों के बंटवारे का ऐलान कर सकती हैं। गौरतलब है कि दो दिन पहले साझा संवाददाता सम्मेलन में मायावती ने सीटों के बंटवारे पर जल्दी घोषणा करने की बात कही थी।

akhilesh_mayawati

मायावती के जन्मदिवस से पहले वीडियो गीत मचा रहा धूम

बसपा प्रमुख जन्मदिन के दिन सामान्य तौर पर अपने कार्यालय पर प्रदेश पदाधिकारियों और लखनऊ मंडल के पदाधिकारियों से मिलती हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि बसपा के सहयोगी दलों सपा, जद(एस), छत्तीसगढ़ कांग्रेस, इनेलो, राजद, तृणमूल कांग्रेस सहित कई दलों के नेताओं को भी जन्मदिन में शामिल होने का न्योता दिया गया है। इन सभी दलों के नेताओं के दिल्ली में जुटने की संभावना को देखते हुए ही जन्मदिन लखनऊ के साथ-साथ दिल्ली में भी मनाने का फैसला लिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती की संयुक्त रैलियों का कार्यक्रम भी तय हो चुका है। दोनों ही प्रत्येक मंडल में रैलियां करेंगे। बसपा सुप्रीमो मायावती के जन्मदिन को लेकर शहर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने कई जगह पर उनके होर्डिंग और पोस्टर लगाये हैं जिसमें उनके जन्मदिन की बधाईयों के संदेश दिये गये हैं।