BREAKING NEWS

LIVE : निगमबोध घाट पंहुचा शीला दीक्षित का पर्थिव शरीर, कुछ देर में शुरू होगा अंतिम संस्कार◾मुंबई : ताज होटल के पास की इमारत में लगी आग, एक की मौत ◾CM ममता ने शहीदों को किया याद, लोगों से लोकतंत्र ‘‘बचाने’’ का किया आह्वान ◾आडवाणी, स्वराज ने शीला दीक्षित को दी श्रद्धांजलि ◾सोमवार को 2 बजकर 43 मिनट पर होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण◾झारखंड : गुमला में डायन होने के शक में 4 लोगों की पीट-पीटकर हत्या◾कारगिल शहीदों की याद में दिल्ली में हुई ‘विजय दौड़’, लेफ्टिनेंट जनरल ने दिखाई हरी झंडी◾ आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾

उत्तर प्रदेश

भूख से तड़प रहा था 8 माह का बच्चा, मां ने गला दबाकर ली मासूम की जान

उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में दिल दहला देने वाला एक मामला सामने आया है। गरीबी और आर्थिक तंगी के चलते दूध का इंतजाम नहीं कर पाने पर महिला ने अपने सबसे छोटे बेटे अहद की गला दबाकर हत्या कर दी। मौत के बाद वह उसके शव के बगल में बैठी रही।

कुछ महीने पहले उसके 8 महीने के बेटे अहद को खून में संक्रमण हो गया था। जिसके बाद महिला ने अपने जेवरात और घर का सामान बेचकर 90 हजार रुपये से अपने बेटे का इलाज आगरा के जिला अस्पताल में करवाया। घर के सारे रुपए पैसे खत्म होने के बाद 3-4 दिन से उसके पास एक रुपया भी नहीं था, की वह अपने दूध मुहे बच्चे के लिए दूध खरीद सकें। मां से जब भूख से बिलखते बच्चे का रोना नहीं सुना गया तो उसने गला घाेंटकर उसे हमेशा के लिए शांत कर दिया। 

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक, छिबरामऊ में रह रही महिला का मुंबई में रह रहे उसके पति शाहिद से किसी बात पर झगड़ा हो गया था। जिस कारण महिला का पति 4-5 महीने से घर पर एक रुपया भी नहीं भेज रहा था। इस मुश्किल हालात में रुखसार किसी तरह अपने बच्चों का पेट भर रही थी। रुखसार का आठ माह का बेटा अहद पिछले तीन दिन से भूखा था। 

रुखसार बेटे के लिए दूध का इंतजाम नहीं कर पा रही थी। तीनों बच्चे उससे बार-बार खाना खाने की  मांग कर रहे थे। बुखार से तपते बेटे को लेकर रुखसार डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन पुराना उधार चुकाए बिना डॉक्टर रुक्सार को दवा देने को तैयार नहीं हुए। इस बीच अहद भूख लगने पर दूध पीने के लिए भी बिलबिला रहा था। पुलिस की पूछताछ में रुखसार ने बताया कि वह तीन दिन से भूखे बच्चे के लिए दूध का इंतजाम भी नहीं कर पा रही थी, इसलिए गला दबाकर मार डाला।

मौके पर पहुंची प्रदेश पुलिस ने बच्चे के शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टपार्टम करवाया और शव को परिजनों को सौंप दिया। घटनास्थल पर मौजूद पुलिस भी इस वारदात के बारे में सुनकर दहल गई। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बच्चे की हत्या की पुष्टि हुई है। छिबरामऊ थाने के इंस्पेक्टर बलराम मिश्रा के अनुसार, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आते ही कानूनी कार्रवाई की जाएगी।