BREAKING NEWS

वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए पूरी कोशिश जारी : एसआईआई प्रमुख◾गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, टीका उत्पादन बढ़ाने के दिए सुझाव◾भारत में जुलाई तक टीकों की 51.6 करोड़ खुराकें दी जा चुकी होंगी : हर्षवर्धन◾कांग्रेस ने गुजरात जैसे राज्यों में कोविड-19 संबंधी मौतें कम दिखाने का लगाया आरोप◾मोदी की आलोचना करने वाले पोस्टर चिपकाने पर 25 प्राथमिकी दर्ज, 25 लोग गिरफ्तार◾आधार कार्ड न होने की वजह से टीका लगाने, आवश्यक सेवाएं देने से इनकार नहीं किया जा सकता : UIDAI◾चक्रवाती तूफान पर PM मोदी ने की उच्चस्तरीय मीटिंग, गृह मंत्रालय ने तैनात की एसडीआरएफ की टुकड़ी◾स्टेराइड को गलत तरीके से लेने या दुरूपयोग से बढ़ता है फंगल इन्फेक्शन का खतरा : रणदीप गुलेरिया◾कोविड-19 पर चिकित्सीय प्रबंधन दिशा-निर्देशों से हटाई जा सकती है प्लाज्मा थेरिपी, जानिये बड़ी वजह ◾उत्तर प्रदेश में 24 मई तक बढ़ा कोरोना कर्फ्यू, एक करोड़ गरीबों को राशन और नकदी देगी योगी सरकार◾धनखड़ ने नंदीग्राम का किया दौरा, हिंसा पीड़ितों की स्थिति पर बोले - ज्वालामुखी पर बैठा है राज्य ◾IMD ने जारी की चेतावनी - मजबूत हुआ ‘तौकते’ तूफान, गुजरात के लिए जारी किया हाई अलर्ट ◾मलेरकोटला पर योगी के ट्वीट को अमरिंदर ने बताया भड़काऊ, कहा- ये पंजाब में नफरत फैलाने की कोशिश ◾केंद्र सरकार की विनाशकारी वैक्सीन रणनीति तीसरी लहर सुनिश्चित करेगी : राहुल गांधी◾क्या B1.617.2 वैरिएंट है कोरोना का सबसे खतरनाक रूप, ब्रिटिश एक्सपर्ट का दावा- इसमें वैक्सीन भी प्रभावी नहीं◾गांवों में संक्रमण को रोकने के लिए PM मोदी ने घर-घर टेस्टिंग पर दिया जोर, कहा- स्वास्थ्य संसाधनों पर फोकस जरूरी◾महामारी के समय सारे भेद भूलकर और दोषों की चर्चा छोड़कर टीम भावना से कार्य करने की जरुरत : मोहन भागवत ◾UP: लॉकडाउन के चलते सुधर रहे हालात, पिछले 24 घंटों में 12,547 नए मामले, 281 मरीजों ने तोड़ा दम◾ब्रिटेन ने घटाया कोविशील्ड की दूसरी खुराक का गैप, अब UK में 8 हफ्ते बाद लगेगी वैक्सीन की दूसरी डोज◾ताबड़तोड़ रैलियों के बाद पश्चिम बंगाल पर टूटा कोरोना का कहर, 16 मई से 30 मई तक लगा संपूर्ण लॉकडाउन◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन जारी, बॉर्डर पर दिखेगी किसानों की परंपरागत होली

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है। इस बीच त्योहारों की तैयारियां भी बॉर्डर पर दिखने लगी हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर होली के गीत गाते हुए बुलंदशहर से किसान पहुंचे हुए हैं। हाल ही में भारतीय किसान यूनियन द्वारा आयोजित मासिक पंचायत के बाद से ही होली के गीतों का सिलसिला लगातार जारी है। आगामी होली त्योहार के कारण आंदोलन स्थल पर ढोल की थाप और होली के मौके पर गाए जाने वाले लोकगीत आपको सुनने को मिलेंगे।

बुलंदशहर के भटौना गांव से दर्जनों ट्रैक्टरों में सवार होकर किसान आंदोलन स्थल पर पहुंचे और इस दौरान उन्होंने जमकर गाना बजाना किया। ढोल की थाप पर किसान होली के लोकगीत गा-गाकर झूमते देखे गए। बुलंदशहर से बॉर्डर पहुंचे एक किसान ने कहा कि देशभर में होली मनाई जाती है लेकिन बुलंदशहर की होली देशभर में प्रसिद्ध है। यहां करीब 700 वर्ष प्राचीन अंदाज में होली मनाई जाती है। दरअसल इस होली में मंत्रोच्चारण के साथ ढोल की थाप सुनने को मिलती है। किसानों का मानना है कि इस तरह से हर तरह की बुरी शक्तियां दूर चली जाती हैं।

गांव में महीने भर पहले से ही इस त्योहार को मनाना शुरू कर दिया जाता है। यही कारण है कि किसान गांव छोड़ बॉर्डर पहुंच रहे हैं ताकि होली मनाई जाए। वहीं आंदोलन स्थल पर बैठे किसान पहले ही यह साफ कर चुके हैं कि इस बार होली बॉर्डर पर मनाई जाएगी। हालांकि आंदोलन के दौरान कई किसानों की मौत हो चुकी है, इसलिए इस पर भी विचार किया जा रहा है कि इस बार रंगों की जगह मिट्टी से ही होली मनाई जाय और इस बात का भी ध्यान रखा जाए कि किसी तरह का कोई हुड़दंग नहीं होगा।

शिवसेना ने किया BJP पर पलटवार, कहा- फडणवीस की मोदी-शाह से मुलाकात के बाद आया परमबीर सिंह का पत्र