वाराणसी : कांग्रेस महासचिव और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री नरेंद, मोदी पर‘हमला’करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद, सरकार हर मोर्चों पर नाकाम रही है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार के लगभग चार वर्षों के कार्यकाल में जम्मू-कश्मीर में जितने आतंकी हमले हुए हैं, उतने कभी नहीं हुए थे। श्री मोदी का नाम लिए बगैर उन पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि ’56 इंच के सीने’ वाले अब कहां हैं।

स्थानीय नाटकमंडली सभागार में आज कांग्रेस के मंडल स्तरीय एक दिसवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद, सरकार बेरोजगारों को रोजगार देने और महंगाई कम करने के मामले में पूरी तरह से विफल साबित हुई है। किसानों एवं नौजवानों से अनेक बड़-बड़ वादे किये गए, लेकिन लगभग चार वर्षों में एक पर भी अमल नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि सर्फ टीवी चैनलों पर झूठी बातों से देश-विदेश में ‘अच्छे दिन’ का भ्रम फैलाया जा रहा है। सम्मलेन के बाद श्री आजाद ने संवाददाताओं से कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था ठीक नहीं है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बगैर नाम लिये उन्होंने कहा कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से यहां के लोग अपने को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘न तो महिलाएं सुरक्षित हैं और न दलित और अल्पसंख्यक। उन पर लगातार हमले हो रहे हैं। हर कोई डरा हुआ और असुरक्षित महसूस कर रहा है।’ उन्होंने केंद, सरकार को‘‘टेलीविजन वाली सरकार’ बताते हुए कहा कि टीवी चैनलों के माध्यम से उन चीजों का बखान किया जा रहा है, जिसके बारे में कोई काम नहीं किया गया। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी भाजपा की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ सड़कों पर उतरकर जोरदार आंदोलन करेगी। कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा के झूठे वादों का पर्दाफाश करने के लिए घर-घर जाएंगे। सम्मेलन में वाराणसी के पूर्व सांसद डॉ. राजेश मिश्र, पूर्व विधायक अजय राय, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा के अलावा महापौर का चुनाव लड़ चुकीं शालिनी यादव, रामनगर पालिका की अध्यक्ष रेखा शर्मा, राधवेंद, चौबे सहित अनेक नेताओं एवं बड़ संख्या में पार्टी कार्यकर्ता शामिल हुए।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।