BREAKING NEWS

PM नरेंद्र मोदी ने की सेनेगल के राष्ट्रपति मैकी सॉल के साथ द्विपक्षीय बातचीत◾अखिलेश यादव ने BJP सरकार पर लगाया भय फैलाकर लोकतंत्र चलाने का आरोप◾कश्मीर मुद्दे पर आज पाकिस्तान को संबोधित करेंगे इमरान खान◾अमित शाह ने की नक्सलियों के खिलाफ चल रहे अभियानों की समीक्षा, बैठक में कई राज्यों के CM भी रहे शामिल◾INX मीडिया केस: अग्रिम जमानत ठुकराए जाने के खिलाफ चिदंबरम की अपील पर SC का सुनवाई से इनकार◾पूर्व PM मनमोहन सिंह की हटाई गई SPG सुरक्षा, अब मिलेगा सिर्फ Z+ कवर◾मायावती ने कांग्रेस पर बोला तीखा हमला, Article 370 का समर्थन करने की बताई वजह◾सुबोधकांत सहाय बोले- कांग्रेस अनुच्छेद 370 हटाने का नहीं, उसके तरीके का विरोध कर रही◾PM मोदी आज G-7 सम्मेलन के दौरान डोनाल्ड ट्रंप से करेंगे मुलाकात, कश्मीर मुद्दे पर चर्चा संभव◾अधीर रंजन चौधरी का विवादित बयान, बोले- सत्यपाल मलिक को J-K बीजेपी का अध्यक्ष बना देना चाहिए◾कुमारस्वामी ने मुझे दुश्मन समझा और इससे सारी समस्याएं पैदा हुई : सिद्धारमैया◾आईएनएक्स मीडिया मामले में चिदंबरम की अर्जी पर SC में सुनवाई आज, हाईकोर्ट के आदेश को दी है चुनौती◾मंदी को लेकर शत्रुघ्न सिन्हा का केंद्र सरकार पर हमला, कहा-इस गड़बड़ी का कारण क्या है? ◾जसप्रीत बुमराह की आंधी में उड़ा वेस्ट इंडीज, एंटीगा टेस्ट में 318 रन से जीता भारत◾राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं ने सिंधू को शानदार जीत पर बधाई दी ◾PM मोदी ने संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुतारेस के साथ ‘सार्थक चर्चा’ की◾J&K : केंद्र सरकार ने राज्य के लिए की 85 विकास योजनाओं की शुरुआत◾फ्रांस में PM मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री जॉनसन से की मुलाकात◾विपक्ष, प्रेस को जम्मू कश्मीर में लोगों पर बल के बर्बर प्रयोग का अहसास हुआ : राहुल◾जेटली के निधन से भाजपा में ‘दिल्ली-4’ दौर हुआ समाप्त ◾

उत्तर प्रदेश

कांग्रेस MLA पर हमले के बाद रायबरेली पहुंचीं प्रियंका, प्रशासन और UP सरकार पर साधा निशाना

जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान को लेकर हुई हिंसा के बाद बुधवार को अचानक रायबरेली पहुंची कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने स्थानीय प्रशासन और भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने इस मुद्दे पर प्रदेश के राज्यपाल और चुनाव आयोग से मिलने की बात भी कही।

मंगलवार को सदर विधायक और जिला पंचायत सदस्यों पर हमले के बाद बुधवार को प्रियंका फुरसतगंज हवाई अड्डे पहुंची। वह वहां से सीधे तिलक भवन कांग्रेस कार्यालय पहुंची जहां उन्होंने जिला पंचायत सदस्यों से मुलाकात की। वह सदर विधायक अदिति सिंह से भी मिलीं। इस हमले में विधायक अदिति सिंह तथा कई अन्य लोग घायल भी हो गये थे।

\"Aditi

प्रियंका ने दावा किया, \"प्रशासन ने किसी भी जिला पंचायत सदस्य की मदद नहीं की और जब वह कारवां आ रहा था तब भी प्रशासन ने कुछ नहीं किया। खुले आम कट्टे, पत्थर और लाठियों से जिला पंचायत सदस्यों को मारा गया। सदस्यों को गाड़ी से घसीटकर मारा गया। यह कैसा लोकतंत्र चल रहा है। राज्य में भाजपा की सरकार है और इस तरह की घटनाएं हो रही हैं।\"

उन्होंने कहा, \"प्रशासन बैठा हुआ है और हम पूरी तरह से कानूनी कार्रवाई करेंगे। कांग्रेस के नेता राज्यपाल से मुलाकात कर रहे हैं और दिल्ली में चुनाव आयोग से मिल रहे हैं। जितना भी हमारा राजनीतिक जोर है, हम लगायेंगे। पूरी कानूनी कार्रवाई करेंगे, अगर प्रशासन के खिलाफ भी एफआईआर करनी होगी तो हम करेंगे। यह लोकतंत्र पर हमला है , यह रायबरेली पर हमला है।\"

\"priyanka

गौरतलब है कि रायबरेली में मंगलवार को जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान को लेकर हुई हिंसा में कांग्रेस की सदर विधायक अदिति सिंह समेत कई लोग घायल हो गये थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश प्रताप सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के लिये कुछ सदस्य आ रहे थे।

आरोप है कि पंचायत सदस्यों की अगुवाई कर रहे सदस्य राकेश अवस्थी को बछरावां की सीमा में निगोहा थाना क्षेत्र में स्थित टोल प्लाजा पर दबंगों ने मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। वहीं, रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने आरोप लगाया कि वह मतदान का जायजा लेने जा रही थीं, तभी हरचंद थाना क्षेत्र में उनकी कार को पीछे से टक्कर मारी गयी, जिससे वह पलट गई। उन्हें बायें हाथ में चोट आयी है। इसके अलावा कार में सवार कई अन्य लोग भी घायल हो गये। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

\"Aditi

टोल प्लाजा पर जिला पंचायत सदस्यों पर हमले की सूचना के बाद जिलाधिकारी नेहा शर्मा और पुलिस अधीक्षक सुनील सिंह ने टोल प्लाजा पहुंचकर घटना की जानकारी ली। घटना की सूचना पर पुलिस महानिरीक्षक भी रायबरेली पहुंचे। अदिति ने इस हमले के लिये जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश प्रताप सिंह को दोषी ठहराते हुए आरोप लगाया है कि हमलावर हथियार, पत्थर और आयरन की छड़ें लिये हुए थे। इस घटना पर शासन-प्रशासन चुप है।

गौरतलब है कि अवधेश विधान परिषद सदस्य और इस बार रायबरेली से भाजपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़े दिनेश प्रताप सिंह के भाई हैं। इस बीच, अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के लिये पीठासीन अधिकारी नियुक्त किये गये अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिद्धार्थ सिंह ने पंचायती राज विभाग के प्रमुख सचिव को भेजे गये पत्र में कहा है कि जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर होने वाली बैठक की कार्यवाही कोरम पूरा नहीं होने की वजह से समाप्त घोषित कर दी गयी है।