BREAKING NEWS

प्रधानमंत्री मोदी के आगमन से पहले छावनी में तब्दील हुआ प्रयागराज, जानिये 'विश्व रिकार्ड' बनाने का पूरा कार्यक्रम ◾ ताहिर हुसैन के कारखाने में पहुंची दिल्ली फोरेंसिक टीम, जुटाए हिंसा से जुड़े सबूत◾जानिये कौन है IB अफसर की हत्या के आरोपी ताहिर हुसैन, 20 साल पहले अमरोहा से मजदूरी करने आया था दिल्ली ◾एसएन श्रीवास्तव नियुक्त किये गए दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर, कल संभालेंगे पदभार ◾दिल्ली हिंसा : मरने वालों का आंकड़ा हुआ 39, कमिश्नर एस. एन. श्रीवास्तव ने किया हिंसाग्रस्त इलाकों का दौरा ◾जुमे की नमाज़ के बाद जामिया में मार्च , दिल्ली पुलिस के लिए चुनौती भरा दिन◾CAA को लेकर आज भुवनेश्वर में अमित शाह करेंगे जनसभा को सम्बोधित ◾CAA हिंसा : उत्तर-पूर्वी दिल्ली में अब हालात सामान्य, जुम्मे के मद्देनजर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम कायम◾CAA को लेकर BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले - कांग्रेस जो नहीं कर सकी, PM मोदी ने कर दिखाया◾Coronavirus : चीन में 44 और लोगों के मौत की पुष्टि, दक्षिण कोरिया में 2,000 से अधिक लोग पाए गए संक्रमित ◾भारत ने तुर्की को उसके आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने से बचने की सलाह दी◾राष्ट्रपति कोविंद 28 फरवरी से 2 मार्च तक झारखंड और छत्तीसगढ़ के दौरे पर रहेंगे◾संजय राउत ने BJP पर साधा निशाना , कहा - दिल्ली हिंसा में जल रही थी तो केंद्र सरकार क्या कर रही थी ?◾PM मोदी 29 फरवरी को बुंदेलखंड एक्स्प्रेस-वे की रखेंगे नींव◾दिल्ली हिंसा : SIT ने शुरू की जांच, मीडिया और चश्मदीदों से मांगे 7 दिन में सबूत◾PM मोदी प्रयागराज में 26,526 दिव्यांगों, बुजुर्गों को बांटेंगे उपकरण◾ओडिशा : 28 फरवरी को अमित शाह करेंगे CAA के समर्थन में रैली को संबोधित◾SP आजम खान के बेटे अब्दुल्ला की विधानसभा सदस्यता खत्म◾AAP पार्टी ने पार्षद ताहिर हुसैन को किया सस्पेंड, दिल्ली हिंसा में मृतक संख्या 38 पहुंची◾दिल्ली हिंसा : अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई सनसनीखेज खुलासे, चाकू मारकर की गई थी हत्या◾

स्मृति ईरानी बोली- अमेठी में मिले तीन लाख से ज्यादा वोटों ने मुझे बताया कि कुछ तो दिक्कत है

कांग्रेस के गढ़ अमेठी से पार्टी के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी को हराने वाली केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का कहना है कि 2014 में उन्होंने देखा कि संसदीय क्षेत्र के लोग खाने के लिए मिट्टी से अनाज के दाने चुन रहे थे। उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में हार के बावजूद संसदीय सीट से मिले तीन लाख से ज्यादा वोटों ने उन्हें समझाया कि इलाके में कुछ तो दिक्कत है और लोगों को मदद की जरुरत है। 

ईरानी ने कहा, "अमेठी की बात आने पर मुझे कुछ भी मजाक नहीं लगता। 2014 में मैंने लोगों को मिट्टी से अनाज चुनते हुए देखा है।" उन्होंने कहा, "जब लोगों के पास खाने को ना हो और बतौर नेता आप उनके कंधे पर खड़े होकर प्रधानमंत्री बन जाएं, मुझे इससे चैन नहीं पड़ता।"

केन्द्रीय मंत्री ने 'देवी अवार्ड' वितरण समारोह के दौरान यह बातें कहीं। यह सम्मान समारोह न्यू इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप ने एसोचैम के साथ मिलकर शुरू किया है। इस दौरान ईरानी से सवाल किया गया था कि पांच साल पहले 2014 में चुनाव हारने के बाद वह 2019 में कैसे जीत गयीं। 

स्मृति ईरानी बोली- दुश्मन देश को ज्यादा भाते हैं राहुल

अपनी जीत का श्रेय 2014 के चुनाव में मिले तीन लाख से ज्यादा वोटों को देते हुए ईरानी ने कहा, "2014 में मुझे मिले वोट इसका संकेत थे कि लोगों को मदद की जरुरत है। मैं उन्हें अकेला नहीं छोड़ना चाहती थी।" उन्होंने कहा, "मैं वहां जीतने के लिए नहीं रूकी थी।"

उन्होंने कहा, "मैं संभवत: इसलिए जीत गई क्योंकि पांच साल में कभी भी मैंने अमेठी के लोगों को अपना वोट बैंक नहीं समझा। मैं उनसे अपने साथी या परिवार के सदस्य के रूप में जुड़ी।" केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि वह अमेठी के 25 लाख लोगों के सामने खड़ी चुनौतियों का हल खोजना चाहती हैं।

ईरानी ने कहा कि वह ऐसी ही राजनीति करती हैं। 2019 में अमेठी से टिकट मिलने की कोई गारंटी नहीं होने के बावजूद वह पांच साल तक वहां रूकीं और लोगों के साथ मिलकर काम करती रहीं क्योंकि वह ऐसी ही राजनीति में विश्वास करती हैं।