BREAKING NEWS

CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾यूपी चुनाव : BSP प्रमुख फरवरी से करेंगी चुनाव प्रचार का आगाज, इस जिले में होगी पहली जनसभा ◾कर्नाटक: मंत्रिमंडल विस्तार पर मचा बवाल, BJP नेता अपना रहे बागी रुख, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾यूपी: CM योगी ने अखिलेश पर किया जुबानी हमला, कहा- सपा के नेता समाजवादी नहीं बल्कि तमंचावादी हैं ◾दिल्ली: कोरोना के दैनिक मामलों में दर्ज हुई गिरावट, CM केजरीवाल बोले- जल्द मिलेगी प्रतिबंधों से राहत ◾दिल्ली में शराब प्रेमियों के लिए अच्छी खबर, सालभर में 21 की जगह अब सिर्फ 3 Dry Day◾यूपी: AIMIM ने उमैर मदनी को मैदान में उतारा, चुनावी घमासान में तेज हुई मुस्लिम वोटों के लिए खींचतान◾फिर आमने-सामने शिवसेना और BJP, राउत बोले-हिंदुत्व के मुद्दे पर सबसे पहले हमने लड़ा था चुनाव◾कांग्रेस को लगेगा बहुत बड़ा झटका! स्टार प्रचारक RPN हो सकते हैं BJP में शामिल, स्वामी मौर्य की बढ़ेंगी मुश्किलें ◾राष्ट्रपति और PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी हिमाचल के स्थापना दिवस पर राज्यवासियों को बधाई◾BJP सांसद गौतम गंभीर हुए कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की टेस्ट कराने की अपील ◾मायावती का विरोधियों पर निशाना, कहा- बसपा को छोड़ बाकी सभी सरकारों ने किया राजनीति का अपराधीकरण ◾महाराष्ट्र : पुल से गिरी कार, भीषण सड़क हादसे में BJP विधायक के बेटे समेत 7 छात्रों की मौत◾Corona Update : कोरोना केस में गिरावट, 2 लाख 55 हज़ार नए मामले, एक्टिव केस 22 लाख से ज्यादा◾

सहारनपुर के गांवों में वैक्सीनेशन पर अफवाहों का ज़ोर, अब तक लगभग 4 लाख ने लगवाया टीका

देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान ज़ोरो पर है, बावजूद कई ग्रामीण इलाकों में लोग टीका लेने से बचते नजर आ रहे हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में अफ़वाहों के चलते अभी तक मात्र चार लाख 47 हजार 70 लोगों ने ही टीका लगवाया है। प्रशासन का कहना है कि लोग कोरोना से बचाव के लिए गंभीर नहीं है।

नवनियुक्त मुख्य चिकित्साधिकारी संजीव मांगलीक ने शुक्रवार को बताया कि गांवों में टीकाकरण को लेकर लोग तरह-तरह की भ्रांतियों में फंसे हैं और टीकाकरण को लेकर गंभीर नहीं हैं। उन्होंने सभी से टीका लगाने की अपील करते हुए कहा कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगावाना जरुरी है।

संजीव मांगलीक ने हाल ही में यहां कार्यभार ग्रहण किया था और वह जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण कर रहे हैं। उन्होंने दो दिन के दौरान नांगल, देवबंद, बड़गांव और अम्बेहटा चांद के स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया।

उन्होंने बताया कि जिले में 19 सीएचसी और 40 पीएचसी हैं जबकि दो नए पीएचसी और बनने वाले हैं। सभी सीएचसी पर आक्सीजन की सुविधा बढ़ई जा रही है। एक माह के भीतर जिले के सभी सीएचसी आक्सीजन की सुविधा से लैस हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि गांवों में टीकाकरण को प्रोत्साहित करने के लिए ग्राम प्रधान, लेखपाल, आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्त्ता और स्वास्थ्य विभाग के लोग ग्रामीणों में कोरोना वैक्सीन को लेकर की जा रही शंकाओं का समाधान करेंगे और प्रत्येक गांव में टीकाकरण का सघन अभियान चलाया जाएगा।

सीएमओ ने देवबंद सीएचसी के प्रभारी डॉ. द्रराज सिंह को हिदायत दी कि वह सीएचसी पर आने वाले लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करें। किसी को भी किसी प्रकार की असुविधा न हो। देवबंद में साफ-सफाई की व्यवस्था से सीएमओ असंतुष्ट नजर आए। उन्होंने महिला अस्पताल के लिए जनरेटर की व्यवस्था करने को कहा।

डॉ. संजीव मांगलीक ने बताया कि तीन लाख 88 हजार 809 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी हैं और 58 हजार 261 लोग दूसरी डोज लगवा चुके हैं। सहारनपुर जिले में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था और 10 मई से 18 से 44 साल के लोगों को वेक्सीन लग रही है। 

जिले में गुरूवार को 15 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य था जबकि 8 हजार 683 लोगों ने ही टीका लगवाया। जिले में 104 केंद्रों पर टीके लगाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिले में संक्रमण की रफ्तार सुस्त पड़ गई है और कोरोना के करीब 300 रोगी ही बचे हैं। दूसरी लहर में गुरूवार का दिन ऐसा रहा जब सबसे कम केवल 10 नए मरीज ही मिले।