BREAKING NEWS

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 86,508 नए मामले दर्ज, संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख से अधिक◾ड्रग्स केस : बॉलीवुड की ड्रग्स मंडली का होगा खुलासा, सिमोन खंबाटा से NCB की पूछताछ जारी◾भारत और चीन तनाव के बीच आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 43 पुलों का करेंगे उद्घाटन◾वैश्विक स्तर पर कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 करोड़ 17 लाख से अधिक, 9 लाख 75 हजार से अधिक लोगों की मौत◾ ONGC प्लांट में लगी भयंकर आग, दमकल विभाग मौके पर ◾आज का राशिफल (24 सितम्बर 2020)◾भारत ने किया स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल परीक्षण◾म्यांमार के राजदूत ने की विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला से मुलाकात◾KKR vs MI (IPL 2020) : रोहित की धमाकेदार पारी, मुंबई इंडियन्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराया◾कोरोना वायरस संक्रमण से रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी का निधन, PM मोदी ने दुख व्यक्त किया◾कोविड-19 के खिलाफ ‘मेरा परिवार- मेरी जिम्मेदारी’ अभियान शुरू किया गया - उद्धव ठाकरे◾KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने मंदिर के शिलान्यास के लिए पीएम मोदी को किया आमंत्रित, शुभ तिथियां भेजी

उत्तर प्रदेश में मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम की नगरी अयोध्या में भव्य राम मंदिर के लिये भूमि पूजन की तारीख का अंतिम फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर छोड़ दिया गया है। मंदिर निर्माण के लिये गठित श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक में शनिवार को भूमि पूजन की तारीख समेत अन्य बिंदुओं पर विचार विमर्श किया गया। ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास की अध्यक्षता में करीब चार घंटे चली बैठक के बाद महामंत्री चंपत राय ने पत्रकारों को बताया कि भूमि पूजन के लिये कुछ तिथियां सुझायी गयी है लेकिन देश और देश की सीमाओं की परिस्थितियों के साथ कोरोना महामारी के संकट को देखते हुये इस पर अंतिम फैसला प्रधानमंत्री कार्यालय पर छोड़ दिया गया है। 

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी हालात को ध्यान में रखकर तारीख पर अंतिम फैसला देंगे। इस महत्वपूर्ण आयोजन के लिये प्रधानमंत्री के आने के कार्यक्रम में कम से कम 15 दिन तो लगेंगे ही। जब कार्यक्रम तय हो जायेगा, तो आठ दस रोज पहले इसे मीडिया के माध्यम से सार्वजनिक कर दिया जायेगा। 

इस बीच विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि भूमि पूजन के लिये बैठक में 29 जुलाई,तीन अगस्त और पांच अगस्त की तारीख सुझायी गयी है। इनमें तीन या पांच अगस्त को भूमि पूजन होने की अत्यधिक संभावना है। बैठक में यह भी चर्चा हुयी कि मंदिर तीन गुंबद के बजाय अब पांच गुबंद का होगा और मंदिर की ऊंचाई 161 फिट होगी। 

बैठक पहले रामलला मंदिर परिसर में होनी थी लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुये आयोजन स्थल सर्किट हाउस में किया गया। बैठक में ट्रस्ट की भवन निर्माण समिति के अध्यक्ष एवं प्रधानमंत्री के सलाहकार रहे नृपेंद्र मिश्र, ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास,महासचिव चंपत राय, बीएसएफ के सेवानिवृत्त डीजी एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सुरक्षा प्रभारी रहे केके शर्मा,सदस्य डा अनिल मिश्रा,अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी,अयोध्या राजा बृजेन्द, मोहन मिश्र, मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा,आईजी संजीव गुप्ता,एसएसपी आशीष तिवारी ने भाग लिया। इसके अलावा ट्रस्ट के सदस्य के पराशरणन,पाथ देवानंद सरस्वती और स्वामी विश्व प्रसन्नजीत वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये बैठक में हिस्सा लिया। 

सूत्रों ने बताया कि भूमि पूजन की तारीख तय होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,गृहमंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत को कार्यक्रम में भाग लेने के लिये निमंत्रण पत्र भेजा जायेगा। उन्होने बताया कि ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास को लेने विहिप के महासचिव चंपत राय खुद मणिदास छावनी गये। सूत्रों का कहना है कि मंदिर से संबंधित किसी भी जानकारी को साझा नहीं करने से मंहत नृत्य गोपाल दास सरकार और जिला प्रशासन से नाराज थे। उनका कहना था कि मंदिर निर्माण को लेकर भूमि समतलीकरण,खुदाई के दौरान मिले अवशेष अथवा मंदिर निर्माण से जुड़ी जानकारी उनको नहीं बतायी जाती है और न ही उनसे कोई राय मशवरा लिया जाता है।

उत्तर प्रदेश : कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद बोले- प्रदेश में अपराध के भुक्तभोगी अधिकतर ब्राह्मण क्यों हैं